Menu

श्रीकोलायत से पूनम कंवर, पूर्व से सिद्धि कुमारी, खाजूवाला से विश्वनाथ को भाजपा टिकट Featured

श्रीकोलायत से पूनम कंवर, पूर्व से सिद्धि कुमारी, खाजूवाला से विश्वनाथ को भाजपा टिकट
131 प्रत्याशियों के टिकट तय
नई दिल्ली। विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने रविवार देर रात अपनी सूची जारी की है, जिसमें १३१ प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है। टिकट वितरण में पूरी तरह से मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की सहमति से बने हैं।
इस सूची में कई बड़े नामों को फिर से अवसर दिया गया है। वहीं कुछ नेताओं के टिकट काट दिए गए हैं।
राष्ट्रीय चुनाव समिति की बैठक हुई। जिसमें राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उपस्थित रहे। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी भी थे। पार्टी ने ३२ युवा चेहरों को ८५ वर्तमान विधायकों को टिकट दिया गया है। २५ नए चेहरे शामिल किए गए हैं। पार्टी ने प्रदेशभर में १७ एससी, १९ एसटी को टिकट दिया है।
सार्दुलशहर से गुरवीर सिंह बराड़, सूरतगढ़ से रामप्रताप कासनिया, रायसिंह नगर बलवीर लूथरा (एससी), हनुमानगढ़ से डॉ. रामप्रताप, पीलीबंगा से धर्मेंद्र मोची (एससी), नोहर से अभिषेक मटोरिया, भादरा संजीव बेनीवाल, बीकानेर जिले में खाजूवाला से डॉ. विश्वनाथ मेघवाल, बीकानेर पूर्व से सिद्धि कुमारी, श्रीकोलायत से श्रीमती पूनम कंवर को टिकट दिया गया है। लूणकरनसर से एक बार फिर सुमित गोदारा पर विश्वास किया गया है। इसके अलावा सार्दुलपुर से रामसिंह कस्वा, चूरू से राजेंद्र राठौड़, पिलानी से कैलाश मेघवाल, सूरजगढ से सुभाष पूनिया, मंडावा से नरेंद्र कुमार, उदयपुरवाटी से शुभकरण चौधरी को टिकट दिया गया है।
भाजपा से इनको भी मिला टिकट
खेतड़ी से धर्मपाल गुर्जर, धोंद से गोवद्र्धन वर्मा, दातारामगढ़ हरिशचंद्र कुमावत, खंडेला से बंशीधर खंडेला, नीमकाथना से प्रेम सिंह बाजौर, श्रीमाधोपुर से झाबरसिंह खर्रा, विराटनगर से डॉ. फूलचंद भिंडा, शाहपुरा से राव राजेंद्र सिंह, चौमू से रामपाल शर्मा, फूलेरा से निर्मल कुमावत, आमेर से सतीश पूनिया, हवामहल से सुरेंद्र पारीक, विद्याधर नगर से नरपत सिंह राजवी, सिविल लाइन से अरुण चतुर्वेदी, किशनपोल से मोहनलाल गुप्ता, आदर्श नगर से अशोक परनामी, किशनगढ़ बास से रामहेत सिंह यादव, मुंडावर से मंजीत चौधरी, अलवर शहर संजय शर्मा, नगर से अनीता सिंह गुर्जर, डीग कुम्हेर डॉ. शैलेश सिंह, को टिकट दिया गया है। भरतपुर से विजय बंसल, नदबई से कृष्णकौर दीपा, वैर से रामस्वरूप कौली, बयाना से ऋतु बनावत, बाड़ी से जसवंत गुर्जर, धौलपुर से शोभारानी कुशवाह, सपोटरा से गोलमा देवी मीणा, लालसोट से राम विलास मीणा, बामनवास से राजेंद्र मीणा, खंडार से जितेंद्र गोठवाल, मालपुरा से कन्हैयालाल चौधरी, टोंक से अजीत सिंह मेहता, देवली उनियारा से राजेंद्र गुर्जर, किशनगढ़ से विकास चौधरी, पुष्कर से सुरेश सिंह रावत, अजमेर उत्तर से वासुदेव देवनानी, अजमेर दक्षिण से अनीता भदेल, नसीराबाद से रामस्वरूप लांबा, ब्यावर से शंकर ङ्क्षसह रावत, मसुधा से सुशील कंवर पलाडा, लाडनूं से मनोहर सिंह, जायल से श्रीमती मंजू बाघमार, नागौर से मोहनराम चौधरी, मेड़ता से भंवराराम रिठारिया, डेगारा से अजय सिंह क्लिक, परबतसर से मान सिंह किणसरिया, नावां से विजय सिंह चौधरी, जेतारण से अविनाश गहलोत, सोजत से शोभा चौहान, पाली से ज्ञानचंद पारख, मारवाड़ जंक्शन से केसाराम चौधरी, बाली से पुष्पेंद्र सिंह राणावत, फलौदी से पब्बाराम बिश्रोई, लोहावट से गजेंद्र सिंह खींवसर, शेरगढ़ से बाबू सिंह राठौड़, औसियां से भैराराम चौधरी, भोपालगढ़ से कमसा मेघवाल, सरदारपुरा से शंभूसिंह खेतासर, जोधपुर से अतुल भंसाली, सूरसागर से सूर्यकांता व्यास, लूणी से जोगाराम पटेल, बिलाड़ा से अर्जुनलाल गर्ग, बाडमेर से कर्नल सोनाराम, बायतू से कैलाश चौधरी, पचपदरा से अमराराम चौधरी, शिवाना से हमीर सिंह भायल, गुढामलानी से लादूराम बिश्रोई, आहोर से छगन सिंह राजपुरोहित, जालौर से जोगेश्वर गर्ग, भीनमाल से पूराराम चौधरी, सांचौर से दानाराम चौधरी, रानीवाड़ा से नारायण सिंह देवल, सिरोही से ओटाराम देवासी, पिंडवाडा आबू से सम्माराम गरासिया, रेवदर से जगसीराम कोहली, गगूंडा से प्रतापलाल गमेती, झलोड से बाबूलाल खराडी, खेरवाड़ा से शंकरलाल खराड़ी, उदयपुर ग्रामीण से फूल सिंह मीणा, उदयपुर से गुलाबचंद कटारिया, मावली से धरमनारायण जोशी, सलूंबर से अमृतलाल मीणा, धरियावद से गौतमलाल मीणा, डूंगरपुर से माधवलाल वराहत, आसपुर से गोपीचंद मीणा, सागवाड़ा से शंकरलाल डेचा, चौरासी से सुशील कटारा, घाटोल से हरेंद्र नीनामा, बागीडोरा खेमराज गरासिया, कुशलगढ़ से भीमाबाई डामोर, बेंगू से सुरेश धाकड़, चित्तौडग़ढ़ से चंद्रभान सिंह, नींबाहेडा से श्रीचंद कृपलानी, बारी सादड़ी से ललित ओस्तवाल, प्रतापगढ़ से हेमंत मीणा, भीम से हरीसिंह रावत, कुंभलगढ़ से सुरेंद्र सिंह राठौड़, राजसमंद से किरण महेश्वरी, मांडल से कालूलाल गुर्जर, सहाड़ा से रूपलाल जाट, भीलवाड़ा से बि_लशंकर अवस्थी, शाहपुरा से कैलाशचंद्र मेघवाल, बूंदी से अशोक डोगरा, सांगोद से हीरालाल नागर, कोटा उत्तर से प्रहलाद गुंजल, कोटा दक्षिण से संदीप शर्मा, रामगंजमंडी से मदन दिलावर, अंता से प्रभूलाल सैनी, किशनगंज से ललित मीणा, छाबड़ा से प्रतापसिंह सिंघवी, झालरापाटन से वसुंधरा राजे, खानपुरा से नरेंद्र नागर, मनोहरलाल थाना से गोविन्द रानीपुरिया को टिकट दिया गया है।

चालीस साल में पहली बार देवीसिंह नहीं
वर्ष १९८० के बाद पहली बार बीकानेर के कद्दावर नेता देवी ङ्क्षसह भाटी चुनाव नहीं लड़ेंगे। उन्होंने टिकट नहीं लडऩे की सबसे पहले घोषणा 'दैनिक नेशनल राजस्थानÓ के साथ बातचीत में दी थी। अब उनकी जगह पूर्व सांसद महेंद्र सिंह भाटी की पत्नी पूनम कंवर उम्मीदवार होगी। कंवर ने इससे पहले बीकानेर पूर्व से भी पर्चा दाखिल किया था लेकिन बाद में वापस ले लिया।
तीसरी बार सिद्धि और विश्वनाथ
बीकानेर की दो सीटों पर लगातार तीसरी बार जीत की हेट्रिक लगाने का अवसर बीकानेर पूर्व की सांसद सिद्धि कुमारी और खाजूवाला विधायक डॉ. विश्वनाथ को दिया गया है। हालांकि इनके साथ ही दो बार जीत चुके बीकानेर पश्चिम के विधायक गोपाल कृष्ण जोशी को पहली सूची में स्थान नहीं मिल पाया है।
नोखा में बिहारी नहीं तो विरोध की चेतावनी
उधर, नोखा के टिकट की घोषणा अब तक नहीं हुई है। माना जा रहा है कि बिहारी बिश्रोई को अगर टिकट नहीं दिया गया तो बिश्रोई समाज संगरिया से सांचौर तक भाजपा के खिलाफ लामबंद हो सकता है। पिछले चुनाव में भी बिहारी को टिकट नहीं मिलने से नाराज बिश्रोई समाज ने असर दिखाया था।
सुमित को मेहनत का फल
पिछले चुनाव में दूसरे नंबर पर रहे सुमित गोदारा को पिछले पांच साल तक पार्टी के लिए मेहनत करने का फल दिया गया है। एक तरफ जहां जीते हुए विधायकों के टिकट काटे गए हैं, वहीं सुमित गोदारा को हारने के बाद भी टिकट मिलने को महत्वपूर्ण माना जा रहा है।
एक सांसद को मिला टिकट
१३१ उम्मीदवारों की सूची में भाजपा ने अब तक एक सांसद कर्नल सोनाराम को बाडमेर से टिकट दिया है। हालांकि पार्टी नेता जे.पी. नड्डा ने अगली सूची में भी सांसदों के नाम आने से इनकार नहीं किया है।
हबीबुर्र रहमान का टिकट नहीं
नागौर से भाजपा के बड़े नेता और मुस्लिम चेहरे हबीबुर्ररहमान का टिकट काट दिया गया है। ऐसे में पार्टी को विरोध का सामना करना पड़ सकता है।
शिव से अभी उम्मीदवार तय नहीं
हाल ही में भाजपा छोड़ कांग्रेस में शामिल हुए पार्टी के शिव विधायक मानवेंद्र सिंह की जगह नया उम्मीदवार अब तक तय नहीं हो पाया है। पार्टी के लिए शिव अब चुनौतीपूर्ण सीट बन गई है।

Last modified onSunday, 11 November 2018 19:11
DNR Reporter

DNR desk

Leave a comment

Make sure you enter the (*) required information where indicated. HTML code is not allowed.

back to top

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News