Menu

top banner

पंचायत सहायकों की भर्ती में फिर अनियमितता Featured

बीकानेर। जिले की वंचित ग्राम पंचायतों में शुरू हुई पंचायत सहायकों की भर्ती में फिर त्रुटि यां व अनियमितताएं उजागर हो रही है। मामला खाजूवाला पंचायत समिति के ग्राम पंचायत 2 केडब्ल्यूएम का है। जहां स्थानीय कमेटी ने नियमों को ताक पर रखकर बाहरी व कम आयु के आवेदककर्ता का चयन कर लिया। यह तो एक मात्र उदाहरण है। बीकानेर जिले में ऐसे अनेक प्रकरणों में हुए है। जिसका खमियाजा पात्र व स्थानीय होने के बावजूद आवेदकों को वंचित कर दिया गया है।
जानकारी के मुताबिक स्थानीय शाला विकास एवं प्रबन्धन समितियां पंचायत सहायकों की भर्ती करने में पूरी तरहे से स्वच्छंद है। स्थानीय एसडीएमसी की ओर से किए गए चयन में जिला कमेटी भी हस्तक्षेप नहीं कर पा रही है। चक दो केडब्ल्यूएम में तो पंचायत सहायक के चयन प्रक्रिया में वकायदा पीईईओ चन्द्रपाल सिंह यादव ने जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक शिक्षा के मौखिक आदेश का हवला देते हुए बज्जू श्रीकोलायत निवासी भागीरथ राम भांभू का चयन कर दिया। जबकि स्थानीय निवासी विष्णुदत्त विश्नोई के चयन में दिए गए अंक भी उसके समान है। यही नहीं विश्नोई की उम्र भी अधिक है। अंतर सिर्फ इतना है कि भांभू विद्यार्थी मित्र है और विश्नोई प्रेरक।
स्पष्ट आदेश नहीं
जिले सहित प्रेदश की वंचित ग्राम पंचायतों में पंचायत सहायक की फिर से शुरू हुई भर्ती में विद्यार्थी मित्र को ही लगाए जाने के स्पष्ट आदेश नहीं होने के कारण आवेदकों में खासा रोष व्याप्त है। चयन से वंचित आवेदकों का आरोप है कि चयन के दौरान विद्यार्थी मित्र लगाए जाने के सरकार के लिखित में आदेश नहीं है। चयनकर्ता सिर्फ डीईओ के मौखिक आदेश का हवाला देकर ही पंचायत सहायकों का चयन कर रहे है। इसको लेकर आवेदनकर्ताओं में कई प्रकर की भ्रांतियां व रोष व्याप्त है।
इनका कहना है
'पंचायत सहायक के चयन में पूरी तरह से पारदर्शिता बरती जा रही है। यदि किसी संबंधित एसडीएमसी ने गलत चयन किया है तो इस बारे में राज्य सरकार से दिशा निर्देश मांगे जाएंगे। Ó
अनिल गुप्ता, जिला कलक्टर

DNR Reporter

DNR desk

Leave a comment

Make sure you enter the (*) required information where indicated. HTML code is not allowed.

back to top

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News