Menu

बीकानेर समाचार

पेयजल समस्या से परेशान कांग्रेसी कार्यकर्ता चढ़े टंकी पर

बीकानेर, बीकानेर में समयबद्ध तरीके से जलापूर्ति नहीं होने से लोग परेशान है. इसी के चलते दो कांग्रेसी कार्यकर्ता आनंद जोशी व नवनीत आचार्य नत्थूसर गेट स्थित जलदाय विभाग की टंकी पर चढ़ गए. घटना की जानकारी मिलते ही नया शहर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और समझाइश की कोशिश की. लेकिन दोनों जलदाय विभाग के अधिकारियों से वार्ता करने की बात पर अड़े रहे. साथ ही दोनों ने चेतावनी दी कि जब तक जलदाय विभाग के अधिकारी आकर उनसे वार्ता नहीं करते और कोई सकारात्मक आश्वासन नहीं देंगे तब तक वे टंकी से नहीं उतरेंगे. काफी देर बाद जलदाय विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे. अधिकारियों से वार्ता के दोनों युवक टंकी से नीचे उतर गए.

e paper new advt

 

Read more...

आसाराम को मरने तक जेल में रहना होगा


जोधपुर
नाबालिग से दुष्कमज़् के आरोप में 2013 से जोधपुर जेल में बंद आसाराम को जज मधुसूदन शमाज़् ने दोषी करार दिया है। दोषी करार दिए जाने के बाद इस मामले में आसाराम के खिलाफ सजा पर बहस हुई जिसके बाद जज ने उन्हें उम्रकैद की सजा सुनाई है। सजा के अनुसार आसाराम को मरने तक जेल में ही रहना होगा वहीं 1 लाख रुपए का जुमानज़ भी लगाया है। सजा सुनते ही आसाराम घुटनों पर बैठकर रोने लगा। खबरों के अनुसार आसाराम को धारा 376 (4) के तहत 1 लाख का जुमानज़, आईपीसी की धारा 73 डी के तहत उम्रकैद, आईपीसी की धारा 376 (2)एफ के तहत आजीवन कारावास, जुवेनाइल जस्टिस एक्ट के तहत 6 महीने, और धारा 506 के तहत एक साल की सजा सुनाई है। वहीं मामले में दो अन्य दोषियों शरत और शिल्पी को 20-20 साल की सजा सुनाई है। सजा के ऐलान के बाद जज मधुसूदन की सुरक्षा बढ़ा दी गई है वहीं केस से जुड़े अन्य लोगों की सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है।
किले में तब्दील रहा जेल के आसपास का इलाका
आसाराम मामले का फैसला सुनाने के दौरान जोधपुर की सेंट्रल जेल व आसपास का इलाका पूरी तरह से पुलिस छावनी बना रहा। इस इलाके की पूरी तरह से किलाबंदी कर रखी थी। जेल में कोर्ट लगने और फैसले के मद्देनजर पुलिस ने मंगलवार रात से ही सेंट्रल जेल की तरफ जाने वाले रास्ते सील कर दिए थे। बुधवार को इस रास्ते पर सिर्फ क्षेत्र में स्थित सरकारी कार्यालय में ड्यूटी पर जाने वाले कर्मचारियों को ही परिचय पत्र की जांच के बाद जाने की इजाजत दी गई। इसके अलावा किसी भी व्यक्ति के पैदल या वाहन से आवाजाही पर पूर्ण रूप से पाबंदी रही। डीसीपी (ईस्ट) डॉ. अमनदीप सिंह कपूर ने बताया कि बीकानेर, खैरवाड़ा सहित प्रदेश के अन्य हिस्सों से आई आरएसी की पांच कंपनियों को यहां पर तैनात किया गया था। इसके साथ ही कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए करीब दो हजार से अधिक जवानों व अधिकारियों का जाब्ता तैनात किया गया। साथ ही दंगा निरोधक दस्ता, वॉटर कैनन व वज्र भी तैनात किए गए। किसी भी अनहोनी से निपटने के लिए 700 जवानों को रिजर्व रखा गया था। जोधपुर रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, पब्लिक पार्क, हाइकोर्ट रोड, नई सडक़ व सोजती गेट सहित आसपास के इलाकों पर चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात रहा।
आसाराम के समर्थकों को पकड़ा
कड़ी सुरक्षा के बाद भी कुछ समर्थक यहां जोधपुर आ गए जिन्हें पुलिस ने पकड़ लिया। फैसला आने से पहले आसाराम के करीब एक दर्जन से अधिक समर्थकों को पुलिस ने पकड़ा। पुलिस ने अलग-अलग जगहों से आसाराम के समर्थकों को पकड़ा है। राजकीय रेलवे पुलिस थाना के बाहर से चार महिला समर्थक को पकड़ा, रेलवे सुरक्षा बल के अनुसार महिलाएं उत्तर प्रदेश, एक ग्वालियर और आगरा से आई हुई है। पुलिस का अंदेशा है कि चारों महिलाएं आसाराम सर्मथक है। वहीं महिलाओं का कहना है कि वे जोधपुर में कपड़ों की खरीदारी करने के लिए आई हुई है जबकि महिलाएं पुलिस की पूछताछ में अस्पष्ट जवाब दे रही थी। इसके बाद पुलिस ने उनको रेलवे पुलिस थाना में बिठा दिया। इसके अलावा एक समर्थक को जेल के बाहर से, एक पाल से, रेलवे स्टेशन के बाहर तीन और मोहन पुलिया से आसाराम समर्थकों को पकड़ा है। इस बीच उस समय हडक़ंप की स्थिति बन गई जब आसाराम का एक समर्थक हाथों में माला लेकर वहां पहुंच गया। जैसे ही पुलिस को इस बारे में पता चला समर्थक को हिरासत में ले लिया गया लेकिन इस दौरान मौके पर एकबारगी अफरा-तफरी की स्थिति बन गई। सुरक्षा में तैनात जवानों ने समर्थक की तलाशी ली तो उसके पास से फूलों की माला मिली जिसके बाद उसे हिरासत में ले लिया गया।
बंद रहा रेलवे स्टेशन का दूसरा द्वार बंद
ऐहतियात के तौर पर बुधवार को भी रेलवे स्टेशन का दूसरा द्वार बंद रहा। रेलवे के वरिष्ठ जनसम्पर्क अधिकारी गोपाल शर्मा के अनुसार आसाराम से सम्बन्धित प्रकरण मे जेल मेंं निर्णय दिए जाने को ध्यान में रखते हुए जोधपुर स्टेशन एवं स्टेशन एरिया में यात्रियों की सुरक्षा तथा कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए जोधपुर रेलवे स्टेशन के द्वितीय प्रवेश द्वार को मंगलवार रात आठ बजे बंद कर दिया गया था। यह द्वार आज ात बारह बजे तक बंद रहेगा। मुख्य प्रवेश द्वार सामान्य की तरह यात्री सुविधा के लिए खुला रहा।
यातायात व्यवस्था में भी किया बदलाव
कानून व्यवस्था एवं यातायात को सुगम व सुचारू बनाने की दृष्टि से जेल के आसपास यातायात व्यवस्था में भी बदलाव किया गया। पुलिस उपायुक्त (मुख्यालय एवं यातायात) ने बताया कि बुधवार को सुबह से नई सडक़ चौराहा से बडू हाऊस तक सभी प्रकार के वाहनों का आवागमन निषेध रहा। वहीं रेलवे स्टेशन के पिछले द्वार से केन्द्रीय कारागृह की तरफ भी यातायात पर प्रतिबंध रहा। बालवाहिनी व आपातकालीन वाहन एवं इन क्षेत्रों में रहने वाले स्थानीय नागरिक भी इस प्रतिबंध से मुक्त रहे।
एसीबी एसपी ने दिया धन्यवाद
आसाराम मामले की मॉनिटरिंग करने वाले तत्कालीन डीसीपी पश्चिम व वर्तमान में एसीबी के पुलिस अधीक्षक अजयपाल लाम्बा ने भी एक संदेश जारी कर न्याय प्रणाली को धन्यवाद दिया है। साथ ही अपने सहयोगियों को इस मामले में निष्पक्ष जांच में जुटकर लगने के लिए भी शुभकामनाएं दी है। उन्होंने अपने संदेश में लिखा है कि अंत में सच्चाई जीत गई। 2013 के स्वतंत्रता दिवस की रात के दौरान एक नाबालिग लडक़ी पर यौन हमले के मामले में आरोपी आश्रम को दोषी ठहराते हुए आश्रम बापू मामले में न्यायमूर्ति दी गई। न्याय देश में आपराधिक न्यायशास्त्र में एक ऐतिहासिक स्थल है। यह गवाह है कि अगर कानून निष्पक्ष रूप से लागू किया जाता है, तो आसाराम जैसे सबसे प्रभावशाली व्यक्ति को भी सजा मिल सकती है। सभी बाधाओं के बावजूद सबसे कुशल और पेशेवर तरीके से इस मामले को अपने तार्किक निष्कर्ष पर लेने में मेरे साथ जुड़े सहकर्मियों, वरिष्ठों और टीम के सभी सदस्यों के लिए धन्यवाद। जय हिन्द

Read more...

बीकानेर पुलिस अधिकारियों के हुए तबादले, यह है लिस्ट....

बीकानेर। पुलिस अधीक्षक सवाई सिंह गोदारा ने मंगलवार को पुलिस बेड़े में बड़ा फेरबदल किया है। पुलिस बेडे में बड़ा फेरबदल करते हुए 5 थानाधिकारियों इधर उधर किया। जिसमे अरविंद भारद्वाज पुलिस लाईन से थानाधिकारी कोटगेट लगाया वहीं मनोज माचरा पुलिस लाईन बीकानेर से थानधिकारी जेएनवीसी, ऋिषीराज सूचित निरीक्षक पुलिस लाईन बीकानेर से थानाधिकारी सदर व लक्ष्मण सिंह थानाधिकारी सदर को पुलिस परामर्श एवं सहायत केन्द्र बीकानेर पर लगाया गया है। जगदीश सिंह कोलायत व चंदभान होंगे नापासर थानाप्रभारी, पुलिस उपनिरीक्षक को यह लगाया जगदीश सिंह पुलिस थाना नयाशहर को थानाधिकारी कोलायत, सत्यपाल मीणा थानाधिकारी कोलायत को पुलिस लाईन बीकानेर, चन्द्रभान पुलिस थाना श्रीडूंगरगढ़ को थानाधिकारी नापासर,उदयपाल थानाधिकारी नापासर को यातायात शाखा बीकानेर, सुमन परिहार पुलिस थाना जेएनवीसी को पुलिस थाना महिला, सत्यनारायण पुलिस लाईन बीकानेर को पुलिस थाना पूगल, कृष्ण कृष्ण कुमार पुलिस लाईन से पुलिस थाना पूगल, रमेश कुमार पुलिस लाईन बीकानेर से पुलिस थाना नोखा, बूटा सिंह पुलिस लाईन बीकानेर से पुलिस थाना नाल वहीं अजय कुमार पुलिस थाना कोटगेट को पुलिस परामर्श एवं सहायात केन्द्र पर लगाया गया है। मोहन लाल पुलिस लाईन से कमाण्ड एंड कण्ट्रोल सेंटर वह रणजीताराम पुलिस लाईन बीकानेर से पुलिस थाना लूणकरनसर लगाया गया है।

Read more...

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक ने किया कार्यभार ग्रहण

बीकानेर। मंडल के वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक का पदभार मंगलवार को अभय शर्मा ने सीआर कुमावत के स्थान पर ग्रहण किया। इससे पूर्व २०११ बैच के आईआरटीएस अधिकारी शर्मा उत्तर पश्चिम रेलवे मुख्यालय में उप मुख्य वाणिज्य प्रबंधक मालभाड़ा विपणन पद पर कार्यरत थे।

Read more...

ट्रेफिक ब्लॉक कार्य से यातायात प्रभावित

बीकानेर। रेलवे प्रशासन की ओर से जामसर-जगदेववाला रेलखण्ड पर ट्रेफिक ब्लॉक कार्य किया जा रहा है, जिसके कारण बुधवार को बीकानेर मंडल पर संचालित गाडिय़ां प्रभावित रहेंगी। वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक ने बताया कि गाड़ी संख्या १२४५५ दिल्ली सराय-बीकानेर एक्सप्रेस सूरतगढ़ तक एवं गाड़ी संख्या १२४५६ बीकानेर-दिल्ली सराय सूरतगढ़ से संचालित होगी। इसी प्रकार गाड़ी संख्या ५९७०६ जयपुर-सूरतगढ़ सवारी गाड़ी जयपुर से प्रस्थान कर बीकानेर-लालगढ़ स्टेशनों के मध्य एक घंटे रेगुलेट रहेगी।

Read more...

हरीश आईएफडब्ल्यूजे के जिलाध्यक्ष व संभाग प्रभारी

बीकानेर। इंडियन फैडरेशन ऑफ वर्किंग जर्नलिस्ट (आईएफडब्ल्यूजे) के संभाग प्रभारी और जिला अध्यक्ष पद पर पत्रकार-साहित्यकार हरीश बी.शर्मा का मनोनयन किया गया है। फैडरेशन अध्यक्ष उपेंद्रङ्क्षसह राठौड़ ने मंगलवार को इस आशय की घोषणा की। शर्मा शीघ्र ही जिले की कार्यकारिणी का गठन करेंगे। उल्लेखनीय है कि यह संगठन पत्रकारों की सुरक्षा संबंधी मसले पर देशभर में गंभीरता से काम कर रहा है। हाल ही में रांची में आयोजित राष्ट्रीय अधिवेशन में भी इस विषय पर विचार हुआ।

Read more...

वैज्ञानिक तकनीक व ज्ञान को अपनाएं किसान

कृषक गोष्ठी में किसानों की आय दोगुनी करने पर विचार
बीकानेर। केन्द्रीय जल संसाधन राज्य मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने कहा कि कृषि संबंधी नवीनतम वैज्ञानिक तकनीक व ज्ञान अपनाकर किसान अपनी आमदनी को बढ़ा सकते हैं। मेघवाल मंगलवार को धानुका एग्रीटेक लिमिटेड की ओर से रवीन्द्र रंगमंच पर आयोजित कृषक गोष्ठी में राज्य के किसानों को सम्बोधित कर रहे थे। गोष्ठी के दौरान किसानों की आय को वर्ष 2022 तक दोगुनी करने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लक्ष्य के संबंध में विचार-विमर्श किया गया।
केन्द्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि अच्छे बीज, उचित बीजारोपण तकनीक, खरपतवार व कीड़ों पर नियंत्रण तथा जैविक खाद के उचित प्रयोग से किसान अपनी पैदावार को बढ़ा सकते हैं। जल संरक्षण के लिए जिले के काफी किसानों द्वारा ड्रिप व स्प्रिंकलर सिंचाई के तरीके अपनाए जा रहे हैं। केन्द्रीय राज्य मंत्री ने बताया कि बीकानेर व अन्य क्षेत्रों के किसानों को पूरा पानी मिले तथा उनकी पानी सम्बंधी समस्या का स्थाई समाधान हो सके, इसके लिए पाकिस्तान की ओर जाने वाले पानी को रोकने की कार्य योजना बनाई जा रही है। साथ ही सांचौर में इनलैंड कण्टेनर डिपो बनाने की योजना बनाई जा रही है, जिससे एक्सपोर्ट का कार्य बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि देश में प्रति हैक्टेयर पैदावार, मूल क्षमता से काफी कम है। विपरीत मौसम व बाजार, किसानों को परेशान करते हैं, इसके लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ अधिकतम किसानों तक पहुंचाना सुनिश्चित किया जा रहा है व फसल खराबा मुआवजा समय पर मिले, इसके हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि धानुका ग्रुप की ओर से समाजोपयोगी व किसानों के हित में अनेक सराहनीय कार्य किए जा रहे हैं।
धानुका एग्रिटेक लिमिटेड के चेयरमैन आरजी अग्रवाल ने कहा कि कंपनी की ओर से किसानों की आय में बढ़ोतरी के लिए विभिन्न कदम उठाए जा रहे हैं। कंपनी की ओर से खेती में आधुनिक तकनीक के प्रयोग को बढ़ावा देने के परिणामस्वरूप फसल की पैदावार बढ़ी है। बीज उपचार से बीज की शक्ति में वृद्धि व रोग नियंत्राण की बदौलत पैदावार में 50 फीसदी तक बढ़ोतरी देखी गई है। उन्होंने वर्षा जल को सहजने व भूमि की गुणवत्ता बरकरार रखने की आवश्यकता जताई। अग्रवाल ने कहा कि सरकार, प्रशासन, किसान व उद्यमी मिलकर कार्य करें, तभी किसानों की आय दुगुनी हो सकेगी। उन्होंने कहा कि किसान स्वयं सहायता समूह बनाकर अपनी फसल सीधे शहर में बेचें, जिससे उन्हें फसल का उचित मूल्य मिल सके।
केवीके चौमूं के प्रभारी डॉ. एसएस राठौड़ ने फसलों को कीड़ों को बचाने के तरीके बताए। पार्थ सेनगुप्ता ने मूंगफली की पैदावार बढ़ाने की जानकारी दी।

किसान हुए पुरस्कृृत
इस अवसर पर धानुका एग्रीटेक लिमिटेड की ओर से राज्य के दस किसानों शीशपाल निथारवाल, नंदलाल कुमावत, भांवरसिंह काजला, बनवारीलाल बिश्नोई, गोपालराम सियाग, रामरख तारद, कालूराम, मणिराम, बजरंगलाल व ओमकारनाथ को पैदावार में उल्लेखनीय वृद्धि के लिए पुरस्कृत किया गया। खेती में सही कृषि रसायन को बढ़ावा देने के लिए क्षेत्र के तीन विक्रेताओं को भी पुरस्कृत किया गया।
इस दौरान उपस्थित किसानों ने केन्द्रीय राज्य मंत्री से विभिन्न प्रश्न पूछे। इस अवसर पर फिल्म प्रदर्शन से किसानों को कृषि की नवीनतम जानकारी दी गई। किसानों को बीजोपचारक सैंपल किट का कृषि संबंधी साहित्य का वितरण किया गया। समारोह में डॉ. सत्यप्रकाश आचार्य, हर्ष धानुका, अशोक प्रजापत, मोहन सुराणा, जितेन्द्र सिंह, उम्मेद सिंह सहित बड़ी संख्या में किसान उपस्थित थे।
---------

Read more...

डॉ. पुरोहित का झुंझुनूं में सम्मान

बीकानेर। झुंझुनूं के जेजेटी विश्वविद्यालय एवं राजस्थान संस्कृत अकादमी के संयुक्त तत्वावधान में गीता ज्ञान विज्ञान का स्रोत विषय पर आयोजित दो दिवसीय राष्ट्रीय संस्कृत संगोष्ठी में बीकानेर के भृगु ज्योतिषाचार्य डॉ. नन्दकिशोर पुरोहित का सम्मान किया गया। सम्मान स्वरूप डॉ. पुरोहित को शॉल, पुष्पगुच्छ, सम्मान पत्र व गीता पुस्तक आदि डॉ. चन्द्रलेखा शर्मा, डॉ. शशि मोरोलिया, डॉ. सूर्यनारायण गौतम, डॉ. मधु गुप्ता ने प्रदान किए।
इस अवसर पर आयोजित व्याख्यान में डॉ. पुरोहित ने कहा कि गौ, गंगा, गौरया, गायत्री और गीता का व्यक्ति के जीवन में विशेष स्थान है। जीवन में सफलता के लिए इन पांचों का सदैव स्मरण करना होगा।

e paper new advt

Read more...

पंचायती राज दिवस पर संवाद आयोजित

बीकानेर। जिला देहात कांग्रेस की ओर से देहात अध्यक्ष महेन्द्र गहलोत की अध्यक्षता में पंचायती राज दिवस पर देहात कार्यालय में मंगलवार को कार्यशाला व संवाद कार्यक्रम आयोजित किया गया। महेन्द्र गहलोत ने कहा कि वर्तमान परिप्रेक्ष्य में सब जानते हैं कि केन्द्र व राज्य की भाजपा सरकार सत्ता हस्तान्तरण प्रक्रिया को कमजोर करने का काम कर रही है। देश महात्मा गांधी की सोच पर आगे बढ़ रहा है। कांग्रेस ने पंचायतीराज को मजबूत किया। सता का विकेंद्रीकरण हमारा हक है।
मुख्य वक्ता राजकुमार किराडू ने कहा कि कांग्रेस हमेशा गरीबों की हिमायती रही है। कांग्रेस जन-जन में बसी है, यही कारण रहा कि गुजरात मॉडल को फेल कर वहां पंचायतों में कांग्रेस का दबदबा रहा। गांवों का विकास ही कांग्रेस की योजना से हुआ है। मौजूदा सरकार इन्हें कमजोर करने में लगी है, इसलिए सरपंचों को अपने हक की मांगों को लेकर जयपुर में धरना देना पड़ा।
कार्यक्रम संयोजक रायसिंह गोदारा ने कहा कि १९९३ में संविधान संशोधन के बाद पंचायतों एवं नगरीय निकायों को संवैधानिक दर्जा प्राप्त हुआ। ग्राम सभा स्थापित की गई। वित्त कार्यक्रम, कर्मचारियों की जवाबदेही, स्थानीय निकायों को सौंपने की शुरूआत हुई, साथ ही पंचायतों और स्थानीय निकायों में महिलाओं, अजा, अजजा एवं पिछड़े वर्ग का निश्चित प्रतिनिधित्व तय किया गया।
कार्यक्रम में नारायणसिंह चारण, किशनलाल मेघवाल, सुषमा बारूपाल, प्रेमलता राठौड़, सत्तुखान, अर्जुनराम कुकणा, पार्षद हजारीराम देवड़ा, हरिप्रकाश वाल्मिकी, डॉ. हैदर बैग, आनन्दसिंह सोढा, दाऊलाल, मनोज नायक ने विचार व्यक्त किए। देहात प्रवक्ता ओमप्रकाश सैन ने बताया कि इस अवसर पर देहात कांग्रेस के पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं की उपस्थिति रही।

res

Read more...

जनकवि सद्दीक पर केंद्रित अवरेख 30 को

बीकानेर। प्रज्ञालय संस्थान एवं राजस्थानी युवा लेखक संघ की ओर से अवरेख कार्यक्रम का आयोजन ३० अप्रेल को होगा। यह कार्यक्रम जनकवि मोहम्मद सद्दीक पर केंद्रित होगा, जिसमें उनकी रचनाओं का अन्य भारतीय भाषाओं में अनुवाद कर वाचन करवाया जाएगा। कार्यक्रम संयोजक कमल रंगा ने बताया कि ३० अप्रेल को सायं ५:३० बजे सुदर्शन कला दीर्घा नागरी भंडार में होने वाले वाले कार्यक्रम में साहित्यकार पत्रकार मधु आचार्य आशावादी मुख्य अतिथि एवं साहित्यकार भवानी शंकर व्यास विनोद मुख्य वक्ता होंगे।

Read more...
Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News