Menu

top banner

DNR Reporter

DNR Reporter

DNR desk

Website URL:

अब राजस्थान में नाबालिग से रेप पर होगी सीधी फांसी

 

जयपुर। मध्य प्रदेश में 12 वर्ष से कम उम्र की लड़कियों के साथ बलात्कार होने पर फांसी की सजा का प्रावधान होने के बाद अब राजस्थान में भी ऐसे ही कानून को पास कराने की तैयारी शुरू कर दी गई है। राजस्थान सरकार की ओर से बजट सत्र के दौरान ऐसे ही एक बिल को पास कराने की तैयारी की जा रही है। सरकार का मानना है कि इस बिल के पास होने के बाद ना सिर्फ बलात्कार की घटनाओं में कमी आ सकेगी बल्कि ऐसी घटनाओं में शामिल लोगों को कड़ी सजा भी दिलाई जा सकेगी। राजस्थान सरकार के इस फैसले के बारे में राज्य के गृहमंत्री ने गुलाबचंद कटारिया ने आधिकारिक पुष्टि की है। गृहमंत्री ने जानकारी देते हुए कहा कि सरकार इस बिल को बजट सत्र में लाने की तैयारी कर रही है और जल्द ही इसका एक ड्राफ्ट भी तैयार किया जाएगा।

 

सरकार के संबंधित विभाग अभी मध्य प्रदेश में विधानसभा से पास हुए बिल का अध्ययन कर रहे है। गौरतलब है कि 4 दिसंबर 2017 को मध्य प्रदेश की विधानसभा में दंड विधि संशोधन विधेयक को पास किया गया था। इस बिल के अनुसार राज्य में 12 साल तक की बच्ची के साथ दुष्कर्म या सामूहिक दुष्कर्म के मामले में फांसी तक की सजा दिए जाने का प्रावधान किया गया था। इसके साथ ही इस बिल में विवाह का झांसा देकर संबंध बनाने और उसके खिलाफ शिकायत प्रमाणित होने पर तीन साल कारावास की सजा का प्रावधान भी किया गया था।

एशियन पावरलिफ्टिंग के पदक विजेताओं की निकली विजयी जुलूस


बीकानेर। केरल में आयोजित एशियन क्लासिक पावर लिफ्टिंग चैम्पियनशिप में बीकानेर के हरप्रीत सिंह व जयशंकर ओझा ने सिल्वर, ब्राँज पदक जीता। दोनों के बीकानेर आगमन पर आज जिला पावर लिफ्टिंग संगम की ओर से विजयी जुलूस निकाली गई। जगह-जगह माला पहनाकर विजेताओं का सम्मान किया गया। जुलूस में पॉवर जिम के प्रशिक्षक नागेश सिंह चौहान व कोषाध्यक्ष हनुमान प्रसाद पुरोजित, पं. प्रहलाद ओझा, नवीन पुरोहित, जूलु, राहुल, आशीष ओझा, रोहित ओझा मुख्य रूप से शामिल थे।

कोहरे में लिपटा बीकाणा, गर्म कपड़ों से ढके नजर आए लोग


बीकानेर। धीरे-धीरे सर्दी अपने पूरे रंगत पर नजर आने लगी है। पिछले चार दिनों से स्थिति यह हो रही है कि दिन में भी लोग देर से घर से निकलते हैं और अलाव का सहारा लेते हैं। गुरुवार को भी दिन में घना कोहरा होने की वजह से वाहनों की गति धीरे हो गई थी। कोहरा इतना घना था कि कुछ मीटर की दूरी पर कोई नजर नहीं आ रहा था। सुबह नौ बजे तक वाहन चालकों ने लाइट जलाकर अपने वाहन चलाए। कोहरा होने के कारण कई बसें भी देरी से रवाना हुई। सुबह स्कूली बच्चे भी ठिठुरते हुए स्कूल जा रहे थे। साथ ही लोगों ने अलाव का सहारा लेकर सर्दी से बचाव करने का जतन किया। दोपहर में कोहरा छंटने के बाद चली ठंडी हवा ने चुभन जैसा अहसास करवा दिया। गर्म कपड़े पहने के बाद भी हवा की ठंडक तेज लग रही थी। दोपहर में हालांकि धूप निकल आई थी लेकिन ठंडी हवा चलने की वजह से धूप का असर कमजोर रहा। शाम को सूर्य छिपने के साथ ही सर्दी ने वापस जोर पकड़ लिया और लोग जल्दी ही घरों में घुस गए। इसके अलावा शहर के अनेक मोहल्लों और चौैकों में लोग अलाव तापते नजर आए। सर्दी बढऩे के साथ ही बाजारों में गर्म खाद्य पदार्थों की बिक्री तथा कपड़ों की मांग बढ़ गई है। इसके अलावा तिल से बनी वस्तुओं की दुकानें भी सज गई है। सर्दी की वजह से तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है। न्यूनतम तापमान 8.8 डिग्री सैल्सियस तथा अधिकतम तापमान 19 डिग्री सैल्सियस दर्ज किया गया था। जबकि बुधवार को न्यूनतम तापमान 13 डिग्री और अधिकतम तापमान 23.5 डिग्री सैल्सियस दर्ज किया था। अर्थात सर्दी बढऩे से न्यूनतम तापमान में करीब पांच डिग्री सैल्सियस की गिरावट रही। जबकि दिन में कोहरा होने तथा ठंडी हवा चलने से अधिकतम तापमान करीब चार डिग्री सैल्सियस की गिरावट दर्ज की गई। मौसम विशेषज्ञों के अनुसार आगामी दिनों में सर्दी में तेजी आने की संभावना है।

आज हुआ जबरदसत हंगामा, पुलिस ने खदेड़ा बीकानेर एनएसयूआई के छात्रों को, तीन गिरफ्तार

बीकानेर। फीस वृद्धि के विरोध में चल रहे आंदोलन के तहत गुरुवार को महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय में एनएसयूआई छात्रों व पुलिस प्रशासन के बीच हुई जबरदस्त खींचतान हुई और पुलिस ने छात्रों को हटाने के लिए हल्का बल का प्रयोग कर छात्रों को खदेड़ा। वहीं एनएसयूआई के तीन पदाधिकारियों को नाल पुलिस ने शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार किया। डूंगर कॉलेज में फीस वृद्धि को लेकर एनएसयूआई की ओर से कई दिनों से आंदोलन चल रहा है। गुरुवार को संभागभर से आए छात्रों ने डूंगर कॉलेज से विश्वविद्यालय तक रैली के माध्यम से पहुंचकर विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान छात्रों की भीड़ को देखते हुए नाल थाने से भारी पुलिस बल थाना प्रभारी धरम पूनिया के नेतृत्व में वहां तैनात हो गया। विश्वविद्यालय प्रशासन ने छात्रों को समझाने का बहुत प्रयास किया लेकिन छात्र अपनी मांग पर अड़े रहे और कुलपति के खिलाफ नारेबाजी करते रहे। इससे माहौल और गरमा गया और छात्र विवि में घुसने का प्रयास करने लगे। इस दौरान मौके पर तैनात पुलिस ने हल्का प्रयोग कर छात्रों को वहां से खदेडऩा शुरू कर दिया। प्रदर्शन के दौरान स्थिति यह हो गई कि रामनिवास ने आत्मदाह की चेतावनी तक दे डाली थी।
तीन छात्र नेताओं को किया गिरफ्तार
प्रदर्शन करने के दौरान नाल पुलिस ने तीन छात्र नेताओं को शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार किया है। नाल थाना प्रभारी धरम पूनिया ने बताया कि शांति भंग करने के आरोप में एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष रामनिवास कूकणा, अशोक जाट और किशनलाल जाट को गिरफ्तार किया गया है।
वार्ता में नहीं बन पाई सहमति
एनएसयूआई के एक प्रतिनिधि मंडल व कुलपति तथा विश्वविद्यालय प्रशासन के बीच वार्ता हुई थी। वार्ता में पांचों मांगों में से चार पर सहमति बन गई लेकिन १०० रुपये फीस वृद्धि वापस लेने की मांग पर कुलपति की ओर से सहमति नहीं बन पाने पर हंगामा शुरू हो गया। इस दौरान एनएसयूआई जिलाध्यक्ष रामनिवास कूकणा ने फीस वृद्धि वापिस नहीं लेने की मांग पर परिसर में आत्मदाह की चेतावनी तक दे डाली।
ये है मांगे
बढ़ाई गई सौ रुपये फीस को भी वापिस लेने, आवेदनों पर फीड रिफण्ड करने, आगामी 5 वर्षों तक फीस बढ़ोत्तरी नहीं करने की मांग की जा रही है।
हाइवे पर जाम
राजकीय डूंगर महाविद्यालय से निकली एनएसयूआई के नेतृत्व में दुपहिया व चौपहिया तथा बसों में छात्रों की रैली गजनेर रोड पर नाचती गाती निकली। इस दौरान वाहनों की अधिक तादाद के कारण जैसलमेर राष्ट्रीय राजमार्ग पर लम्बा जाम लग गया जिसे यातायात पुलिस के जवानों द्वारा बड़ी मशक्कत के बाद सुचारू किया गया।

Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News