Menu

शिक्षा (77)

पुस्तकें उपलब्ध कराने की मांग

बीकानेर। श्री नेहरू शारदा पीठ महाविद्यालय छात्रसंघ अध्यक्ष रूपसिंह के नेतृत्व में प्रतिनिधि मंडल ने प्राचार्य को ज्ञापन देकर पुस्तकालय में पुस्तकें उपलब्ध कराने की मांग की। प्राचार्य ने उपलब्धता शीघ्र सुनिश्चित करने का आश्वासन दिया। इस दौरान विकास सिंह, भागीरथ रामावत, श्रवणसिंह आदि मौजूद थे।

Read more...

पास को प्रवेश की मांग, एनएसयूआई ने किया प्रदर्शन

बीकानेर। पास को प्रवेश देने, एमएससी की सीटें बढ़ाने व कॉलेज में पानी तथा सफाई की पुख्ता व्यवस्था करने की मांग को लेकर एनएसयूआई के सुंदरलाल बैरड़, श्रीकृष्ण गोदारा, रोहित बाना व निकिता बाना के नेतृत्व में छात्रों ने डूंगर महाविद्यालय में मुख्य द्वार बंद कर प्रदर्शन किया। इस दौरान टायर जलाकर नारेबाजी की तथा प्राचार्य कक्ष का घेराव किया। इस अवसर पर चेतावनी दी गई कि समय रहते मांगों पर गौर नहीं किया गया, तो आंदोलन तेज किया जाएगा। प्रदर्शन में छात्रनेता रामचन्द्र भादू, रोहित बाना, प्रमोद विश्नोई रितेश सेवग, मदन सिहाग, अनिल भाटी, अनोपाराम, रेणु विश्नोई, उषा, मीनू, दीपा, सरस्वती, वैशाली, हिमानी, मधु, रेखा, प्रियंका आदि शामिल थे।

Read more...

मदरसा के बच्चों ने निकाली रैली

बीकानेर। सब के लिए तालिम मुहिम के तहत मदरसा नूरानी तालिमुल कुरआन के बच्चों ने रानीसर बास मोहल्ले में रैली निकाली। लोगों में तालिम बेदारी पैदा करने के लिए हाथों में बैनर और तख्तियां उठाए बच्चे विभिन्न गलियों से गुजरे। इस दौरान बच्चों व उनके साथ चल रहे शिक्षा सहयोगी कौसर जहां, नाहिदा परवीन और नसरीन बानो ने बच्चों को मदरसा में प्रवेश दिलवाकर तालिम दिलवाने की बात कही। रैली में मदरसा अध्यक्ष हाजी महबूब राठौड़, सचिव हाजी सिकंदर अली, कोषाध्यक्ष हैदर अली भाटी, मौलाना इस्लामूद्दीन आदि शामिल थे।

Read more...

शिक्षा के अधिकार में बदलाव पर प्रतिक्रिया

डीएनआर रिपोर्टर. बीकानेर, कल के नेशनल राजस्थान के मुखपृष्ठ पर छपी खबर 'शिक्षा के अधिकार में बदलाव' 'अब 5वीं 8वीं में भी हो सकते हैं फेलÓ खबर की शिक्षा जगत में काफी चर्चा हुई है। विभिन्न स्कूलों में कार्यरत सरकारी व गैर सरकारी शिक्षकों की प्रतिक्रिया कुछ इस प्रकार है:-

वरिष्ठ अध्यापक सोमकुमार व्यास ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि सरकार का यह निर्णय सराहनीय है इससे बच्चों का सर्वांगीण विकास होगा और शुरू से ही बच्चों में पढऩे की रूचि पैदा होगी। जब विद्यार्थी को पांच व आठ कक्षा में फेल ही नहीं किया जा रहा था तो बिना योग्यता के मजबूरी में बच्चे को पास करना पड़ता था। इससे शिक्षक पर भी कार्यभार बढ़ जाता था। अब इस निर्णय से योग्य व प्रतिभावान विद्यार्थी है उसको ज्यादा प्रोत्साहन मिलेगा।
वरिष्ठ अध्यापक आनन्द व्यास ने कहा कि इससे शिक्षा का स्तर बढेगा और विद्यार्थीयों में पढऩे की आदत का विकास होगा। विद्यार्थीयों को पता है कि उनको आठवीं कक्षा तक अनुत्तीर्ण नहीं किया जाएगा तो पढ़ाई के प्रति रूचि कम होती है और माध्यमिक स्तर के परीक्षा परिणाम पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। व्यास ने कहा कि यही वह समय होता है जब बच्चे में शिक्षा की नींव पड़ती है।  
निजी स्कूल के संचालक मनोज व्यास ने इस निर्णय कहा कि इस निर्णय से कक्षा पांच तक तो कोई विशेष फर्क नहीं पड़ेगा लेकिन कक्षा आठ तक आते विद्यार्थी का आंकलन करना जरूरी है। अत: कक्षा आठ में विद्यार्थी के मूल्यांकन परीक्षा के माध्यम से करने से योग्य विद्यार्थी ही आगे जाएंगे और जो आगे नहीं जा सके उनको अपनी योग्यता बढ़ाने का अवसर मिलेगा।
व्याख्याता शिवचरण जोशी कहा कि शिक्षक वर्ग व शिक्षा जगत की क्षवि सुधारने की दशा में सकारात्मक सुखद पहल है। निश्चय ही शिक्षा मात्रात्मकता की राह से गुणात्मकता की ओर अग्रसर होगी और अपने उच्चतम अर्थ में फलीभूत होगी। इससेें नवऊर्जा व संचारित होगी व शिक्षक व शिक्षा की प्रतिष्ठा एक पायदान ऊपर स्थापित होगी। अभिभावक व समाज को महत्ती भूमिका निभानी होगी।
वरिष्ठ अध्यापक महेन्द्र मोहता ने कहा यह निर्णय शिक्षा जगत में स्वागत योग्य है। सरकार की अनुत्तीर्ण नहीं करने की नीति से शिक्षकों में पढ़ाने के प्रति अरूचि का माहौल था और बच्चा भी स्कूल में मात्र औपचारिकता पूरी करने आता था। इस निर्णय से शिक्षक व शिक्षार्थियों दोनों में सकारात्मक संबंध व वातावरण का निर्माण होगा।
अध्यापक विकास चौधरी ने कहा है कि आठवीं तक छात्रों को फेल न करने की नीति से छात्रों का शैक्षिक स्तर गिर रहा था और अध्यापकों में भी अध्यापन के प्रति गंभीरता खत्म होती जा रही थी। विद्यार्थियों व शिक्षकों में अध्ययन अध्यापन के प्रति जो उदासीनता की स्थिति उत्पन्न हो रही थी उससे उबरने में यह निर्णय संजीवनी सिद्ध होगा।
वरिष्ठ अध्यापक मनोज कल्ला ने कहा कि कक्षा पांच तक विद्यार्थी को अनुत्तीर्ण नहीं करना चाहिए क्योंकि अनुत्तीर्ण होने से विद्यार्थी में नकारात्मक भाव व शिक्षा के प्रति अरूचि उत्पन्न होती है लेकिन कक्षा छ: से आठ तक में विद्यार्थीयों को अतिरिक्त अवसर और देना चाहिए ताकि उनको शैक्षणिक विकास के ज्यादा अवसर प्राप्त हो।
अध्यापिका नजम खिलजी ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि सरकार का यह निर्णय सराहनीय है और इससे बच्चों का भविष्य सुधरेगा। ग्रामीण क्षेत्रों में जहां शिक्षा का माहौल कम है वहां पुरानी नीति से शैक्षणिक माहौल और नकारात्मक बना था। इस निर्णय से छात्र पढ़ाई में रूचि लेंगे और शिक्षा गंभीर बनेगी।
वरिष्ठ अध्यापक प्रवीण टाक ने कहा कि उच्च प्राथमिक कक्षाओं तक निरंतर उत्तीर्ण करने की नीति नि:संदेह गलत थी सरकार द्वारा किया जा रहा यह संशोधन स्वागत योग्य है। इस कदम से निश्चित रूप से शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार आएगा और गुणात्मक शिक्षा से बच्चे का विकास होगा जो जीवनपर्यन्त काम करेगा।
निजी विद्यालय में अध्यापक मुकेश व्यास ने कहा कि इससे स्तरीय शिक्षा होगी व विद्या का सही अर्थ समझ आएगा। इससे शिक्षा की औपचारिकता समाप्त होगी। इस निर्णय से वे विद्यार्थी जो पढना चाहते हैं उनको उचित व वास्तविक अवसर प्राप्त होंगे।
महिला अध्यापक रूपमणी स्वामी ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार के इस निर्णय से बच्चों में स्वाध्याय की आदत का विकास होगा और राज्य व राष्ट्रीय स्तर पर सकारात्मक परीक्षा परिणाम देचखने को मिलेंगे। स्वामी ने कहा कि कक्षा 5 व 8 में अनुत्तीर्ण नहीं करने से बच्चों में शिक्षा के प्रति रूचि कम हुई है और शिक्षा की गंभीरता भी कम हुई है। इस निर्णय से गंभीर व उचित शैक्षणिक माहौल का निर्माण होगा।

Read more...

कुलपति को सौंपा ज्ञापन

डीएनआर रिपोर्टर. बीकानेर, पांच सूत्री मांगों को लेकर गुरुवार को प्रफुल हटीला के नेतृत्व में विद्यार्थियों ने महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय के कुलपति को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि सामान्य वर्ग के लिए शुल्क में बेतहाशा वृद्धि कर दी गई। कुलपति के आने के बावजूद अंक तालिकाओं के मिलने में विलंब हो रहा है। वहीं विवि परिसर में कैंटीन विद्यार्थियों के लिए कैंटीन आदि सुविधाओं का अभाव है। छात्रसंघ अध्यक्ष विक्रम सिंह भाटी, उपाध्यक्ष जितेन्द्र ढ़ाल, पूर्व अध्यक्ष विष्णु साध, उपाध्यक्ष, ब्रह्मदेव गोदारा, महासचिव महेष जाजड़ा, अंकुर ग्रेवाल, गिरीराज पारीक, अर्जून, आदित्य, सोमदश्र व्यास, मनोज हाटिला, सुनील हाटीला इत्यादि छात्रनेता मौजूद थे।

Read more...

स्वच्छता की ली शपथ

बीकानेर। रामपुरिया बीजेएस महाविद्यालय की दोनों रासेयो ईकाइयों द्वारा स्वच्छता पखवाड़ा की शुरूआत की गई। जिसके तहत दोनों ईकाइयों के स्वयंसेवको ने आगामी 15 दिन तक विभिन्न स्वच्छता कार्यक्रमों में सक्रिय भागीदारी की शपथ ली। विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। व्याख्यता एस.के. भाटिया ने स्वच्छता के विषय पर अपना व्याख्यान देकर स्वयंसेवको को स्वच्छता के लिये प्रेरित किया। प्राचार्य डॉ. अनन्त जोशी, डॉ. रीतेश व्यास ने गतिविधियों के बारे में जानकारी दी।

Read more...

पचास फीसदी स्कूलों को मान्यता खटाई में

डीएनआर रिपोर्टर. बीकानेर, शिक्षा सत्र २०१७-१८ में नवीन मान्यता के लिए आवेदन करने वाले पचास फीसदी स्कूलों को निराशा हाथ लगने वाली है। राज्य सरकार ने नवीन मान्यता के लिए ऑनलाइन आवेदन करने वाले आधे स्कूलों के लिए ही पैनल निरीक्षण दल गठित किया, जबकि १४ जुलाई को पोर्टल बंद हो गया। वहीं जिन स्कूलों का पैनल निरीक्षण हुआ। उनमें से भी अधिकांश की रिपोर्ट अपलोड नहीं हो पाई है, जबकि अपडेशन का पोर्टल भी २५ जुलाई को बंद हो गया। ऐसे में सभी आवेदक जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालयों के चक्कर निकाल रहे हैं। 

चालू शिक्षा सत्र में भी मान्यता के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए गए। इनमें अकेले माध्यमिक शिक्षा के अधीन प्रदेश में २५५० आवेदन आए, जबकि प्रारंभिक शिक्षा के अधीन आवेदनों की संख्या इससे अधिक रही। राज्य सरकार ने जुलाई माह में ऑनलाइन पैनल दल गठित करने शुरू किए लेकिन आधे स्कूलों के लिए ही दलों का गठन किया गया। हालांकि आवेदकों को पैनल निरीक्षण की उम्मीद थी लेकिन १४ जुलाई को अंतिम तिथि बीत जाने के बाद विभाग ने आवेदनों को निरस्त कर दिया, जबकि नियमानुसार दस्तावेज कम होने पर उसकी पूर्ति के लिए पुन: मौका मिलना चाहिए था।
एक भी मान्यता नहीं
जले में प्रारंभिक शिक्षा के अधीन ४३ आवेदनों का पैनल निरीक्षण होने के बाद रिपोर्ट २५ जुलाई को पोर्टल बंद होने से पहले अपलोड हो गई। लेकिन मंगलवार तक एक भी स्कूल को मान्यता नहीं दी गई।
पैनल निरीक्षण के बाद भी वंचित
जिन स्कूलों में पैनल दलों ने निरीक्षण किया, उनकी रिपोर्ट २५ जुलाई तक अपलोड करनी थी। जानकारी के अनुसार बीकानेर जिले में प्रारंभिक शिक्षा के अधीन १६० स्कूलों ने आवेदन किया लेकिन १०६ स्कूलों के लिए ही पैनल निरीक्षण दलों का गठन किया गया, लेकिन साठ स्कूलों का पैनल निरीक्षण निर्धारित तारीख तक हो पाया, लेकिन २५ जुलाई तक केवल ४३ स्कूलों की रिपोर्ट ही अपलोड हो पाई। ऐसे में इन्हीं स्कूलों को मान्यता मिलने की उम्मीद है।
मिलना चाहिए मौका
ऑनलाइन आवेदन करने वाले सभी स्कूलों का पैनल निरीक्षण होना चाहिए। निरीक्षण के दौरान यदि मानदंड पूरे नहीं होते हैं, तो स्वत: ही मान्यता नहीं मिलेगी। विभाग को इसे गंभीरता से लेना चाहिए।
-कोडाराम भादू,
जिलाध्यक्ष, स्वयंसेवी शिक्षण संस्था संघ, बीकानेर।
उच्च स्तर का मामला
मान्यता की प्रक्रिया ऑनलाइन है तथा टाईमफ्रेम के अनुसार कार्य हो रहा है। वंचित स्कूलों के पैनल निरीक्षण को लेकर अभी कोई निर्देश नहीं मिले हैं। जिन स्कूलों की पैनल रिपोर्ट अपलोड हुई है, उन्हें शीघ्र मान्यता दे दी जाएगी।
- अख्तर अली,
कार्यवाहक जिला शिक्षा अधिकारी (प्रारंभिक) बीकानेर।

Read more...

जैन कॉलेज में मनाया स्वच्छता पखवाड़ा

बीकानेर। श्री जैन स्नातकोत्तर महाविद्यालय में राष्ट्रीय सेवा योजना के तत्वाधान में स्वच्छता पखवाड़ा मनाया गया। एक दिवसीय एनएसएस शिविर के दौरान राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयं सेवकों द्वारा साफ-सफाई का अभियान चलाया गया जिसमें महाविद्यालय सभी संकाय सदस्य, स्वयंसेवकों ने बढ़-चढ़ कर भाग लिया। प्राचार्य डॉ. अनिल कुमार शर्मा ने स्वच्छता के महत्व पर प्रकाश डाला। विनोद बालानी, एनसीसी प्रभारी मनमोहन पालीवाल के नेतृत्व में विद्यार्थियों ने श्रमदान करते हुए स्वच्छता का संकल्प लिया।

Read more...

शैक्षिक आचरण पर कार्यशाला आज

बीकानेर। महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय के द्वारा शैक्षिक आचरण एवं सत्यनिष्ठा (एकेडेमिक इथिक्स एण्ड इन्टिग्रिटी) पर शुक्रवार को एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया जायेगा। यह कार्यशाला माननीय राज्यपाल एवं कुलाधिपति, महाराजा गंगासिंह के निर्देश पर आयोजित की जा रही है। कार्यशाला के संबंध में विस्तृत जानकारी देते हुए संयोजक प्रो. एस.के. अग्रवाल ने बताया कि कार्यशाला में उद्घाटन एवं समापन सत्र के अलावा तीन तकनीकी सत्र होंगे।

Read more...

माध्यमिक कक्षाओं में प्रवेश तिथि 15 तक बढ़ाई

बीकानेर। प्रदेश में माध्यमिक कक्षाओं में प्रवेश की तिथि १५ अगस्त तक बढ़ा दी गई है। माध्यमिक शिक्षा निदेशक नथमल डिडेल ने बुधवार को इस संबंध में आदेश जारी किए। इससे पहले प्रवेश की ंअंतिम तिथि ३१ जुलाई निर्धारित की गई। इसके बाद भी सरकारी स्कूलों में प्रवेश के लिए आवेदन आने की जानकारी के मद्देनजर निदेशक ने इसे १५ अगस्त तक बढ़ाया है।

Read more...
Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News