Menu

top banner

राष्ट्रीय

लिटरेचर फेस्टिवल में जावेद अख्तर को नहीं आने देगी करणी सेना

जयपुर। राजस्थान के राजपूत राजाओं के खिलाफ विवादास्पद टिप्पणी करने वाले शायर और फिल्म लेखक जावेद अख्तर भी करणी सेना के निशाने पर आ गए है। करणी सेना ने चेतावनी दी है कि जावेद अख्तर को अब लिटरेचर फेस्टिवल में नहीं आने दिया जाएगा।
जावेद अख्तर ने फिल्म पद्मावती के विरोध पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा था कि राजपूत राजाओं ने अंग्रेजों के सामने घुटने टेक दिए थे और अब एक फिल्मकार के पीछे पड़े है। करणी सेना ही नहीं जयपुर के कुछ मुस्लिम संगठनों ने भी जावेद अख्तर के इस बयान का कड़ा विरोध किया है।
्रकरणी सेना के अध्यक्ष महिपाल मकराना का कहना है कि इस तरह का बयान देकर जावेद अख्तर ने अपने प्रति हमारा सम्मान खो दिया। वे पधारो म्हारे देस के हकदार नहीं रह गए है। उनके राजस्थान में आने का विरोध किया जाएगा और जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में नहीं आने दिया जाएगा।
उधर एक मुसिलम संगठन जाकिर हुसैन सोशल एंड वेलफेयर सोसायटीे ने भी जावेद अख्तर के बयान का विरोध किया है। सोसायटी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि इस तरह का बयान दे कर जावेद अख्तर ने राजपूतों ही नहीं बल्कि पूरे राजस्थान का अपमान किया है। जावेद अख्तर यह भूल गए है कि अंग्रेजों का सबसे बड़ा डर राजपूतों का ही था, इसलिए उन्होंने पूरे मारवाड़ को विशेष दर्जा दे कर अपना राज चलाया था।

Read more...

दुष्कर्म के आरोपी पूर्व आईएएस ने किया सरेंडर, चार साल से थे फरार

जयपुर। दुष्कर्म के आरोप में फंसे राजस्थान के पूर्व आईएएस अधिकारी बी.बी. मोहंती ने सोमवार देर रात पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। मोहंती पिछले चार वर्ष से फरार चल रहे थे।
जिस समय मोहंती पर आरोप लगा वे अतिरिक्त मुख्य सचिव के पद पर थे और राजस्थान में पहला यह मामला था जब पद पर रहते हुए किसी आईएएस अधिकारी पर दुष्कर्म के आरोप लगे। फरारी के दौरान ही मोहंती सेवानिवृत्त भी हो गए।
जनवरी 2014 में एक 23 वर्षीय युवती ने जयपुर के महेश नगर थाने में उनके खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था। युवती के अनुसार मोहंती ने जनवरी 2013 में पहली बार जयपुर में ही एक फ्लैट में उसके साथ दुष्कर्म किया था। मोहंती सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कराने के नाम पर उसके साथ दुष्कर्म करते रहे। मोहंती के खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद फरवरी 2014 में राजस्थान सरकार ने मोहंती को निलंबित कर दिया था। इसके बाद जांच कर रही पुलिस की टीम ने उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया था। लेकिन उसके बाद से ही मोहंती फरार थे।
फरवरी 2014 में ही कोर्ट ने मोहंती के खिलाफ गैर जमानती वारंट भी जारी कर दिया था। लेकिन करीब चार वर्ष तक मोहंती किसी के हाथ नहीं लगे। जयपुर पुलिस कमिश्नरेट की कई टीमें लगातार उनकी तलाश में थी।
माना जा रहा है कि आरोपी मोहंती के सरेंडर के पीछे की मुख्य वजह है उनकी आर्थिक तंगी। दरअसल पुलिस की गिरफ्त से दूर रहे मोहंती को लेकर हाईकोर्ट नाराजगी जता चुका था। कोर्ट ने उनके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी करते हुए मोहंती के बैंक अकाउंट बंद करने के आदेश दिए थे। जिसके बाद ही बीबी मोहंती पर दबाव बना और उन्होंने एसीपी नेमसिंह के सामने सरेंडर कर दिया।

Read more...

तीन तलाक खत्म करने के लिए शीतकालीन सत्र में विधेयक लाने पर विचार कर रही है सरकार

नई दिल्ली। मुस्लिम समाज में जारी एक बार में तीन तलाक कहने की प्रथा को पूरी तरह खत्म करने के लिए सरकार संसद के शीतकालीन सत्र में एक विधेयक लाने पर विचार कर रही है। सूत्रों ने आज बताया कि उचित विधेयक लाने अथवा मौजूदा दंड प्रावधानों में संशोधन पर विचार करने के लिए एक मंत्रीस्तरीय समिति का गठन किया गया है। इसी साल 22 अगस्त को उच्चतम न्यायालय ने अपने ऐतिहासिक फैसले में तीन तलाक की प्रथा को गैरकानूनी और असंवैधानिक करार दिया था। माना जा रहा है कि इस फैसले के बावजूद जमीनी स्तर पर एक बार में तीन तलाक कहने की प्रथा जारी है। भारतीय मुस्लिम महिला संगठन और दूसरे महिला अधिकार समूह यह फैसला आने के बाद से कानून बनाए जाने की मांग करते रहे हैं। सरकार से जुड़े सूत्रों ने बताया, उच्चतम न्यायालय के आदेश को प्रभावी बनाने के क्रम में सरकार इस मामले को आगे बढ़ा रही है और एक उचित विधेयक लाने अथवा मौजूदा दंड प्रावधानों में संशोधन करने पर विचार कर रही है जिससे एक बार में तीन तलाक कहना अपराध माना जाएगा। सूत्रों ने कहा कि विधेयक तैयार करने के लिए मंत्रीस्तरीय समिति का गठन किया गया है और इस संबंध में संसद के शीतकालीन सत्र में विधेयक लाने की तैयारी है। तलाक-ए-बिद्दत मुस्लिम समाज में लंबे समय से चली आ रही एक प्रथा है जिसमें कोई व्यक्ति अपनी पत्नी को एक बार में तीन बार तलाक बोलकर रिश्ता खत्म कर सकता है। सायरा बानो नामक एक महिला ने इस प्रथा को उच्चतम न्यायालय में चुनौती दी थी और इसी पर शीर्ष अदालत ने 22 अगस्त को फैसला सुनाया था। मुस्लिम महिला अधिकार समूहों का कहना रहा है कि शीर्ष अदालत के फैसले के बाद भी तलाक-ए-बिद्दत की पीड़ित महिलाओं को व्यावहारिक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। तलाक होने के बाद महिलाओं के पास एकमात्र रास्ता पुलिस से संपर्क करने का है और कोई स्पष्ट कानूनी प्रावधान नहीं होने पर उन्हें न्याय मिलना मुश्किल है। सरकारी सूत्रों ने कहा कि उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद भी तलाक-ए-बिद्दत के जरिए तलाक दिए जाने के कई मामले सामने आए हैं। जागरूकता के अभाव एवं दंड की व्यवस्था की कमी के चलते ऐसा हो सकता है। न्यायालय के फैसले के तत्काल बाद सरकार ने कहा था कि तीन तलाक पर कानून की जरूरत शायद नहीं पड़े क्योंकि न्यायालय का फैसला इस देश के कानून की शक्ल ले चुका है। उस वक्त सरकार की यह राय थी कि भारतीय दंड संहिता के प्रावधान ऐसे मामलों से निपटने के लिए प्रर्याप्त हैं। सरकार की ओर से विधेयक लाने की योजना को राजनीतिक कदम करार देते हुए ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य कमाल फारूकी ने कहा, न्यायालय के फैसले के बाद कानून की कोई जरूरत नहीं थी। हमें लगता है कि सरकार इस मामले पर राजनीति कर रही है। यह राजनीतिक कदम है। उधर, भारतीय मुस्लिम महिला आंदोलन (बीएमएमए) ने तीन तलाक को लेकर विधेयक लाए जाने की सरकार की योजना का स्वागत करते हुए आज कहा कि सरकार हिंदू विवाह कानून की तर्ज पर एक मुस्लिम परिवार कानून बनाने के लिए ऐसा विधेयक लाए जो कुरान पर आधारित हो और देश के संविधान से भी मेल खाता हो।

Read more...

मिलावटखोरों की पौ बारह, एक मात्र खाद्य सुरक्षा अधिकारी

बीकानेर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की हालत यह हो गई है उनके जयपुर मुख्यालय भेजे जा रहे प्रस्तावों को गौर नहीं किया जा रहा है। यहीं वजह है कि जिले में मिलावटखोरों की नकेल कसने के लिए एक भी खाद्य सुरक्षा अधिकारी स्थाई रुप से नियुक्त नहीं है। इस वजह से जिले की जनता को न जाने कितना मिलावटयुक्त सामान खाने को मजबूर होना पड़ रहा है। जबकि विभाग को यह मालूम है कि हर मिठाई तथा घी की फैक्ट्रियों में मिलावट का काला धंधा जोरों से चल रहा है। लेकिन ज्यादा शिकायत होने पर ही विभाग की आंख खुलती है अन्यथा व्यापारी मजे से मिलावटी सामान को बेच रहे हैं। विभाग ने पूर्व में एक मात्र खाद्य सुरक्षा अधिकारी ही कार्यरत था। लेकिन जुलाई में उनकी सेवानिवृत्ति होने के बाद यह पद रिक्त हो गया था। इसके बाद कई माह तक विभाग की ओर से मिलावटखारों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो पाई थी। जब त्योहारों का सीजन शुरू हुआ तो विभाग ने जयपुर बात कर अस्थाई रुप से एक खाद्य सुरक्षा अधिकारी की व्यवस्था करने की मांग की थी। इस पर विभाग ने श्रीगंगानगर से एक खाद्य सुरक्षा अधिकारी को अस्थाई रुप से बीकानेर भेज दिया था। उस दौरान कुछ दिनों तक दुकानों पर कार्रवाई की गई थी। लेकिन इसके बाद खाद्य सुरक्षा अधिकारी वापस अपने मूल स्थान पर चला गया। इसके पश्चात मिलावटियों के खिलाफ कोर्ई कार्रवाई नहीं हो पार्ई और एक भी सैंपल नहीं लिए गए। जबकि शादियों का सीजन भी शुरू हो गया था। जब विभाग को दुबारा मिलावटखोरों के लिए खिलाफ शिकायत की गई तो वापस श्रीगंगानगर से एक खाद्य सुरक्षा अधिकारी को वापस बीकानेर भेज दिया गया।
सप्ताह में तीन दिन औपचारिकता
श्रीगंगानगर से भेजे गए खाद्य सुरक्षा अधिकारी को यह आदेश दिया गया था कि सप्ताह में तीन दिन दुकानों से खाद्य पदार्थों के सैंपल लेने हैं। इस आदेश की पालना में सैंपल लेने की औपचारिकता शुरू कर दी गई। इसमें भी कभी राजकीय अवकाश आ जाने के कारण सैंपल लेने के काम को ब्रेक लग जाता है। अगर सैंपल ले लिए भी जाते हैं तो उनकी जांच के लिए बीकानेर में कोई पुख्ता व्यवस्था नहीं है। जांच के लिए सैंपल जयपुर स्थित लैब में भेजे जाते हैं जहां पर अन्य जिलों से भी सैंपल आ जाते हैं। ऐसे में सैंपल की जांच समय पर नहीं हो पाती और जिस वस्तु का सैंपल लिया जाता है वह वस्तु ही बिक जाती है।
घी और मावा में सर्वाधिक मिवालट
वैसे तो प्राय: हर खाद्य वस्तु में मिलावट होने की आशंका रहती है लेकिन बीकानेर में मावा और घी में सर्वाधिक मिलावट होती है। विभाग की ओर से एक माह पहले दीपावली पर नकली घी की फैक्ट्रियों पर छापा मारा गया था। इस दौरान बड़ी मात्रा में घी के टिन व निर्माण सामग्री जब्त की गई थी। इसके अलावा मावा रखने के भंडारों पर भी कार्रवाई की गई थी। लेकिन दीपावली के बाद एक भी बड़ी कार्रवाई सामने नहीं आई है। जबकि इस समय शादियों का सीजन चल रहा था और बड़ी मात्रा में घी और मावे की बिक्री हो रही है।

Read more...

अब मोबाइल से एसएमएस करते ही रद्द हो जाएगी ट्रेन की टिकट

जबलपुर। रेलवे ने पैसेंजर के लिए एक नई सुविधा दी है, जिसकी मदद से आप, अपने मोबाइल से एसएमएस कर रेल टिकट रद्द करा सकते हैं। इतना ही नहीं अब पैसेजर अपनी टिकट आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर भी रद्द कर रिजर्वेशन काउंटर से अपना रिफंड ले सकते हैं। इसके लिए उन्हें एसएमएस के द्वारा टिकट रद्द करने के लिए अपना मोबाइल नंबर टिकट बनवाते समय दर्ज करना होगा। एसएमएस के द्वारा टिकट रद्द होते ही आप के मोबाइल पर एसएमएस के जरिए रिफंड और उसमें मिली राशि की जानकारी मिल जाएगी।

Read more...

108 फुट ऊंची हनुमान की मूर्ति को एयरलिफ्ट करने पर विचार करें एजेंसियांः हाईकोर्ट

नई दिल्ली। आने वाले समय में हो सकता है कि आपको झंडेवालान और करोल बाग के बीच स्थित 108 फुट ऊंची विशालकाय हनुमान की मूर्ति कुछ समय बाद न दिखे। दिल्ली हाईकोर्ट ने सोमवार को एमसीडी और सिविक एजेंसियों से हनुमान की मूर्ति को एयरलिफ्ट करने जैसी संभावनाएं तलाशने का निर्देश दिया है। करोल बाग इलाके में रिज रोड में लगातार बढ़ती भीड़ और अतिक्रमण की समस्या से निपटने के लिए हाईकोर्ट ने एक याचिका पर सुनवाई करते हुए यह बात कही। दिल्ली हाईकोर्ट ने सिविक एजेंसियों से पूछा है कि करोल बाग और झंडेवालान के बीच करीब डेढ़ दशक पुरानी 108 फुट ऊंची हनुमान की मूर्ति को एयरलिफ्ट किया जा सकता है या नहीं? 

Read more...

पाक को चीन से नहीं मिला साथ, कहा- भारत नहीं पहुंचा रहा CPEC को नुकसान

बीजिंग। चीन ने पाकिस्तान के जनरल जुबैर महमूद हयात के उस बयान को खारिज कर दिया है जिसमें उन्होंने कहा था कि भारत ने चीन पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर को तबाह करने के लिए 50 करोड़ अमेरिकी डॉलर की लागत से स्पेशल इंटेलीजेंस सेल बनाया है। इस मामले पर चीन ने कहा है कि ऐसी कोई रिपोर्ट सामने नहीं आई है। जनरल हयात ने कहा था कि भारत इलाके में अव्यवस्था और अराजकता फैलाना चाहता है। तो वहीं चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने कहा है कि हमें इस तरह की कोई रिपोर्ट नहीं मिली है। 

Read more...

मंगल 2020 मिशन के लिए नासा का पहला पैराशूट परीक्षण सफल

वाशिंगटन, 21 नवंबर (भाषा) अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने आवाज की गति से तेज चलने वाले (सुपरसॉनिक) एक अवतरण पैराशूट का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है जिसका इस्तेमाल वह वर्ष 2020 के अपने मंगल ग्रह मिशन के दौरान करेगा। यह मिशन 5.4 किलोमीटर प्रति सेकेंड की गति से मंगल के वातावरण में प्रवेश करने वाले अंतरिक्षयान की गति को धीमा कर सकने वाले एक खास तरह के पैराशूट पर निर्भर होगा। मिशन के लिए की जा रही तैयारियों को पहली बार एक वीडियो के जरिए दिखाया गया है जिसमें पैराशूट को आवाज की गति से भी तेज गति से खुलते हुए देखा जा सकता है। मंगल 2020 मिशन के तहत वहां मौजूद प्रमाणों की जांच कर मंगल ग्रह पर प्राचीन जीवन के संकेतों की खोज करने का प्रयास किया जाएगा। 

Read more...

राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, विदेश मंत्री ने आईसीजे में पुन: निर्वाचित होने पर न्यायमूर्ति भंडारी को बधाई दी

नयी दिल्ली, 21 नवंबर :भाषा: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने न्यायमूर्ति दलवीर भंडारी के अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में पुन: निर्वाचित होने पर बधाई दी और इसे भारत की बड़ी राजनयिक जीत और मील का पत्थर बताया ।राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘न्यायमूर्ति दलवीर भंडारी को आईसीजे में पुन: निर्वाचित होने पर बधाई । भारत के लिये राजनयिक मील का पत्थर ।’’ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी न्यायमूर्ति दलवीर भंडारी को अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में पुन: निर्वाचित होने पर बधाई दी । प्रधानमंत्री ने अपने संदेश में कहा, ‘मैं न्यायमूर्ति दलवीर भंडारी को अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में पुन: निर्वाचित होने पर बधाई देता हूँ।’’ मोदी ने भारत में विश्वास प्रकट करने और समर्थन के लिए संयुक्त राष्ट्र महासभा और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् के सदस्यों के प्रति आभार प्रकट किया ।

Read more...

जनभावनवाओं से खेलने के आदी हो चुके हैं भंसाली : योगी

लखनऊ, 21 नवंबर (भाषा) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पद्मावती फिल्म को लेकर हो रहे विवाद के लिए इसके निर्माता संजय लीला भंसाली को समान रूप से दोषी ठहराते हुए आज कहा कि उन्हें जनभावनाओं से खेलने की आदत हो गयी है। योगी ने गोरखपुर में संवाददाताओं से कहा, 'किसी को कानून हाथ में लेने का अधिकार नहीं है, चाहे वह संजय लीला भंसाली हों या फिर कोई और।' उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है कि अगर (फिल्म और उसके कलाकारों को) धमकी देने वाले दोषी हैं तो यह भंसाली भी कम दोषी नहीं है।' योगी ने कहा, 'भंसाली जनभावनाओं से खेलने के आदी हो चुके हैं।' उन्होंने कहा कि अगर कार्रवाई होगी तो दोनों पक्षों पर समान रूप से होगी। फिल्म के कलाकारों को जान से मारने की धमकियों के संबंध में सवाल करने पर योगी ने कहा, 'एक दूसरे की भावनाओं का सम्मान सभी को करना चाहिए और मुझे लगता है कि अच्छे विचार और भाव सब लोग रखेंगे तभी सौहार्द्र रहेगा।'

Read more...
Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News