Menu

4 करोड़ 74 लाख से ज्यादा मतदाता करेंगे मताधिकार का इस्तेमाल

-नाम जुड़वाने में पुरुषों से आगे रही महिलाएं, 4 लाख से ज्यादा महिलाओं ने किया आवेदन।
-99.99 प्रतिशत मतदाताओं को फोटो युक्त पहचान पत्र।
-सबसे अधिक मतदाता जयपुर जिले में वहीं सबसे कम जैसलमेर जिले में
बीकानेर। राज्य में मतदाता सूचियों के द्वितीय विशेष पुनरीक्षण (अर्हता 1.1.2018) के संदर्भ में संक्षिप्त पुनरीक्षण-2018 के तहत मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन शुक्रवार को कर दिया गया। अंतिम प्रकाशन के अनुसार राज्य में कुल 4 करोड़ 74 लाख, 79 हजार 402 मतदाता हैं। इसमें 2 करोड़, 47 लाख, 60 हजार, 755 पुरुष और 2 करोड़ 27 लाख 18 हजार 647 महिला मतदाता हैं। उन्होंने बताया कि 1 लाख 13 हजार 642 सर्विस मतदाता भी हैं।
संक्षिप्त पुनरीक्षण के दौरान कुल 7 लाख 84 हजार 61 आवेदन फाॅर्म नाम जुड़वाने के लिए प्राप्त हुए, जिनमें से 7 लाख 60 हजार 288 मतदाताओं के नाम जुड़वाने के लिए आवेदन स्वीकार किए गए।  आवेदनों की पड़ताल और भौतिक सत्यापन के बाद 3 लाख 91 हजार 805 पुरुष और 3 लाख 99 हजार 515 महिलाएं सहित कुल 7 लाख 91 हजार 320 मतदाताओं के नाम मतदाता सूची से हटाए गए। उन्होंने बताया कि इस संख्या में 3 लाख 18 हजार 632 मृतक, 3 लाख 48 हजार 715 शिफ्टेड और 1 लाख 23 हजार 973 दोहरी प्रविष्टियां शामिल हैं।  वर्ष 2013 में विधानसभा चुनाव के दौरान प्रदेश में कुल मतदाताओं की संख्या 4 करोड़ 07 लाख 26 हजार 144 थी, जिसकी तुलना में इस विधानसभा चुनाव के लिए मतदाताओं सूचियों के अंतिम प्रकाशन के बाद 67 लाख 53 हजार से ज्यादा मतदाता बढ़े हैं।  मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में 4 करोड़ 74 लाख, 75 हजार, 110 (99.99 प्रतिशत) फोटोयुक्त मतदाता पहचान पत्र धारक हैं। उन्होंने कहा कि मतदाता सूची में जोड़े गए नए नामों के आधार पर मतदाता पहचान पत्र आगामी दस दिनों में बना दिए जाएंगे। प्रदेश में कुल 51 हजार 796 मतदान केंद्र हैं, जिनमें 9 हजार 490 शहरी तथा 42 हजार 306 ग्रामीण इलाकों में स्थित हैं। मतदाता सूचियों के अंतिम प्रकाशन के बाद 5 विधानसभा क्षेत्रों यथा जायल (नागौर), निम्बाहेड़ा (चित्तौड़गढ़), लूणकरनसर (बीकानेर), तिजारा (अलवर) तथा अजमेर उत्तर में मतदाताओं के प्रतिशत के हिसाब से सबसे ज्यादा वृद्धि हुई है, वहीं जयपुर के किशनपोल, बीकानेर, उदयपुर (ग्रामीण व शहरी) तथा घड़ी (बांसवाड़ा) में मतदाताओं के प्रतिशत में कमी आई है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में इस संक्षिप्त पुनरीक्षण के उपरांत 31 हजार 32 मतदाता कम हुए हैं। मतदाता सूचियों में नाम जुड़वाने का क्रम विधानसभा चुनाव के नामांकन पत्र दाखिल करने की आखिरी तिथि तक चलेगा, लेकिन इसके लिए 1 जनवरी, 2018 की अर्हता ही मान्य होगी। 2 अक्टूबर को प्रदेश की सभी ग्राम और वार्ड सभाओं में मतदाता सूचियों का पठन किया जाएगा। 3 और 4 अक्टूबर को भी सायं 4 से 8 बजे तक यह क्रम चलेगा।  7 अक्टूबर को प्रातः 9 से सायं 6 बजे तक राज्य के सभी 51 हजार 796 मतदान केंद्रों पर अंतिम रूप से प्रकाशित मतदाता सूचियां प्रदर्शित की जाएंगी। 
DNR Reporter

DNR desk

Leave a comment

Make sure you enter the (*) required information where indicated. HTML code is not allowed.

back to top

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News