Menu

राष्ट्रीय

राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री ने श्रीदेवी के निधन पर जताया शोक

नई दिल्ली, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने दिग्गज अभिनेत्री श्रीदेवी के निधन पर शोक व्यक्त किया है।
राष्ट्रपति कोविंद ने ट्वीट में लिखा, अभिनेत्री श्रीदेवी के निधन की खबर सुनकर स्तब्ध हूं। वह अपने लाखों प्रशंसकों का दिल तोड़कर चली गईं। मूंदरम पिराई , लम्हे , इंग्लिश विंग्लिश जैसी फिल्मों में उनका अभिनय हमेशा दूसरे कलाकारों के लिए प्रेरणा का काम करेगा।
कोविंद ने आगे लिखा, मेरी संवेदनाएं उनके परिवार वालों और करीबी लोगों के साथ हैं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, जानी मानी अभिनेत्री श्रीदेवी के असमय निधन से दुखी हूं। वह फिल्म जगत की दिग्गज अभिनेत्री थीं जिनके लंबे करियर में विविधतापूर्ण भूमिकाएं और अविस्मरणीय अभिनय शामिल हैं।
उन्होंने आगे लिखा, दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिवार वालों एवं प्रशंसकों के साथ हैं। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे।
सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने श्रीदेवी के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया, श्रीदेवी अभिनय का पावरहाउस थीं। उनकी एक लंबी अत्यंत सफल यात्रा का अचानक ही अंत हो गया। मेरी संवेदनाएं उनके परिजन एवं उनके चाहने वालों के साथ हैं।

Read more...

उ.कोरिया के मददगार 33 पोतों, 27 कंपनियों पर प्रतिबंध की मांग

संयुक्त राष्ट्र, अमेरिका ने उत्तर कोरिया पर लगे प्रतिबंधों का उल्लंघन करते हुए उसकी मदद करने के लिए विश्व भर के बंदरगााहों के 33 पोतों पर प्रतिबंध लगाने तथा 27 शिपिंग कारोबारों को ब्लैक लिस्ट करने की मांग संयुक्त राष्ट्र से की है।
अमेरिका ने संयुक्त राष्ट्र प्रतिबंध समिति से यह मांग ऐसे वक्त की है जब राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को उत्तर कोरिया पर अब तक के सर्वाधिक कड़े प्रतिबंध लगाने की घाोषणा की।
जापान ने भी 33 पोतों में से तीन पोतों के संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव का उल्लंघन करते हुए उत्तर कोरिया की मदद के वास्ते , प्योंगयांग भेजे जा रहे तेल का एक पोत से दूसरे पोत में स्थानांतरण करने के मुद्दे पर चिंता जताते हुए अमेरिका की मांग का समर्थन किया है।
परिषद के सदस्यों के पास प्रस्तावित प्रतिबंधों पर आपत्ति उठाने के लिए शुक्रवार तीन बजे तक का वक्त है और अगर उत्तर कोरिया के सहयोगी चीन सहित कोई सदस्य देश इस अनुरोध को ब्लॉक नहीं करता तो यह प्रतिबंध प्रभावी हो जाएगा।
गौरतलब है कि उत्तर कोरिया के विवादास्पद परमाणु कार्यक्रम को धन मिलने से रोकने के वास्ते इसके सामान के निर्यात पर रोक लगाने के लिए परिषद ने पिछले साल अनेक प्रस्ताव स्वीकार किए थे।

Read more...

पाक राजनयिक के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस की मांग करेगी एनआईए

नई दिल्ली, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने पाकिस्तान के राजयनिक आमिर ज़ुबैर सिद्दीकी के खिलाफ इंटरपोल का रेड कॉर्नर नोटिस जारी करवाने के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी है। सिद्दीकी के खिलाफ दक्षिण भारत में स्थित अमेरिकी और इस्राइली वाणिज्य दूतावासों पर आतंकी हमला करने की कथित साजिश रचने के लिए पिछले हफ्ते आरोप पत्र दायर किया गया है।
एनआईए के अधिकारियों ने बताया कि दस्तावेजों को पूरा किया जा रहा है और सिद्दीकी के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी करवाने के लिए इन्हें फ्रांस के ल्यों में स्थित इंटरपोल के मुख्यालय में जल्द ही भेजा जाएगा। सिद्दीकी ने श्रीलंका में पाकिस्तानी उच्चायोग में अपने कार्यकाल के दौरान 2014 में भारत में आतंकी हमले करने की साजिश रची थी।
सिद्दकी का नाम श्रीलंका के निवासी शाकिर हुसैन ने लिया था। अदालत में इकबाल-ए-जुर्म करने के बाद हुसैन फिलहाल जेल में सजा काट रहा है। खुफिया ब्यूरो द्वारा अप्रैल 2014 में साजिश का भांडाफोड़ करने के बाद हुसैन को तमिलनाडु पुलिस ने गिरफ्तार किया था। उसकी जेल की सजा अगले साल खत्म हो जाएगी।
हुसैन ने 26ा11 जैसा आतंकी हमला करने के लिए चेन्नई में अमेरिकी वाणिज्य दूतावास और बेंगलरु में इस्राइली वाणिज्य दूतावास की टोह ली थी। इसके लिए मालद्वीव से दो आतंकवादी आने थे।
सिद्दीकी कोलंबो में पाकिस्तानी उच्चायोग में वीजा काउंसलर के तौर पर काम कर रहा था, लेकिन भारत को निशाना बनाने वाली उसकी कथित गतिविधियों को लेकर भारत ने श्रीलंका पर दबाव बनाया, जिसके बाद उसे वापस इस्लामाबाद भेज दिया गया था।
अमेरिकी अधिकारियों ने एनआईए को सिद्दीकी की संलिप्तता के सबूत सौंपे थे। अमेरिका की ओर से भारत को जो दस्तावेज दिए गए थे उनमें हुसैन और शाहजी के बीच संवाद की पुष्टि हुई थी। शाहजी पाकिस्तानी नागरिक है और आरोपी से उसका परिचय श्रीलंका में पाकिस्तानी मिशन में काम कर रहे एक राजनयिक ने कराया था।
एनआईए ने साजिश की जांच की और परस्पर कानूनी सहायता समझौता के तहत अमेरिका को एक अनुरोध भेज उस सेवा प्रदाता से पूरी जानकारी मांगी थी जिसके ईमेल का इस्तेमाल हुसैन ने श्रीलंका में अपने आका से बात करने के लिए किया था।
अमेरिकी अधिकारियों की ओर दिए गए जवाब के मुताबिक, अकांउट को शाहजी नाम का कोई व्यक्ति संचालित कर रहा था। उसने ईमेल अकाउंट बनाते वक्त यह नाम दिया था। इस ईमेल के जरिए पाकिस्तान के अन्य ईमेल पतों पर कुछ मेल किए गए, यहां तक कि सिद्दीकी के निजी अकाउंट पर भी इसके जरिए मेल का आदान-प्रदान हुआ था।
उन्होंने बताया कि ईमेल अकाउंट कथित तौर पर कोलंबो में पाकिस्तानी उच्चायोग के आईपी पते से भी संचालित हुआ था।
चेन्नई में अमेरिकी वाणिज्य दूतावास पर आतंकवादी की हमले की साजिश का कोड वेडिंग हॉल था और इसको कुक्स यानी मालद्वीव से भारत आने वाले आतंकवादियों को अंजाम देना था।
हुसैन ने श्रीलंका में तैनात विभिन्न पाकिस्तानी अधिकारियों के साथ अपनी मुलाकात का पूरा विवरण दिया था। इसके अलावा उसने बैंकाक में दो फिदाईनों से मुलाकात का भी जिक्र किया था।

Read more...

मशहूर अभिनेत्री श्रीदेवी का निधन

 

 
बॉलीवुड की दिग्‍गज अभिनेत्री श्रीदेवी नहीं रहीं। शनिवार (24 फरवरी) को दुबई में कार्डियक अरेस्‍ट के चलते उनका निधन हो गया। वह 54 वर्ष की थीं। श्रीदेवी को ‘मिस्टर इंडिया’, ‘सदमा’, ‘चालबाज’, ‘चांदनी’ जैसी कई बेहतरीन फिल्मों के लिए जाना जाता है। पद्मश्री से सम्मानित अभिनेत्री की आखिरी फिल्म 2017 में आई ‘मॉम’ थी। उनके निधन से फिल्म इंडस्ट्री में शोक की लहर दौड़ गई है। हिंदी सिनेमा की पहली महिला सुपरस्‍टार मानी जाने वाली श्रीदेवी अपने पति बोनी कपूर और छोटी बेटी खुशी के साथ भतीजे मोहित मारवाह की शादी में शिरकत करने गई थीं। श्रीदेवी और बोनी कपूर की दो बेटियां, जान्‍हवी और खुशी कपूर हैं। उनके अकस्‍मात निधन से बॉलीवुड सदमे में है और हजारों प्रशंसक उनके मुंबई स्थित घर के बाहर जमा हो गए हैं।

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने श्रीदेवी के निधन के निधन पर शोक व्‍यक्‍त किया है। उन्‍होंने ट्वीट किया, ”सिने तारिका श्रीदेवी के निधन की जानकारी पाकर सदमे में हूं। वह अपने लाखों-करोड़ों प्रशंसकों को अकेला छोड़ गईं। मूंद्रम पिराई, लम्‍हे और इंग्लिश विंग्‍लिश जैसी फिल्‍मों में उनका अभिनय अन्‍य अभिनेताओं के लिए प्रेरणादायी है। उनके परिवार व करीबियों के संग मेरी पूरी सहानुभूति है।

 

– केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्‍मृति ईरानी ने ट्वीट किया है, ”श्रीदेवी- एक्टिंग का पावरहाउस थीं। सफलता से भरी एक लंबी यात्रा अचानक समाप्‍त हो गई। उनके प्रियजनों और फैंस के प्रति मेरी संवेदनाएं।”

– हेमा मालिनी ने ट्वीट किया है, ”श्रीदेवी के अचानक निधन से मैं गहरे सदमे में हूं। अंदाजा नहीं लगा सकती कि इतनी खुशमिजाज शख्सियत, एक शानदार अभिनेत्री अब नहीं रही। वह इंडस्‍ट्री में ऐसा खालीपन छोड़ गई हैं जो हैं कभी भरा नहीं जा सकेगा। बोनी मेरे अच्‍छे दोस्‍त हैं और मैंने उनकी बेटियों को बड़ा होते देखा है। मेरी प्रार्थनाएं परिवार के साथ हैं।”

– अभिनेत्री निम्रत कौर ने ट्वीट कर कहा, “श्रीदेवी के निधन की खबर सुनकर दुख हुआ। काला एवं भयावह पल।” सुष्मिता सेन ने ट्वीट कर कहा, “मैंने अभी दिल का दौरा पड़ने की वजह से श्रीदेवी मैम के निधन की खबर सुनी। मैं सदमे में हूं।”

– श्रीदेवी के निधन पर शोक व्‍यक्‍त करते हुए कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया है, ”भारत की फेवरिट अभिनेत्री श्रीदेवी के अकस्‍मात निधन की खबर से हैरान हूं। श्रीदेवी बेहद प्रतिभाशाली और वर्सेटाइल अभिनेत्री थीं जिनका काम विभिन्‍न विधाओं और भाषाओं में फैला था। उनके परिवार के संग मेरी सहानुभूति है। ईश्‍वर उनकी आत्‍मा को शांति दे।”

– तमिल सुपरस्‍टार रजनीकांत ने लिखा है, ”मैं बेहद हैरान और परेशान हूं। मैंने एक बहुत प्‍यारा दोस्‍त खोया है और इंडस्‍ट्री ने एक सच्‍चा लीजेंड। उनके परिवार और दोस्‍तों के लिए मेरा दिल रोता। मैं उनका दर्द महसूस कर सकता हूं। ईश्‍वर तुम्‍हारी आत्‍मा को शांति दे श्रीदेवी, तुम्‍हें मिस करेंगे।”

– अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा ने श्रीदेवी को श्रद्धांजलि देते हुए लिखा, ”ये लम्‍हे, ये पल हम हर पल याद करेंगे… ये मौसम चले गए तो हम फरियाद करेंगे।” प्रीति जिंटा ने लिखा, ”मेरी सबसे प्रिय अभिनेत्री श्रीदेवी के निधन की खबर से हैरान हूं। भारतीय सिनेमा की सबसे प्रतिभाशाली अभ‍िनेत्रियों में से एक। परिवार को यह दुख सहन करने की शक्ति मिले।

 
 
Read more...

राजस्थान में राज्यसभा के द्विवार्षिक चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया पांच मार्च से शुरू

जयपुर, चुनाव आयोग ने राजस्थान में राज्य सभा की तीन खाली सीटों को भरने के लिए द्विवार्षिक चुनाव का कार्यक्रम घोषित कर दिया है।
राजस्थान के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अश्विनी भगत ने एक बयान में बताया कि आयोग की ओर से पांच मार्च को अधिसूचना जारी होने के साथ चुनाव प्रक्रिया आरंभ हो जाएगी। नामांकन भरने की अंतिम तिथि 12 मार्च है।
उन्होंने बताया कि निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार नामांकन पत्रों की जांच 13 मार्च को की जाएगी। उम्मीदवार 15 मार्च तक नाम वापस ले सकेंगे। मतदान 23 मार्च को सुबह नौ बजे से शाम चार बजे तक होगा। मतों की गिनती 23 मार्च को होगी।
भगत ने बताया कि राज्यसभा के द्विवार्षिक चुनाव के लिए मतदान राजस्थान विधानसभा परिसर में आयोग द्वारा अधिसूचित मतदान केन्द्र में तय तारीख को होगा।
गौरतलब है कि राजस्थान से भाजपा के राज्यसभा सदस्य भूपेन्द्र यादव और कांग्रेस के अभिषेक मनु सिंघवी और नरेन्द्र बुढानिया का कार्यकाल तीन अप्रैल को पूरा हो जाएगा।

Read more...

मोगादीशू में कार बम हमले में 38 लोगों की मौत

मोगादीशू, सोमालिया की राजधानी मोगादीशू में दो कार बम हमलों में 38 लोगों की मौत हो गई। शहर की मुख्य एंबुलेंस सेवा ने आज यह जानकारी दी।
आमीन एंबुलेंस के अब्दुकादिर अब्दुरहमान अदन ने बताया कि हमने कम से कम 38 लोगों के शव देखे।
ए विस्फोट राष्ट्रपति आवास और एक होटल को निशाना बना कर किए गए थे।
पुलिस के मुताबिक, पहला विस्फोट सरकारी मुख्यालय विला सोमालिया पास सुरक्षा जांच चौकी पर हुआ जिसके बाद गोलीबारी हुई जबकि दूसरा विस्फोट एक होटल पर हुआ।
शबाब इस्लामी आतंकवादी समूह ने ऑनलाइन बयान जारी करके हमलों की जिम्मेदारी ली है। समूह ने कहा कि वह सरकार और सुरक्षा सेवाओं को निशाना बना रहा था।

Read more...

अफगानिस्तान में तालिबान के हमलों में 23 सैनिकों की मौत

काबुल, अफगानिस्तान में कई आत्मघाती धमाकों और हमलों में आज कम से कम 23 लोगों की मौत हो गई जबकि दर्जनों अन्य घायल हो गए। अधिकारियों ने आज यह जानकारी दी।
सबसे बड़े हमले में तालिबानी आतंकवादी बीती रात पश्चिमी फराह प्रांत में सेना के ठिकाने में घुस गए और 18 सैनिकों को मार गिराया।
रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता दौलत वजीर ने कहा, बीती रात आतंकवादियों के एक बड़े समूह ने फराह के बाला बुलुक जिले में सेना के शिविर पर हमला किया। दुर्भाग्य से हमने 18 सैनिकों को खो दिया और दो सैनिक घायल हुए हैं। हमने इलाके में अतिरिक्त बलों को भेजा है।
तालिबान ने हमले की जिम्मेदारी ली है। उप प्रांतीय गवर्नर युनूस रसूली ने कहा कि अधिकारियों ने हमले की जांच के लिए तथ्यान्वेषी दल भेजा है।
एक अन्य घटना में एक आत्मघाती हमलावर ने काबुल के राजनयिक इलाके में आज सुबह धमाका कर खुद को उड़ा दिया। गृह मंत्रालय के उप प्रवक्ता नसरत रहीमी ने कहा कि इसमें कम से कम तीन लोगों की मौत हो गई जबकि पांच अन्य घायल हो गए।
मौत के आंकड़े में संशोधन करते हुय उन्होंने कहा, सुबह करीब साढ़े आठ बजे, पैदल आए एक आत्मघाती हमलावर की पहचान चेक प्वाइंट पर की गई। उसने अच्छे कपड़े और गले में टाई भी पहन रखी थी। उसने विस्फोट कर खुद को उड़ा लिया और तीन लोगों को मार गिराया जबकि पांच अन्य घायल हो गए।
नाम जाहिर न करने की शर्त पर एक रक्षा सूत्र ने कहा कि यह हमला अफगानी खुफिया एजेंसी नेशनल डायरेक्ट्रेट ऑफ सिक्योरिटी (एनडीएस) के पास धमाका हुआ। एनडीएस परिसर नाटो मुख्यालय और अमेरिकी दूतावास के पास स्थित है।
एक चश्मदीद ने तोलोन्यूज टीवी को बताया, मैं पास से गुजर रहा था जब मैंने तेज धमाके की आवाज सुनी। मेरी कार के शीशे टूट गए। मैंने अपने पास सड़क पर कई घायलों को देखा।
अधिकारियों ने कहा कि अशांत दक्षिणी हेलमंड प्रांत में आज हुए दो अन्य हमलों में एक आत्मघाती कारबम हमलावरों ने धमाका कर दो सैनिकों को मार दिया जबकि इसमें एक दर्जन अन्य घायल हो गए।
पहले मामले में आतंकवादियों ने नाद अली जिले में सेना के ठिकाने पर हमले के लिए हमवी गाड़ी का इस्तेमाल किया। प्रांतीय प्रवक्ता उमर जावाक ने कहा कि सतर्क सैनिकों ने इसकी पहचान कर ली और एक रॉकेट के जरिए इसे बर्बाद कर दिया। हालांकि इस हमले में दो सैनिकों की मौत हो गई तथा सात अन्य घायल हो गए।
दूसरा आत्मघाती कार बम हमला प्रांतीय राजधानी लश्कर गाह में हुआ जिसमें सात लोग घायल हो गए।

Read more...

धुंधली छवियों को देखने में मददगार कृत्रिम आंखें विकसित

न्यूयॉर्क, इंसान की आंखों से प्रेरित होकर वैज्ञानिकों ने इसके अनुकूल एक मेटालेंस विकसित किया है जो सपाट और इलेक्ट्रॉनिक रूप से नियंत्रित कृत्रिम आंख है।
यह मेटालेंस धुंधली तस्वीरों का कारण बनने वाली तीन प्रमुख चीजों - फोकस, दृष्टि विषमता और छवि में बदलाव - को एक साथ नियंत्रित करती है।
यह अध्ययन साइंस अडवांसेज नाम की पत्रिका में प्रकाशित किया गया है। इस अध्ययन के जरिए सेल फोन कैमरों, चश्मों और आभासी एवं संवर्धित वास्तविकता वाले हार्डवेयरों सहित कई तरह के अनुप्रयोगों के लिए ऑटोफोकस और व्यवस्थित किए गए ऑप्टिकल ज़ूम की व्यवहार्यता प्रदर्शित की गई है।
अमेरिका की हावर्ड जॉन ए पॉलसन स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एंड अप्लाइड साइंसेज से जुड़ी एलेन शी ने बताया, यह शोध कृत्रिम मांसपेशी तकनीक और मेटालेंस तकनीक में सफलता का मिलाजुला रूप है, जिसका मकसद एक ऐसा मेटालेंस बनाना है जो वास्तविक समय में अपना फोकस बदल सके, जैसे कि इंसान की आंखें बदलती हैं।

Read more...

जेटली का सरकारी बैंकों के निजीकरण से इनकार

नई दिल्ली, वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के निजीकरण की संभावना से इनकार किया है। पंजाब नेशनल बैंक :पीएनबी: में सामने आए 11,400 करोड़ रुपए के घोटाले के संदर्भ में वित्त मंत्री ने यह बात कही। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के निजीकरण को राजनीतिक रूप से स्वीकार नहीं किया जाएगा।
इकनॉमिक टाइम्स ग्लोबल बिजनेस समिट को संबोधित करते हुए जेटली ने कहा कि पीएनबी घोटाले के बाद काफी लोगों ने निजीकरण की बात शुरू कर दी है।
उन्होंने कहा, इसके लिए बड़ी राजनीतिक सहमति की जरूरत है। साथ ही बैंकिंग नियमन कानून का भी संशोधन करना पड़ेगा। मुझे लगता है कि भारत में राजनीतिक रूप से इस विचार के पक्ष में समर्थन नहीं जुटाया जा सकता। यह काफी चुनौतीपूर्ण फैसला होगा।
उद्योग मंडल फिक्की के अध्यक्ष राशेष शाह ने शुक्रवार को वित्त मंत्री से मुलाकात कर चरणबद्ध तरीके से बैंकों के निजीकरण की प्रक्रिया शुरू करने का आग्रह कहा था। शाह ने कहा था कि सार्वजनिक क्षेत्र में सिर्फ दो-तीन बैंक होने चाहिए।
नीरव मोदी द्वारा पीएनबी से घोटाला किए जाने के बाद से निजीकरण की मांग उठने लगी है। उद्योग मंडल एसोचैम ने भी सरकार से सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में अपनी हिस्सेदारी घटाकर 50 प्रतिशत से कम पर लाने को कहा है। कुछ उद्योगपतियों ने भी बैंकों के निजीकरण का समर्थन किया है।
गोदरेज समूह के आदि गोदरेज का कहना है कि निजी क्षेत्र के बैंकों में धोखाधड़ी बिलकुल नहीं होगी या बहुत कम होगी। बजाज समूह के प्रमुख राहुल बजाज भी सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के निजीकरण के पक्ष में हैं।

Read more...

जेटली ने पीएनबी घोटाले को लेकर नियामकों, लेखा परीक्षकों की आलोचना की

नई दिल्ली, वित्तमंत्री अरुण जेटली ने 11,400 करोड़ रुपए के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले के लिए नियामकों-लेखा परीक्षकों की अपर्याप्त निगरानी और ढीले बैंक प्रबंधन को आज जिम्मेदार बताया। उन्होंने कहा कि घोटालेबाजों को दंडित करने के लिए यदि जरूरत पड़ी तो नियमों को सख्त किया जाएगा।
इस सप्ताह में घोटाले पर दूसरी बार बोलते हुए जेटली ने कुछ उद्यमी वर्ग में नैतिकता की कमी की आलोचना की। उन्होंने आरोपी नीरव मोदी या पीएनबी का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि जब घोटाला हो रहा था तब किसी के द्वारा भी कहीं कोई आपत्ति नहीं जताया जाना चिंताजनक है।
उन्होंने द इकोनॉमिक टाइम्स ग्लोबल बिजनेस समिट में कहा कि बैंक में चल रही गतिविधियों से शीर्ष प्रबंधन की अनभिज्ञता भी परेशान करने वाली बात है।
जेटली ने कहा, प्रणाली में लेखा परीक्षण के कई स्तर हैं जो या तो इन्हें देखती ही नहीं हैं या लापरवाही से काम फौरी तौर पर काम करते हैं। आपकी निगरानी अपर्याप्त रही है।
उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि जिसने भी यह किया उसे जांच के दौरान पकड़ लिया जाएगा।
वित्त मंत्री ने कहा, प्रणाली में नियामकों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। नियामक ही अंतत: नियम तय करते हैं और उन्हें तीसरी आंख हमेशा खुली रखनी होती है।
उन्होंने कहा, दुर्भाग्यपूर्ण है कि देश में हम राजनेता लोग जवाबदेह हैं पर नियामक नहीं।
ए घोटाले बताते हैं कि नियमों में जहां कमी है उसे सख्त किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, घोटालेबाजों को पकडऩे तथा उनके खिलाफ कठोर कदम उठाने के लिए यदि आवश्यक हुआ तो नियमों को आने वाले समय में सख्त किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि कर्जदाता-कर्जदार के बीच संबंधों में अनैतिक व्यवहार का खत्म होना जरूरी है। उन्होंने कहा, यदि जरूरत पड़ी तो संलिप्त व्यक्तियों को सजा देने के लिए नियमों को सख्त किया जाएगा।
उन्होंने कहा, मैं सोचता हूं कि जब मैं व्यवहार में नैतिकता की बात करता हूं, मुझे लगता है कि यह भारत में गंभीर समस्या है। कारोबार जगत को सरकार ने क्या किया यह पूछते रहने के बजाय अपने भीतर भी देखना चाहिए।
गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) और संकटग्रस्त ऋण के बढ़ते दबाव के बारे में जेटली ने पूछा, इनमें से कितने कारोबार के असफल होने के कारण हैं और कितने कंपनियों के हेर-फेर के कारण? उन्होंने कहा, जानबूझकर कर्ज नहीं लौटाने के मामले कारोबार की असफलता से कहीं अधिक है।
उन्होंने कहा कि उद्यमियों को नैतिक कारोबार की आदत डालने की जरूरत है क्योंकि इस तरह के घोटाले अर्थव्यवस्था पर धब्बा हैं और ए सुधारों एवं कारोबार सुगमता को पीछे धकेल देते हैं।

Read more...
Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News