Menu

आईपीएल के जोश के साथ बढ़ता आईपीएल

नोखा, श्रीडूंगरगढ़, नापासर में भी सटोरियों ने मजबूती के साथ कदम जमा रखे हैं

linen

बीकानेर। इंडियन प्रीमियम लीग का नशा जैसे जैसे चढ़ता जा रहा है, वैसे-वैसे बीकानेर में सट्टेबाज बीकानेर में चांदी कूट रहे हैं। गरीब और अनपढ़ लोग जहां अपना सब कुछ दावं पर लगा रहे हैं, वहीं धनाढ्य सट्टेबाज जमकर रुपए बटोर रहे हैं। पुलिस ने कार्रवाई तो शुरू की है लेकिन सट्टेबाज उनसे दो कदम आगे हैं।
एक अनुमान के मुताबिक अकेले बीकानेर में करोड़ों रुपए का सट्टा खेला जा रहा है। जिसका बड़ा हिस्सा बीकानेर शहरी क्षेत्र का है। इसके अलावा नोखा, श्रीडूंगरगढ़, नापासर में भी सटोरियों ने मजबूती के साथ कदम जमा रखे हैं। पिछले दिनों सदर थानाधिकारी का जिम्मा बदलने के साथ ही एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया गया था लेकिन इसके बाद से स्थिति जस की तस है।
हाइटेक है सटोरिये
बीकानेर सहित देशभर में सटोरिये हाइटेक हो चुके हैं। इनके पास अत्याधुनिक संसाधन है, इधर से उधर होने के लिए पूरे इंतजाम है। पुलिस को सूचना मिलने से पहले ही सटोरिए गायब हो जाते हैं।
बाहर जाकर करते हैं सट्टा
बीकानेर के सटोरियों ने शहर के बजाय आसपास के कस्बों को अपना निशाना बनाया है। यही कारण है कि नापासर में बुधवार को पुलिस ने बीकानेर के युवाओं को गिरफ्तार किया। इसमें रानी बाजार निवासी दीपक मैनी और सिटी कोतवाली के पीछे रहने वाले गजेंद्र भाटिया को गिरफ्तार किया। इनसे बारह मोबाइल जब्त किए गए। करीब दस हजार रुपए बरामद किए गए हैं।
आठ जुआरी भी धरे
उधर, सदर पुलिस ने रविवार को आठ जनों को जुआ खेलने के आरोप में गिरफ्तार किया है। तीन अलग अलग मामलों में गिरफ्तार इन लोगों में कैलाश, संजय, दिनेश, नरेंद्र, अब्दुल, दुलाराम, सलीम व अन्नू को गिरफ्तार किया है। पुलिस की रिपोर्ट में इनके नाम शार्ट में दिए गए हैं।

Read more...

सूरत के पांच युवकों से बीकानेर में ठगी, जर्मनी में नौकरी का झांसा

डीएनआर रिपोर्टर.बीकानेर
नाल एयरपोर्ट पर नौकरी लगाने के नाम पर धोखाधड़ी करने के एक प्रकरण का अभी निपटारा ही नहीं हुआ है कि कोटगेट थाना क्षेत्र में एक और ऐसा ही मामला सामने आया है। इस बार नौकरी नाल में नहीं बल्कि जर्मनी में लगाने का झांसा देकर लाखों रुपए ठग लिए गए।
दरअसल, मंगलवार रात को इस मामले का खुलासा हुआ जब भाजपा नेता मोहन सुराना मौके पर पहुंचे। स्टेशन के पास स्थित एक होटल में पहुंचकर सूरत के कुछ लोगों के बारे में पड़ताल की।
दरअसल, विदेश भेजने के नाम पर लाखों रुपए ऐंठने वाले पांच जनों को इस होटल में लेकर पहुंचे थे। वहां इन लोगों से रुपए लेकर जहरीला पदार्थ खिला दिया, जिससे वो बेहोश हो गए। ठग रुपए लेकर फरार हो गए। ठगी के शिकार हुए पांचों जनों गुजरात के सूरत के रहने वाले हैं।

sagarmal
जर्मनी की कंपनी का पत्र सौंपा
यहां उन्हें जर्मनी की एक कंपनी में नौकरी लगाने का झांसा देते हुए बकायदा एक पत्र भी दिया गया। जिसमें एक महीने नौकरी और एक महीने अवकाश की सुविधा दी गई। भारी भरकम पैकेज वाली यह नौकरी महज एक कागज पर लिखे पत्र के आधार पर ठगी के शिकार हुए लोगों ने स्वीकार भी कर ली।
होटल संचालक ने दी पुलिस को जानकारी
होटल संचालक को मिली तो उन्हें तुरंत पुलिस को इतला दी। पुलिस ने पांच जनों को पीबीएम में भर्ती करवाया है। जिसमें से दो की हालत गंभीर बताई जा रही है। पीबीएम चौकी इंचार्ज संदीप विश्नोई ने बताया कि पुलिस ठगी करने वालों की तलाश में जुट गई है।
पहले एयरपोर्ट पर नौकरी का झांसा
कुछ दिन पहले ही दो जनों को बीकानेर एयरपोर्ट पर नौकरी का झांसा दिया गया था। इन लोगों से भी लाखों रुपए की ठगी की गई और एक नियुक्ति पत्र सौंपकर नाल रवाना कर दिया गया। वो लोग यहां पहुंचे तो सुनकर हैरान हो गए कि नियुक्ति पत्र फर्जी है।

5x4 priya english school

 

Read more...

...तो ऐसे याद आएंगे जननेता मक्खन जोशी

बीकानेर। नगर विकास न्यास के पूर्व अध्यक्ष मक्खन जोशी की पुण्यतिथि के अवसर पर 14 जनवरी को युवा जागृति अभियान की शुरूआत की जाएगी। वर्षभर चलने वाले इस अभियान के पहले चरण में 14 जनवरी को मिलेनियर मतदाता सम्मानित होंगे। साथ ही निर्वाचन प्रक्रिया के तहत श्रेष्ठ कार्य करने वाले कार्मिकों का सम्मान किया जाएगा।

shree krishna
मक्खन जोशी वेलफेयर सोसायटी के सचिव अविनाश जोशी ने बताया कि शुक्रवार को सोसायटी की बैठक नयाशहर स्थित कार्यालय में आयोजित हुई। बैठक में अभियान चलाए जाने का निर्णय लिया गया। उन्होंने बताया कि अभियान के पहले चरण में 1 जनवरी 2000 को जन्मे तथा मतदाता सूची में नाम जुड़वाने के लिए आवेदन करने वाले युवाओं का अभिनंदन किया जाएगा। जोशी ने बताया कि युवा जागृति अभियान के तहत मतदाता जागरूकता के अलावा कॅरियर गाइडेंस, समय प्रबंधन, मोटिवेशन सेमिनार का भी आयोजन होगा। अभियान के तहत 'युवा संसदÓ के माध्यम से युवाओं को लोकतंत्र के विभिन्न पहलुओं की जानकारी दी जाएगी।

cricket add

Read more...

पंचायत सहायकों की भर्ती में फिर अनियमितता

बीकानेर। जिले की वंचित ग्राम पंचायतों में शुरू हुई पंचायत सहायकों की भर्ती में फिर त्रुटि यां व अनियमितताएं उजागर हो रही है। मामला खाजूवाला पंचायत समिति के ग्राम पंचायत 2 केडब्ल्यूएम का है। जहां स्थानीय कमेटी ने नियमों को ताक पर रखकर बाहरी व कम आयु के आवेदककर्ता का चयन कर लिया। यह तो एक मात्र उदाहरण है। बीकानेर जिले में ऐसे अनेक प्रकरणों में हुए है। जिसका खमियाजा पात्र व स्थानीय होने के बावजूद आवेदकों को वंचित कर दिया गया है।
जानकारी के मुताबिक स्थानीय शाला विकास एवं प्रबन्धन समितियां पंचायत सहायकों की भर्ती करने में पूरी तरहे से स्वच्छंद है। स्थानीय एसडीएमसी की ओर से किए गए चयन में जिला कमेटी भी हस्तक्षेप नहीं कर पा रही है। चक दो केडब्ल्यूएम में तो पंचायत सहायक के चयन प्रक्रिया में वकायदा पीईईओ चन्द्रपाल सिंह यादव ने जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक शिक्षा के मौखिक आदेश का हवला देते हुए बज्जू श्रीकोलायत निवासी भागीरथ राम भांभू का चयन कर दिया। जबकि स्थानीय निवासी विष्णुदत्त विश्नोई के चयन में दिए गए अंक भी उसके समान है। यही नहीं विश्नोई की उम्र भी अधिक है। अंतर सिर्फ इतना है कि भांभू विद्यार्थी मित्र है और विश्नोई प्रेरक।
स्पष्ट आदेश नहीं
जिले सहित प्रेदश की वंचित ग्राम पंचायतों में पंचायत सहायक की फिर से शुरू हुई भर्ती में विद्यार्थी मित्र को ही लगाए जाने के स्पष्ट आदेश नहीं होने के कारण आवेदकों में खासा रोष व्याप्त है। चयन से वंचित आवेदकों का आरोप है कि चयन के दौरान विद्यार्थी मित्र लगाए जाने के सरकार के लिखित में आदेश नहीं है। चयनकर्ता सिर्फ डीईओ के मौखिक आदेश का हवाला देकर ही पंचायत सहायकों का चयन कर रहे है। इसको लेकर आवेदनकर्ताओं में कई प्रकर की भ्रांतियां व रोष व्याप्त है।
इनका कहना है
'पंचायत सहायक के चयन में पूरी तरह से पारदर्शिता बरती जा रही है। यदि किसी संबंधित एसडीएमसी ने गलत चयन किया है तो इस बारे में राज्य सरकार से दिशा निर्देश मांगे जाएंगे। Ó
अनिल गुप्ता, जिला कलक्टर

Read more...
Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News