Menu
DNR Reporter

DNR Reporter

DNR desk

Website URL:

ट्रेक्टर की टक्कर से मोटरसाइकिल सवार की मौत

बीकानेर। नाल रोड पर कल्ला पेट्रोल पंप से आगे मंगलवार शाम ट्रेक्टर की टक्कर से एक मोटरसाइकिल सवार की मौत हो गई जबकि उसका साथी घायल हो गया। गंगाशहर पुलिस ने टे्रक्टर व बाईक कब्जे में ली है जबकि मृतक के शव को पीबीएम अस्पताल के मुर्दाघर में रखवाया है। मुख्य मार्ग के दूसरी तरफ सड़क का काम चलने से एकतरफा यातायात स्वत: चल रहा है। इस दुर्धटना के बाद मौके पर भीड़ जमा हो गई। पुलिस नियंत्रण कक्ष ने नयाशहर व गंगाशहर दोनों थानों को सूचना दी। सूचना मिलने के बाद पहले नयाशहर थाने से एएसआई बीरबल मौके पर गए और फिर क्षेत्राधिकार के हिसाब से गंगाशहर थाने से एएसआई रणजीत सिंह गए। सूचना मिलने के बाद सीओ सदर कार्यालय का काम देख रहे आरपीएस प्रशिक्षु देवेन्द्रसिंह भी मौके पर गए।भीड़ को हटा कर मृतक व घायल को पीबीएम भेजा गया। गंगाशहर पुलिस के अनुसार मृतक का नाम ओमप्रकाश25 निवासी मोडायत-गजनेर है जबकि उसके साथ बाबूलाल25पुत्र रतनलाल है। ट्रेक्टर हनुमानगढ का है जो गजनेर की तरफ जा रहा था। मोटरसाइकिल सवार सामने से बीकानेर आ रहे थे।

आकाशीय बिजली गिरने से युवक की मौत

बीकानेर। महाजन के जैतपुर गांव में मंगलवार दोपहर बाद बरसात के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से एक युवक की मौत हो गई जबकि उसकी पत्नी सहित दो जने घायल हो गए। इन सभी को महाजन के राजकीय चिकित्सालय ले जाया गया है। इस घटना की सूचना गांव में आग की तरह फैली और देखते ही देखते भीड़ जमा हो गई। महाजन सहित जिला मुख्यालय तक फोन घनघनाने लगे। पुलिस नियंत्रण कक्ष से महाजन पुलिस को सूचना दी गई। सीआई मजीद खां ने बताया कि सूचना मिलने के बाद हेडकांस्टेबल भोलूराम व स्टाफ को मौके पर भेजा गया। जानकारी के अनुसार मृतक का नाम मूलाराम 28 पुत्र पुरखाराम मेघवाल है। वह अपने खेत में बरसात के दौरान कच्चे झूंपे की ओट में पत्नी भंवरी देवी व भाई हनुमानराम के साथ बैठा था तभी तेज गर्जना के साथ बिजली चमकने के साथ ही गिरी। मूलाराम संभल नहीं पाया और जल गया। उसकी पत्नी व भाई झुलस गए। इनका इलाज कराया जा रहा है। गांव में और किसी तरह के जन-धन हानि की सूचना नहीं है। घटना की जांच शुरु कर दी गई है।

नरेन्द्र मोदी और वसुंधरा राजे के बीच नजर आई दूरियां


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के आपसी रिश्तों की दूरियां इस दौरे में भी दिखी। वसुंधरा राजे ने तो अपनी तरफ से मोदी की जम कर तारीफ की और पूरा स्वागत भी किया, लेकिन पीएम मोदी की तरफ से ज्यादा जुड़ाव नजर नहीं आया। एयरपोर्ट पर स्वागत के दौरान पीएम ने राज्यपाल कल्याण सिंह से तो कुछ देर बात की, लेकिन वसुंधरा राजे के अभिवादन का ढंग से जवाब दिए बगैर आगे बढ़ गए। मंच पर हालांकि राजे मोदी के साथ वाली कुर्सी पर ही थी, लेकिन दोनों के बीच बहुत ज्यादा बातचीत नहीं हुई। भाषण में भी उन्होंने एक बार भी राजस्थान सरकार के कामकाज का उल्लेख या तारीफ नहीं की। इतना ही नहीं इस कार्यक्रम में पहले केंद्र सरकार की सड़क परियोजनाओं के साथ ही राजस्थान सरकार की सड़क परियोजनाओं के लोकर्पाण व शिलान्यास को भी शामिल किया जाना था, लेकिन अंतिम समय पर इसे हटवा दिया गया। इस कार्यक्रम को सिर्फ केन्द्र सरकार की सड़क परियोजनाओं तक ही सीमित कर दिया गया। राज्य सरकार की परियेाजनाएं करीब 12 हजार करोड की रूपए की थी।

बीकानेर में एलिवेटेड तय, केंद्र ने दिए 650 करोड़ रुपए

डीएनआर रिपोर्टर.बीकानेर

बीकानेर में एलिवेटेड रोड बनाने की योजना पर केंद्र सरकार ने मुहर लगा दी है। केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नीतिन गडकरी ने उरमूल सर्किल से रानी बाजार तक एलिवेटेड रोड बनाने के लिए ६५० करोड़ रुपए की घोषणा कर दी है। माना जा रहा है कि अगले कुछ महीने में एलिवेटेड रोड का काम शुरू हो जाएगा और विधानसभा चुनाव से पहले इसे पूरा करने का प्रयास होगा, ताकि भारतीय जनता पार्टी को इसका लाभ मिल सके।
उदयपुर में मंगलवार को हैंगिंग ब्रिज का लोकार्पण करने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम में ही गडकरी ने सात परियोजनाओं की घोषणा की, जिसमें उदयपुर व बीकानेर में एलिवेटेड रोड के लिए बजट की घोषणा शामिल थी। उदयपुर को चार सौ करोड़ रुपए दिए गए हैं, वहीं बीकानेर को 650 करोड़ रुपए मिले हैं।
सैकड़ों दुकानें टूटेगी
एलिवेटेड रोड बनाने के लिए केईएम रोड सहित समूचे क्षेत्र में बड़ी संख्या में दुकानों को तोड़ा जा सकता है। हालांकि इस बारे में अभी कोई अंतिम निर्णय नहीं हुआ है। अगर टू लेन से बड़ी एलिवेटेड रोड बनी तो टूटने वाली दुकानों की संख्या चार सौ से अधिक होगी। इसमें सर्वाधिक दुकानें सार्दुल सिंह सर्किल से रानी बाजार चौराहे के बीच होगी।
शहर के बीच से गुजरेंगे ट्रक?
एलिवेटेड रोड के लिए राशि अगर राष्ट्रीय राजमार्ग के रूप में दी जा रही है तो ट्रक और ट्रोलों का आवागमन भी शहर के भीतरी क्षेत्र से हो सकता है। ऐसे में शहर में दुर्घटनाओं की आशंका बढ़ सकती है, हालांकि स्थानीय प्रशासन इस पर अपने स्तर पर रोक लगा सकता है।
शहरवासियों को बड़ी राहत
फिलहाल शहर के जिन लोगों को कोटगेट के दो रेलवे क्रासिंग पर रुकना पड़ता है, उन्हें एलिवेटेड रोड बनने के बाद राहत मिलना भी तय है। कोटगेट से आगे शहर की ओर जाने वाले लोगों को एलिवेटेड पर चढने के बाद राजीव गांधी मार्ग पर उतरने का अवसर मिलेगा। जहां से वो शहर के भीतरी क्षेत्र में आसानी से जा सकेंगे। वहीं रानी बाजार से पब्लिक पार्क जाने वाले और केईएम रोड से स्टेशन जाने वालों को भी काफी राहत मिल जाएगी।
दुकानदार हैं विरोध में
एलिवेटेड रोड बनने के साथ ही केईएम रोड बाजार के बर्बाद होने की आशंका के चलते स्थानीय व्यापारी जमकर विरोध कर रहे हैं। इन दुकानदारों को लगता है कि अधिकांश लोग केईएम रोड रुकेंगे ही नहीं तो उनकी दुकान पर कौन आएगा? इस क्षेत्र में तीन सौ से अधिक दुकानें अभी है। इसके अलावा जैन मार्केट, खजांची मार्केट और सहल मार्केट आदि में भी बड़ी संख्या में दुकानें हैं।
अभी अदालत में है मामला
एलिवेटेड रोड को लेकर बीकानेर के वरिष्ठ अधिवक्ता आर.के.दास गुप्ता ने राजस्थान उच्च न्यायालय में याचिका दायर की हुई है। सितम्बर के पहले सप्ताह में ही इस याचिका पर सुनवाई होने वाली है। इसके बाद ही एलिवेटेड रोड का भविष्य तय होगा।
यहां से यहां तक
एलिवेटेड रोड
पहले एलिवेटेड रोड दीनदयाल उपाध्याय सर्किल से शुरू हो रही थी लेकिन अब इसे उरमूल सर्किल से प्रारम्भ किया जा रहा है। जो कीर्ति स्तम्भ से होते हुए जूनागढ़ के आगे से सार्दुल सिंह सर्किल होते हुए केईएम रोड तक पहुंचेगी। केईएम रोड के ऊपर यह एलिवेटेड रोड यानी पुल के रूप में तैयार होगी। फड़बाजार चौराहे से यह स्टेशन की ओर मुड़ जाएगी और होटल लालजी के आगे जाकर पुल खत्म हो जाएगा। एलिवेटेड रोड इसी मार्ग से कोटगेट थाने के आगे से होटल हीरालाल के पास से होते हुए रानीबाजार तक पहुंचेगी। एलिवेटेड रोड इस तरह से बनेगी कि नीचे भी यातायात पहले की तरह यथावत चलता रहे। रेलवे को कोटगेट के सामने पेंटर भोज के पास का क्रासिंग चालू ही रखना पड़ेगा।

Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News