Menu

बीकानेर समाचार

गंगाशहर में पेड़ में लगी आग

बीकानेर। गंगाशहर में बोथरा चौक संख्या दो में बेर के एक पेड़ (बोटी) में सोमवार रात आग लग गई। महापौर नारायण चौपड़ा के वार्ड में स्थित इस पेड़ के पास नगर निगम के ही कर्मचारी कचरा डाल जाते हैं। सोमवार शाम इसमें आग लग गई। सूचना मिलने पर अग्निशमन की गाड़ी आई और आग बुझा गई। लेकिन रात में फिर इसमें आग लग गई। समाजसेवी शिवरतन मारू ने बताया कि नगर निगम प्रशासन को बार बार सूचना देने के बाद भी देर रात यहां कोई नहीं पहुंचा। स्वयं निगम महापौर भी नहीं पहुंचे, जबकि उनका ही यह वार्ड है।

roopam 01new

Read more...

हाइवे पर लगी 'आस्थाÓ की कतार

डीएनआर रिपोर्टर.बीकानेर

रुणिचा में लोक देवता बाबा रामदेव के सालाना मेेले में भाग लेने के लिए जा रहे पदयात्रियों के जत्थे सोमवार को भी रवाना हुए। बीकानेर से जाने वाले पदयात्री एकम के संघ के रुप में रवाना होते है। जबकि बीकानेर से बाहर के पदयात्री बहुत पहले रामदेवरा के लिए रवाना हो जाते है। रविवार तक बीकानेर की सड़कों पर बाहर के पदयात्री ही बाबा की जय बोल कर आगे बढ़ रहे थे। सोमवार को बीकानेर के पदयात्री आस्था और श्रद्धा के साथ आगे बढ़ रहे थे। इनका पहला पड़ाव नाल में होगा। पदयात्रियों की रवानगी के दौरान शहर के गली मोहल्ले बाबा के जयकारों से गूंजते रहे। वहीं बीकानेर शहर सहित आस पास के ग्रामीण क्षेत्रों व अन्य जिलो से आने वाले पदयात्रियों के कारण शहर के राष्ट्रीय राजमार्गो सहित मुख्य मार्गो पर बाबा के जयकारे गूंज रहे है। बीकानेर -जैसलमेर राष्ट्रीय राजमार्ग पर जहां एक ओर पदयात्रियों की पदयात्रा करने का क्रम जारी है वहीं दूसरी ओर जगह-जगह चल रहे सेवा शिविरों के माध्यम से सेवादार पदयात्रियों की सेवाओं में व्यस्त है।

Read more...

70 साल बाद भी शहर न बन सका लूणकरनसर

अनुराग हर्ष. बीकानेर
कुछ नहरी और कुछ बारानी ग्रामीण क्षेत्र लूणकरनसर विधानसभा क्षेत्र आजादी के बाद से विकास के लिए तरस रहा है। अगर आप बीकानेर से होते हुए राष्ट्रीय राजमार्ग से श्रीगंगानगर की तरफ जा रहे हैं तो लूणकरनसर कस्बा अपनी उपस्थिति एक पिछड़े कस्बे के रूप में दर्ज कराता है। कभी बाढ़ की चपेट में आए इस विधानसभा क्षेत्र के अभी विधायक मानिकचंद सुराना एक मंजे हुए राजनीतिज्ञ है जबकि इससे पहले गृह राज्य मंत्री रहे वीरेंद्र बेनीवाल थे। इसके बाद भी क्षेत्र विकास को तरस रहा है। काफी लंबे-चौड़े क्षेत्र में फैले लूणकरनसर विधानसभा क्षेत्र में कृषि ही सबसे बड़ा आय स्रोत है, लेकिन कभी पानी का संकट और कभी इंद्रदेव की मेहरबानी नहीं होने से किसान परेशान ही रहा। ऋण माफी के नाम पर किसानों के साथ सिर्फ और सिर्फ धोखा ही हुआ।
कभी भाजपा, कभी कांग्रेस
लूणकरनसर विधानसभा के मतदाता कांग्रेस और भाजपा के दोनों के साथ रहे है। यहां प्रदेश के दो बड़े नेता निकले हैं। दोनों ही सैद्धांतिक राजनीति के लिए पहचान रखते हैं। पहले भीमसेन चौधरी और दूसरे मानिकचंद सुराना। चौधरी जहां कांग्रेस से विधायक बने, वहीं सुराना कभी अपनी पार्टी से तो कभी भाजपा से। अब वो निर्दलीय विधायक है। इस बीच चौधरी के पुत्र वीरेंद्र बेनीवाल उपचुनाव तो हारे लेकिन बाद में मुख्य चुनाव में जीत गए। गृह राज्यमंत्री भी बने।
सरकार से नाराजगी
कस्बे के लोग एक बार फिर सरकार से नाराज है। कारण साफ है कि क्षेत्र के प्रति कोई संवेदनशीलता नहीं रखी गई। कांग्रेस और भाजपा दोनों यहां की सत्ता से बाहर है, दोनों ने पिछले पांच वर्ष में मुद्दे तो उठाए। भाजपा प्रत्याशी रहे सुमित गोदारा काफी सक्रिय नजर आए, वहीं कांग्रेस प्रत्याशी रहे वीरेंद्र बेनीवाल भी क्षेत्र में कभी कभार ही नजर आए। हालांकि चुनाव नजदीक आते ही सभी पूर्व प्रत्याशी और नए दावेदारों की गतिविधियां बढ़ गई है।
थोड़ा मिला, ज्यादा की जरूरत
पिछले पांच साल में निर्दलीय होते हुए भी सरकार के नजदीक रहे मानिकचंद सुराना ने लूणकरनसर के लिए कुछ करने का प्रयास किया है। इसके बाद भी महाविद्यालय शिक्षकों का अभाव और स्कूलों में रोज बदलते शिक्षकों से शिक्षण व्यवस्था चौपट है। नहर में कम पानी और कृषि कुओं के कनेक्शन कभी राहत देते नजर आते हैं तो कभी परेशान करते।
यह हैं मुख्य दावेदार
भाजपा से एक बार फिर मानिक चंद सुराना दावेदारी कर सकते हैं जबकि सुमित गोदारा पूरे पांच साल से इसी काम में जुटे हुए हैं। युवा चेहरे के रूप में भाजयुमो अध्यक्ष भागीरथ मूंड भी यहां से मजबूत दावेदारी कर रहे हैं। वहीं कुछ अन्य नेता भी कोशिश में जुटे हुए हैं। लूणकरनसर में जातिगत आधार है, ऐसे में जाट और ब्राह्मण दोनों टिकट की मांग करते हैं। हालांकि ब्राह्मण नेताओं को पार्टियों से टिकट नहीं मिला। निर्दलीय के रूप में पंडित लक्ष्मीनारायण पारीक और गोपाल कृष्ण जोशी अपना दमखम यहां दिखा चुके हैं।
न शिक्षा, न मूलभूत सुविधाएं
लूणकरनसर शिक्षा की दृष्टि से आज भी पिछड़ा हुआ है। यहां न तो कोई बड़ा उच्च शिक्षण संस्था है और न ही माकूल चिकित्सा व्यवस्था। सड़कों और सीवरेज की व्यवस्था आज भी इतनी बिगड़ी हुई है कि कस्बे की स्थिति गांव से ज्यादा बेहतर नजर नहीं आती।

Read more...

छात्रसंघ चुनाव की मतगणना होगी आज

डीएनआर रिपोर्टर.बीकानेर

जिले के विभिन्न विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में 31 अगस्त को छात्रा संघ के विभिन्न पदों के लिए हुए मतदान की मतगणना मंगलवार को प्रात: 11 बजे संबंधित विश्वविद्यालयों व महाविद्यालयों में होगी। मतगणना के दौरान कानून एवं व्यवस्था संधारण के लिए कार्यपालक मजिस्ट्रेट नियुक्ति किए गए हैं। अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट (नगर) शैलेन्द्र देवड़ा को शहरी क्षेत्रा के लिए एवं अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) ए एच गौरी को जिले के ग्रामीण क्षेत्रा में छात्रा संघ चुनाव की मतगणना के दौरान कानून एवं व्यवस्था का प्रभारी मजिस्ट्रेट बनाया गया है। जिला मजिस्ट्रेट डॉ. एनके गुप्ता ने आदेश जारी कर राजकीय डूंगर महाविद्यालय, सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज व राजकीय विधि महाविद्यालय बीकानेर के लिए बीकानेर उपखण्ड मजिस्ट्रेट मोनिका बलारा, नेहरू शारदा पीठ महाविद्यालय और राजकीय महारानी सुदर्शना महाविद्यालय बीकानेर के लिए नायब तहसीलदार बीकानेर जयदीप मित्तल, बीजेएस रामपुरिया जैन कॉलेज के लिए तहसीलदार श्रीडूंगरगढ़ भवानीसिंह, महाराजा गंगासिंह महाविद्यालय, वेटरनरी विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय तथा स्वामी केशवानन्द राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय के लिए उप पंजीयक.प्रथम सत्यनारायण सुथार, जैन पीजी कॉलेज के लिए नायब तहसीलदार नोखा प्रतिज्ञा, एमएमबी राजकीय कॉलेज नोखा नोखा के लिए उपखण्ड मजिस्ट्रेट नोखा श्योराम वर्मा, राजकीय महाविद्यालय एवं बालाजी डिग्री कॉलेज लूणकरनसर के लिए उपखण्ड मजिस्ट्रेट लूणकरनसर कैलाशचन्द्र मीणा, राजकीय महाविद्यालय खाजूवाला के लिए उपखण्ड मजिस्ट्रेट खाजूवाला रमेश देव, आदेश महाविद्यालय श्रीकोलायत के लिए उपखण्ड मजिस्ट्रेट कोलायत डॉ. रतन कुमार तथा एमडीकॉलेज व प्रणयराज डिग्री कॉलेज बज्जू के लिए तहसीलदार बज्जू गजेन्द्र नैण को नियुक्त किया गया है। जिला कलक्टर ने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे मतगणना केन्द्रों पर की जाने वाली मतगणना से पूर्व सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा कर लें।

Read more...

बीकानेर आईजी दिनेश एमएन फिर हुए आरोप मुक्त

बीकानेर। बीकानेर के पुलिस महानिरीक्षक दिनेश एमएन को बहुचर्चित सोहराबुद्दीन तुलसी एनकाउंटर प्रकरण में मुम्बई हाइकोर्ट ने भी बरी कर दिया है। उच्च न्यायालय ने निचली अदालत के निर्णय को सही ठहराते हुए सोमवार को आदेश दिए। इसके साथ ही आईपीएस डीजी बंजारा, राजकुमार पांडयन और विपुल अग्रवाल, डीएसपी नरेंद्र अमीन व कांस्टेबल दलपत सिंह को भी बरी कर दिया। बंजारा, दिनेश एमएन और राजकुमार पांडियन के खिलाफ तीन पुनरीक्षण याचिकाएं लगाई गई थी। वहीं सीबीआई ने राजस्थान के डीएसपी दलपत सिंह राठौड़ व गुजरात पुलिस के अधिकारी एन.के. अमीन के खिलाफ याचिका दायर की थी।

roopam 01
अमित शाह भी थे आरोपी
उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद यह मामला मुंबई की विशेष अदालत में चला गया। जहां २०१७ से २०१७ के बीच ३८ लोगों में से पंद्रह को आरोप मुक्त कर दिया गया है। इनमें १४ पुलिस अधिकारी है और एक अमित शाह है।
क्या है मामला
सीबीआई ने इस मामले को फर्जी एनकाउंटर बताते हुए प्रकरण दर्ज किया था। सीबीआई का आरोप है कि गुजरात के संदिग्ध गैंगस्टर सोहराबुद्दीन शेख और उसकी पत्नी कोसर बी को गुजरात एटीएस और राजस्थान पुलिस के अधिकारियों ने हैदराबाद के पास से अगवा करवा लिया था। बाद में उन्हें नवंबर २००५ में मार गिराया। इसे एनकाउंटर का नाम दिया गया। अब अदालत ने आरोपी पुलिस अधिकारियों को मुक्त दिया है।

Read more...

झंवर अध्यक्ष और लोहिया बने महामंत्री, माहेश्वरी समाज में खुशी की लहर

बीकानेर। उत्तरी राजस्थान प्रादेशिक माहेश्वरी युवा संगठन की नई कार्यकारिणी घोषित हो गई है। कार्यकारिणी में अब तक महामंत्री का पद संभाल रहे नोखा के युवा सुनील झंवर अध्यक्ष और बीकानेर के किशन लोहिया को महामंत्री बने हैं। झंवर और लोहिया के मनोनयन पर बीकानेर सहित प्रवासी माहेश्वरी समाज के लोगों ने खुशी जताई है।kishan lohia

Read more...

भाजपा नेता द्घारका प्रसाद तिवाड़ी की सातवीं पुण्यतिथि नौ सितंबर को

बीकानेर। भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष रहे और करणी औद्योगिक क्षेत्र एसोसिएशन के संस्थापक अध्यक्ष रहे द्घारका प्रसाद तिवाड़ी की सातवीं पुण्यतिथि नौ सितंबर को है। एसोसिएशन के अध्यक्ष महेश कोठारी ने बताया कि इस दौरान करणी औद्योगिक क्षेत्र एसोसिएशन भवन में सुबह १० बजे श्रद्घांजलि सभा आयोजित होगी। एसोसिएशन के सचिव विजय कुमार जैन ने बताया कि बीकानेर के औद्योगिक विकास को लेकर तिवाड़ी ने बहुत संघर्ष किया था और उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता।

Read more...

पुष्करणा गौरव सम्मान 8 सितम्बर को

बीकानेर। पुष्करणा समाज के होनहार विद्यार्थियों को 8 सितम्बर को धरणीधर रंगमंच पर 'पुष्करणा गौरवÓ के रूप में सम्मानित किया जाएगा। अब तक करीब सौ विद्यार्थी आवेदन कर चुके हैं, जबकि आवेदन की अंतिम तिथि बढ़ाकर अब छह सितम्बर कर दी गई है।
पुष्करणा ब्राह्मण समाज संस्थान (मुंबई) की अध्यक्ष सेणुका हर्ष और पुष्करणा वेलफेयर फाउंडेशन के गोविन्द जोशी ने बताया कि योग्यता में भी शिथिलन किया गया है। अब दसवीं और बारहवीं कक्षा में 80 फीसदी, स्नातक और स्नातकोतर में ६५ फीसदी, नीट, आईआईटी, सीए, आरजेएस, आरएएस में चयन व अन्य शैक्षिक योग्यताओं के लिए पुरस्कार दिए जा रहे हैं। विद्यार्थियों को ऑनलाइन आवेदन की सुविधा दी गई है। पुष्करणा प्रोफेशनल सोसायटी के संयोजक अमित व्यास ने बताया कि सभी वर्गों में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले छह विद्यार्थियों को रमेश इंग्लिश स्कूल की ओर से चांदी के सिक्के दिए जाएंगे। कार्यक्रम शाम पांच बजे शुरू होगा और 8.30बजे संपन्न होगा।

Read more...

पारीक समाज करेगा मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का भव्य स्वागत

बीकानेर। राजस्थान गौरव यात्रा को लेकर बीकानेर आ रही मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का
बीकानेर पारीक समाज स्वागत करेगा। इस बारे में पारीक समाज के अध्यक्ष भंवरलाल
व्यास के अध्यक्षता में आयोजित बैठक में यह निर्णय किया गया। 
बैठक में भाजपा नेता पंडित लक्ष्मीनारायण पारीक, संपत पारीक, चंचल व्यास,
भाजपा नेता दीपक पारीक, पंकज पारीक समेत अनेक लोग मौजूद रहे। बैठक में तय किया गया कि सादुल
सिंह सर्किल के आगे शांति टावर के पास मुख्यमंत्री के रोड शो के दौरान मुख्यमंत्री
का फूलों की माला और चुनरी ओढ़ाकर स्वागत किया जाएगा  साथ ही
राजनीतिक रूप से पारीक समाज को प्रतिनिधित्व देने
की भी मांग की जाएगी। पीले चावल से दिया जाएगा बैठक में मौजूद
छः न्याति महिला महासंघ प्रकोष्ठ की अध्यक्षा आशा
पारीक ने बताया कि मुख्यमंत्री कि गौरव यात्रा को लेकर समाज
की ओर से किए जाने वाले स्वागत कार्यक्रम को लेकर 5 सितंबर
को पीले चावल देकर न्यौता दिया जाएगा।
 
Read more...
Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News