Menu

top banner

आलीजा म्हारो गोरबंध नखराळो... Featured

डीएनआर रिपोर्टर. बीकानेर

'आसमान से पावर्ड पैराशूट से हो रही पुष्प वर्षा, शोभायात्रा में शामिल नख-शिख सजे ऊंट, मूंछों पर ताव देते रौबीले, पारंपरिक वेशभूषा में देशी-विदेशी पुरूष व महिलाएं, चंग की थाप के साथ गूंजते लोकगीत तो मशक वादन से बरबस ही देशी-विदेशी पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करते लोक कलाकार और इन अविस्मरणीय क्षणों को मोबाइल और कैमरे में कैद करते सैकड़ों लोग कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला शनिवार को जिला प्रशासन व पर्यटन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में प्रारम्भ हुए दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव के पहले दिन का।
बीकानेर पूर्व विधानसभा क्षेत्र की विधायक सिद्धि कुमारी, पुलिस महानिरीक्षक बिपिन कुमार पांडेय, जिला कलक्टर अनिल गुप्ता, पुलिस अधीक्षक सवाई सिंह गोदारा, एसबीआई के डीजीएम विनीत कुमार, अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) शैलेन्द्र देवड़ा, संयुक्त निदेशक पर्यटन जी एस गंगवाल ने रंग-बिरंगे गुब्बारे और शांति के प्रतीक सफेद कपोत हवा में छोड़कर महोत्सव का आगाज किया तो मानो पूरे देश की संस्कृति डॉ. करणीसिंह स्टेडियम में जीवंत हो उठी। ढोल, नगाड़ों और शंख की सुमधुर ध्वनि के बीच हजारों की संख्या में स्टेडियम में मौजूद देशी-विदेशी पर्यटकों ने इस ऐतिहासिक क्षण का तालियां बजाकर स्वागत किया।

जूनागढ़ से रवाना हुई शोभायात्रा
इससे पहले, जिला कलक्टर अनिल गुप्ता व पुलिस अधीक्षक सवाई सिंह गोदारा ने जूनागढ़ के आगे से शोभायात्रा को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया व वे शोभायात्रा के साथ डॉ. करणीसिंह स्टेडियम तक पैदल चले। जिला कलक्टर व पुलिस अधीक्षक ने लोक नर्तकों के साथ नृत्य कर, उनका उत्साहवर्धन किया।
शोभायात्रा में बुलेट पर खेमसा पुरोहित सबसे आगे रहे। इसके बाद सजे-धजे ऊंटों पर सवार रौबीलों ने देशी-विदेशी मेहमानों का अभिवादन किया। वहीं अनूपगढ़ के मंगलाराम भील व खाजूवाला के ओमप्रकाश व पार्टी मश्क पर लोकगीतों की धुनों को प्रस्तुत करते हुए चल रहे थे। चूरू की गोपाल राम पार्टी चंग पर धमाल गाते हुए, गोगामेड़ी के रामकुमार नाथ एंड पार्टी कालबेलिया सपेरों की पूंगी (बीन) बजाते हुए शामिल हुए, वहीं शशि कुमार सिंह व पार्टी के कच्छी घोड़ी नृत्य, दौसा के शुभाती खान एवं पार्टी का बहरुपिया दल व बूंदी के ही हरि शंकर नागर व पार्टी के बैल नृत्य की भी झलक देखने को मिली। रौबीले गिरधर व्यास, अनिल बोड़ा एवं पार्टी शाही पोशाक में शोभा बढ़ा रहे थे।
शोभायात्रा यहां से होते हुए डॉ. करणीसिंह स्टेडियम पहुंची। यहां रणबांकुरा क्लब के रॉयल इनफील्ड मोटर साइकिलों पर सवार जांबाज थे तो विंटेज वाहन भी आकर्षण का केन्द्र थे। उत्सव के उद्घाटन सत्र में शंख वादन, बांसुरी वादन सहित आर.ए.सी. व आर्मी के बैगपाइपर बैंड ने लोक व पारम्परिक गीतों की स्वर लहरियां बिखेरीं। राजनारायण पुरोहित व राकेश बिस्सा ने लोकगीत प्रस्तुत किए। एसबीआई की कैमल मोबाइल बैंक ने पर्यटकों को आश्चर्य चकित कर दिया। यहां पर बैंक कर्मचारी एसोसिएशन के अध्यक्ष सीताराम कच्छावा और अस्पताल शाखा के प्रबंधक जितेन्द्र माथुर ने अतिथियों का स्वागत किया।

ऊंट कला का करिश्मा

ऊंट के बाल कतराई प्रतियोगिता के दौरान प्रतियोगियों ने कला के करिश्मे का प्रदर्शन किया। बेहतरीन व कलात्मक तरीके से बॉलों की कटिंग कर धरती-अम्बर, देवी-देवता, रेगिस्तान के धोरों पर थिरकते ऊंट, मयूर,पशु.पक्षी, वन्यजीव, बेल बूटों का प्रदर्शन किया। वहीं हवाई जहाज, भारत के नक्शे, पनिहारी, बाबा रामदेव देवी करणीमाता सहित विविध आकृतियों को ऊंट पर चित्रित कर दिया।

दूल्हा-दूल्हन सा श्रृंगार


ऊंट श्रृंगार प्रतियोगिता में 10 ऊंटों के दूल्हा-दूल्हन सा श्रृंगार किया हुआ था। मोती, फूल,कांच के गोरबंध, दूल्हा-दूल्हन के विवाह में पहने जाने वाले आभूषण, तिरंगा ध्वज विभिन्न तरह के गहन,पैरों में घूघरू, नेवरी, नाक में नथ, जरी, बेलबूटों के गोरबंध आकर्षण का केन्द्र बने हुए थे।

नृत्य के साथ रोमांचक करतब

ऊंट की नृत्य प्रतियोगिता के दौरान अनेक ऊंट पालकों ने नृत्य के दौरान अनेक रोमांचक करतब कर देशी-विदेशी पर्यटकों के दांतों तले अंगूली दबाने को मजबूर कर दिया। पर्यटकों ने ऊंट की नृत्य की अदाओं को अपने कैमरे में कैद किया। नृत्य करने वाले ऊंटों ने पुलिस महानिरीक्षक विपिन पांडेय, जिला कलक्टर अनिल गुप्ता व पुलिस अधीक्षक सवाई सिंह गोदारा, महापौर नारायण चोपड़ा और देशी-विदेशी सैलानियों का दोनों घूटने टेककर सिर को नीचा कर किया। वहीं अनेक करतब दिखाए। झुंझुनूं के नेकीराम के ऊंट हंसराज व मोती ने अपने मालिक की गर्दन को अपने दातों के बीच में रखकर अपनी स्वामी भक्ति दिखाई वहीं दोनों पैर ऊपर कर थिरकते हुए करतल ध्वनि बटोरी।

1.53 लाख की विदेशी मुद्रा का लेन-देन

अन्तरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव में शनिवार को एस.बी.आई. की अस्पताल मार्ग शाखा द्वारा लगाये गये कैमल बैंक के माध्यम से 15 विदेशी पर्यटकों द्वारा कुल 1.53 लाख रुपए का विदेशी मुद्रा का लेन-देन किया गया। देशी पर्यटकों के लिए बैंक द्वारा करणीसिंह स्टेडियम में मोबाइल एटीएम की सुविधा भी प्रदान की गई।

DNR Reporter

DNR desk

Leave a comment

Make sure you enter the (*) required information where indicated. HTML code is not allowed.

back to top

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News