Menu

राष्ट्रीय

अमेरिका में मानव तस्करी के जुर्म में भारतीय दंपति को जेल

वाशिंगटन। अमेरिका में एक भारतीय दंपति को भारत से गैरकानूनी रूप से आने वाले प्रवासी का श्रमिक शोषण करने और मानव तस्करी के जुर्म में एक साल जेल की सजा सुनाई गई है। नेब्रास्का के किमबॉल में रहने वाले दंपति विष्णुभाई चौधरी(50) और लीलाबहन चौधरी(44) को पीड़ित को40,000 डॉलर देने के लिए कहा गया है। निगरानी में रहते हुए दो साल की रिहाई के बाद उनकी सजा पूरी होने पर उन्हें प्रत्यर्पित कर दिया जाएगा। न्याय विभाग के मुताबिक, 18 दिसंबर2017 को भारतीय दंपति ने वित्तीय लाभ के लिए विदेशी को शरण देने तथा विदेशी को शरण देने के लिए साजिश रचने का जुर्म स्वीकार कर लिया था।

Read more...

31 फीसदी दलित और 45 फीसदी आदिवासी गरीबी रेखा से नीचे

नई दिल्ली। सरकार ने आज बताया कि देश में करीब 27 करोड़ लोग गरीबी रेखा के नीचे जीवन ज्ञापन कर रहे हैं। अनुसूचित जनजाति के 45.3 फीसदी और अनुसूचित जाति के 31.5 फीसदी लोग बीपीएल हैं। लोकसभा में जगदम्बिका पाल के प्रश्न के लिखित उत्तर में योजना राज्य मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने आज यह जानकारी दी। मंत्री ने कहा कि वर्ष 2011-12 के आंकड़े के मुताबिक देश में करीब 27 करोड़ लोग गरीबी रेखा के नीचे जीपन ज्ञापन कर रहे हैं। अनुसूचित जनजाति के 45.3 फीसदी और अनुसूचित जाति के 31.5 फीसदी लोग गरीबी रेखा के नीचे हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार ने लोगों की जिंदगी में सुधार और गरीबी उन्मूलन के लिए कई कदम उठाए हैं।

Read more...

अफगानिस्तान में आत्मघाती हमले में 29 लोगों की मौत

भाषा. काबुल

अफगानिस्तान में पारसियों के नव वर्ष के जश्न के बीच शिया मस्जिद की ओर जाने वाली एक सड़क पर आज हुए इस्लामिक स्टेट के आत्मघाती हमले में कम से कम29 लोग मारे गए। लोक स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया किपैदल आए एक आत्मघाती हमलावर के इस हमले में52 लोग घायल भी हुए हैं। जिहादी वेबसाइटों पर नजर रखने वाले एसआईटीई खुफिया समूह के मुताबिक, इस्लामिक स्टेट समूह ने हमले की जिम्मेदारी ली है। आईएस ने दावा किया कि हमले का लक्ष्य नवरोज का जश्न मनाने आए शियाओं को निशाना बनाना था। अफगानिस्तान में पारसी नव वर्ष नवरोज पर राष्ट्रीय अवकाश होता है और देश के अल्पसंख्यक शिया आमतौर परजश्न मनाने मस्जिद जाते हैं। आईएस के सुन्नी अतिवादी बार- बार शियाओं को निशाना बनाते हैं। काबुल के पुलिस प्रमुख जनरल दाउद अमीन ने कहा कि यह हमला साखी मस्जिद से करीब एक किलोमीटर दूर काबुल विश्वविद्यालय और एक सरकारी अस्पताल के नजदीक हुआ जहां पारंपरिक पारसी नववर्ष नवरोज के अवसर पर बड़ी संख्या में अफगाननागरिक एकत्र हुए थे। दाउद नेबताया कि हमलावर सड़क परस्थित पुलिस जांच चौकी से बच निकलने में सफल रहा। उन्होंने बताया कि सुरक्षा चूक की जांच की जा रही है और अगर कोई अपने कर्तव्य में लापरवाही बरतता हुआ पाया गया तो उसे सजा दी जाएगी।

Read more...

विस्फोट में पांच बांग्लादेशी नागरिकों की भूमिका की होगी जांच

भाषा. मुंबई

महाराष्ट्र एटीएस इस बात की जांच कर रही है कि क्या उसके द्वारा गिरफ्तार पांच बांग्लादेशी नागरिकों की2013 के बोध गया विस्फोट सहित देश में आतंकी गतिविधियों में कोई भूमिका रही है। पांचों को बांग्लादेश के अंसारुल्ला बांग्ला टीम( एबीटी) के संदिग्ध आतंकियों को कथित तौर पर शरण देने के मामले में गिरफ्तार किया गया है। एटीएस के मुताबिक एबीटी भारत के लिए नए खतरे के तौर पर उभर रहा है।

Read more...

सेना में 29 हजार से अधिक पद खाली

भाषा. नई दिल्ली

रक्षा राज्य मंत्री सुभाष भामरे ने आज बताया कि भारतीय सेना में अधिकारी, जेसीओ और दूसरे स्तर के 29 हजार से अधिक पद खाली हैं। लोकसभा में थोमचोक मेनिया के प्रश्न के लिखित उत्तर में भामरे ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि सेना में अधिकारी स्तर के 7680 पद खाली हैं तो वहीं जूनियर कमीशंड ऑफिसर (जेसीओ) तथा दूसरे स्तर के 21383 पद खाली पड़े हैं।

Read more...

फेसबुक हो सकता है बंद!

नई दिल्ली। दिन हो या रात, ऑफि़स का डेस्कटॉप हो या हाथों में समाने वाला स्मार्टफ़ोन, फ़ेसबुक वो दुनिया है जो हमारी दुनिया का अब अहम हिस्सा है. घर-परिवार की तस्वीरें हों या फिर ऑफि़स से जुड़ी कोई अच्छी-बुरी ख़बर, अब निजी जि़ंदगी की ख़बरें फ़ेसबुक पर ब्रेक होती हैं. इस ख़बर को पढऩे वाले ज़्यादातर लोग ऐसा करते होंगे, इसलिए फ़ेसबुक से जुड़ी हालिया घटना और उसके संभावित नतीजे के बारे में आपको ज़रूर ख़बर होनी चाहिए. दरअसल, फ़ेसबुक से जुड़ी एक ख़बर ने दुनिया के होश उड़ा दिए हैं. सुनने में ये कहानी बड़ी जटिल है. लेकिन जितनी जटिल है, उससे कहीं ज़्यादा मुश्किल सामने ला सकती है.
फ़ेसबुक फंसा कैसे?
रिसर्च फ़र्म कैम्ब्रिज एनालिटिका पर आरोप लगा है कि उसने 5 करोड़ फ़ेसबुक यूजऱ से जुड़ी जानकारी का ग़लत इस्तेमाल किया है. ये बहस एक बार फिर शुरू हो गई है कि सोशल नेटवर्क पर लोगों से जुड़ी जानकारी कैसे और किसके साथ साझा की जाती है.

आप जानते हैं फ़ेसबुक आपको कैसे 'बेच' रहा है!

और फ़ेसबुक के लिए ये सारी जानकारी या कहें डेटा, कमाई का मुख्य स्रोत है क्योंकि यही विज्ञापन देने वाली कंपनियों को उसके पास खींच लाती हैं और उसे कमाई कराती हैं.

लेकिन कैम्ब्रिज एनालिटिका से जुड़ी घटना ने फ़ेसबुक को लेकर गंभीर सवाल खड़े कर दिए हैं. इतने कि सोशल मीडिया में फ़ेसबुक डिलीट करने से जुड़ा हैशटैग प्तस्रद्गद्यद्गह्लद्गद्घड्डष्द्गड्ढशशद्म भी वायरल बना दिया है.

फ़ेसबुक डिलीट करने की सलाह

वॉट्सऐप के को-फ़ाउंडर ब्रायन एक्टन ने ट्विटर पर ये सलाह दी है. फ़ेसबुक ने कुछ साल पहले 16 अरब डॉलर या 1 लाख करोड़ रुपए से ज़्यादा में वॉट्सऐप खऱीदा था.
ये बात तो हुई ख़ुद फ़ेसबुक डिलीट करने की सलाह की, लेकिन क्या साल 2017 की अंतिम तिमाही में 2.2 अरब मासिक एक्टिव यूजऱ रखने वाला फ़ेसबुक बंद भी हो सकता है? और अगर ऐसा हुआ तो क्या होगा? समाज में इसकी वजह से कितना बड़ा बदलाव आएगा?

डेटा चोरी की ख़बरों पर फ़ेसबुक के शेयर लुढ़के

फ़ेसबुक के आकार को देखकर आज ऐसा लग सकता है कि ये मुमकिन नहीं है. लेकिन टेक्नोलॉजी की दुनिया में चीज़ें इतनी तेज़ी से बदलती हैं कि आज नामुमकिन-सी लगने वाली बात कल को सामान्य लग सकती है. सीएनएन के मुताबिक ज़्यादा दिन नहीं बीते जब चुनिंदा इंटरनेट कंपनियों ने मिलकर पूरी दुनिया बदल दी थी. फ़ेसबुक ने पारंपरिक मीडिया को बदलकर रख दिया. उबर, नेटफ़्िलक्स और एयरबीएनबी जैसी चीज़ों ने टैक्सी, मूवी थियेटर और होटलों की जगह ले ली है.

क्या ज़रूरत से ज़्यादा बड़ा हुआ स्नक्च

लेकिन कभी क्रांतिकारी दिखने वाली ये अपस्टार्ट कंपनियां अब ताक़तवर दिखने लगी हैं और वे अब हमारे बारे में काफ़ी कुछ जानती हैं और लोगों को इससे परेशानी हो रही है. यही वजह है कि अब हमें ब्लॉकचेन शब्द बार-बार सुनाई दे रहा है. दूसरी चीज़ों के अलावा ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी वो हथियार है जो फ़ेसबुक की ताक़त ख़त्म कर सकता है. बिटकॉइन में इसकी झलक मिलती है.

'रोहिंग्या मुसलमानों के लिए फ़ेसबुक बना जानवरÓ

बिना बैंक और सरकार की मदद के डिजिटल मनी पूरी दुनिया में फैल रहा है. दूसरे शब्दों में कहें तो ब्लॉकचेन मध्यस्थों को हटाता है और ये टेक्नोलॉजी कई इंडस्ट्री की मदद कर सकती है. ब्लॉकगीक के मुताबिक डिजिटल इंफ़ॉर्मेशन को कॉपी नहीं बल्कि डिस्ट्रीब्यूट करने का ज़रिया देने वाली ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी नए तरह के इंटरनेट की रीढ़ है. इसे शुरुआत में बिटकॉइन के लिए बनाया गया था लेकिन आगे चलकर ये फ़ॉर्मूला दूसरे लोगों के भी काम आ सकता है.

Read more...

सरकार की फेसबुक को चेतावनी

नई दिल्ली, भारत ने आज सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक को आगाह किया कि यदि उसने देश की चुनाव प्रक्रिया को किसी भीअ वांछित तरीके से प्रभावित करने का प्रयास किया तो उसे कड़ी कार्वाई का सामना करना पड़ेगा।
अमेरिका के नियामक द्वारा फेसबुक के खिलाफ प्रयोगकर्ताओं की गोपनीयता के संभावित उल्लंघन की जांच की जा रही है।
सूचना प्रौद्योगिकी और कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने आज कहा कि सरकार प्रेस, भाषण और अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा समर्थन करती है। साथ ही वह सोशल मीडिया पर विचारों के आदान प्रदान के पक्ष में भी है।
संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से बातचीत में प्रसाद ने कहा कि फेसबुक सहित कोई भी सोशल मीडिया साइट यदि अवांछित तरीके से देश की चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित करने का प्रयास करती है, तो उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जरूरत होने पर कड़ी कार्वाई की जाएगी।
अमेरिकी संघीय व्यापार आयोग( एफटीसी) फेसबुक की इस बात के लिए जांच कर रहा है कि क्या उसने प्रयोगकर्ताओं के लाखों आंकड़े एक राजनीतिक परामर्श एजेंसी को दिए थे। मीडिया की खबरों में आरोप लगाया गया है कि कैंब्रिज एनलिटिका ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के2016 के चुनाव अभियान में इन आंकड़ों का इस्तेमाल किया था।
प्रसाद ने आरोप लगाया कि कैंब्रिज एनालिटिका के कांग्रेस पार्टी के साथ संबंध हैं।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के सोशल मीडिया प्रोफाइल में कैंब्रिज एनालिटिका की क्या भूमिका है। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने2019 के चुनाव अभियान के लिए कैंब्रिज एनालिटिका की सेवा ली है। इस एजेंसी पर रिश्वत, सेक्स वर्करों का इस्तेमाल करने तथा फेसबुक से डेटा चुराने का आरोप है।

Read more...

महंगा हुआ हवाई सफर

अगर आप छुट्टियां मनाने के लिए हवाई टिकट बुक कराने की सोच रहे हैं तो आपको ज्यादा पैसे चुकाने पड़ सकते हैं। दरअसल इंडिगो और गो एयर के 14्र320 नियो विमान बंद होने के बाद हवाई किराए 10-15 फीसदी तक बढ़ गए हैं।


इस साल अगर आप गर्मी की छुट्टियां अपने फेवरेट हॉलिडे डेस्टिनेशन पर गुजारने का मन बना रहे हैं तो आपको यात्रा महंगी पड़ सकती है। दरअसल इंजन में खराबी और अन्य तकनीकी कारणों से रद्द की गई उड़ानों की वजह से एयरलाइंस की फ्लीट क्षमता कम हो गई है। इसका असर हवाई किराए पर देखने को मिल रहा है। जानकारों का मानना है कि अगर इन एयरक्राफ्ट्स ने जल्द ही दोबारा उड़ान भरनी शुरू नहीं की तो हवाई किराए में और बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है।


गर्मी की छुट्टियों की वजह से बढ़ी डिमांड ने अभी से कई समर डेस्टिनेशंस के हवाई किराये 10 से 15 फीसदी तक बढ़ा दिए हैं। मसलन अगर आप 18 अप्रैल का मुंबई से श्रीनगर का हवाई किराया देखें तो जो टिकट 12 मार्च तक आपको 7 हजार रुपए में मिल रहा था वो अब 8,200 रुपए में मिल रहा है। वहीं मुंबई से कोच्चि का किराया 2,200 से बढ़कर 3,200 हो गया है। मुंबई से बागडोगरा का हवाई किराया 4,700 से बढ़कर 5,500 और मुंबई से चंडीगढ़ का किराया 4,600 से बढ़कर 5,800 तक हो गया है।


ऐसे ही दिल्ली से श्रीनगर का हवाई किराया 2,900 से बढ़कर अब 3,800 रुपए दिल्ली से कोच्चि का किराया 3,700 से बढ़कर 4,500 हो गया है । वहीं दिल्ली से बागडोगरा का किराया 3,700 से बढ़कर 4,500 और दिल्ली से चंडीगड़ का किराया 1,800 से बढ़कर 2,500 रुपए हो गया है । देश के दूसरे शहरों से भी इन हॉलिडे डेस्टिनेशंस के लिए हवाई किरायों में उछाल देखने को मिला है।


एयरलाइंस आमतौर पर फ्लाइट की क्षमता के हिसाब से हवाई किराया तय करती हैं। ऐसे में क्षमता की कमी और यात्रियों की बढ़ती डिमांड ने हवाई किराए बढ़ा दिए हैं।

Read more...

कैंसर होने से पहले दिखाई पड़ते है ये 3 लक्षण, जानने के लिए अभी पढ़ें

कैंसर बहुत ही जटिल और भयंकर बीमारी है जो जल्दी ठीक होने का नाम नहीं लेती है। आपने तो बहुत से लोगों को कैंसर से मरते हुए देखा होगा यह सुना भी होगा। कैंसर पूरे दुनिया में बहुत ही तेजी से फैल रहा है अगर कैंसर की पहचान शुरुआती दौर में हो जाए तो रोगी को आसानी से ठीक किया जा सकता है। आज हम इसी के बारे में बताएंगे कि कैंसर शुरुवाती दौर में हमें क्या संकेत देतीं है इसे लोगों को जानना बहुत ही जरूरी होता है।

कैंसर होने से पहले शरीर देता है यह संकेत, जरूर जाने

अगर आपके शरीर मे किसी जगह घाव ही गया है या फिर कट गया है और वह जल्दी ठीक होने का नाम नही ले रहा है। तो यह कैसर की ओर संकेत करता है। ऐसे में आप किसी अच्छे डॉक्टर से सलाह लेकर ईलाज अवश्य करवाएं।
अगर किसी भी इंसान का वजन अचानक घटने लगे और वह व्यक्ति अपने आप को कमजोर महसूस करने लगे तो समझ जाइए की अब कैंसर का शिकायत हो गया है।
अगर मल-मूत्र त्याग करते समय या नाक से या फिर छिकतें समय खून आता है तो यह भी कैंसर का लक्षण है।
दोस्तों शरीर से पसीना निकलना आम बात है। जब किसी मनुष्य के शरीर से परिश्रम करते वक्त पसीना निकले तो यह एक सामान्य सी बात है। अगर वह पसीना सोते समय या किसी जगह बैठने के बाद अचानक से पसीना निकले तो समझ जाइए कि यह कैंसर का एक लक्षण है।
अंत- दोस्तों अगर ऊपर दिए गए ये तीनों लक्षण आपके शरीर में पाए जाते हैं तो आपको कैंसर की ओर इशारा करते हैं ऐसे में आप किसी अच्छे डॉक्टर से सलाह लेकर इलाज जरूर करवाएं।

Read more...

नमक के कण से भी छोटी चिप रोकेंगी धोखाधड़ी: आईबीएम

लॉस वेगस, प्रौद्योगिकी क्षेत्र की दिग्गज कंपनी आईबीएम का अनुमान है कि अगले पांच साल में धोखाधड़ी और खाद्य सुरक्षा समेत अन्य मुद्दों से निपटने के लिए वस्तुओं और उपकरणों में स्याही की बिंदु या अतिसूक्ष्म कंप्यूटर जैसे क्रिप्टोग्राफ्रिक एंकर लगाए जाएंगे। इनका आकार नमक के कण से भी छोटा होगा।
आईबीएम ने बयान में कहा कि क्रिप्टोग्राफिक एंकर का इस्तेमाल ब्लॉकचेन डिस्ट्रीब्यूटेड लेजर प्रौद्योगिकी के साथ होगा ताकि उत्पाद की प्रमाणिकता बनने वाले स्थान से लेकर ग्राहकों में हाथ में पहुंचने तक सुनिश्चित किया जा सके। डिस्ट्रीब्यूटेड लेजर प्रौद्योगिकी संपत्ति या उत्पाद के लेनदेन को दर्द करने वाली एक डिजीटल प्रणाली है जिसमें लेनदेन से जुड़ी जानकारियां एक ही समय में कई जगह पर दर्ज होती है।
इसमें कहा गया है कि ए प्रौद्योगिकियां नए समाधानों का मार्ग प्रशस्त करते हैं जो कि खाद्य सुरक्षा, विनिर्मित कलपुर्जों की प्रमाणिकता, नकली सामान की पहचान जैसे मुद्दों से निपटने में मदद करेगा।
वैश्विक अर्थव्यवस्था में सालाना600 अरब से ज्यादा की धोखाधड़ी होती है और कुछ देशों में जान बचाने वाली करीब70 प्रतिशत दवाएं नकली हैं।

Read more...
Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News