Menu

राष्ट्रीय

राठौड़ ने पुलवामा में सैन्य जवान की हत्या की निंदा की

roopam 01new

नई दिल्ली , 15 जून (भाषा) केन्द्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने सेना के जवान की आतंकवादियों द्वारा कथित हत्या को कायर आतंकवादियों की हताशा बताते हुए कहा है कि हमारे प्रत्एक शहीद सैनिक की जगह एक हजार और खड़े हो जाएंगे।
जवान औरंगजेब का गोलियों से छलनी शव कल जम्मू कश्मीर के पुलवामा में मिला था। इससे कुछ घंटे पहले आतंकवादियों ने जवान का उस समय अपहरण कर लिया था जब वह ईद मनाने के लिए अपने घर जा रहा था।
राठौड़ ने एक ट्वीट में कहा , कश्मीर में आतंकवाद के अंत की शुरूआत। यह कायर आतंकवादियों की हताशा दिखाता है जब वे निहत्थे राइफलमैन औरंगजेग की उस समय अपहरण करके हत्या कर देते हैं, जब वह अपने परिवार के साथ ईद मनाने के लिए छुट्टी पर जा रहा था।
उन्होंने कहा , शहीद हुए हमारे प्रत्एक सैनिक का स्थान लेने के लिए एक हजार और खड़े हो जाएंगे।
चार , जम्मू कश्मीर लाइट इंफेंट्री का जवान औरंगजेब शोपियां में शादीमार्ग स्थित 44 राष्ट्रीय राइफल्स शिविर में तैनात था।

Read more...

अपनी कश्मीर नीति पर पुनर्विचार करे मोदी सरकार: मायावती

Gravity

लखनऊ, 15 जून (भाषा) बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती ने जम्मू-कश्मीर में सीमापार गोलीबारी में भारतीय जवानों के लगातार शहीद होने और एक वरिष्ठ पत्रकार की हत्या किए जाने पर दुख जाहिर करते हुए आज कहा कि अब केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार के अपनी कश्मीर नीति पर पुनर्विचार करने का वक्त आ गया है।
उन्होंने यह भी कहा कि जम्मू-कश्मीर की जनता के साथ वैसा सरकारी व्यवहार कतई नहीं होना चाहिए जैसा कि पाकिस्तान की सरकार अपने अनधिकृत कब्जे वाले कश्मीर के लोगों के साथ लगातार करती चली आ रही है।
मायावती ने यहां एक बयान में कहा कि जम्मू-कश्मीर में सीमापार गोलीबारी से लगातार जवान शहीद हो रहे हैं। साथ ही कल कश्मीर में वरिष्ठ पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या कर दी गई। इस सबके मद्देनजर अब समय आ गया है कि मोदी सरकार अपनी अडय़िल नीति को त्याग कर बिना देर किए देशहित में अपनी कश्मीर नीति पर फिर से विचार करे।
उन्होंने कहा कि कश्मीर में पीडीपी और भाजपा की गठबंधन सरकार होने के बावजूद वहां के हालात लगभग बेकाबू हैं और पाकिस्तान सीमा के साथ-साथ राज्य के अंदर भी हिंसा और हत्याओं का दु:खद दौर लगातार जारी है। इसे ध्यान में रखते हुए केन्द्र सरकार को र्2393ीासकर कश्मीर नीति में परिवर्तन लाना चाहिए और राजनीतिक स्तर पर भी सुधार के प्रयास तेज़ करने चाहिए।
मायावती ने कहा, भाजपा की कश्मीर नीति पूरी तरह जनहित और देशहित पर आधारित ना होकर पार्टी की संकीर्ण राजनीतिक सोच से ज़्यादा प्रभावित लगती है और शायद यही कारण है कि भाजपा का जम्मू-कश्मीर का नेतृत्व भी स्वार्थ में लिप्त पाया जाता है।
बसपा अध्यक्ष ने कहा कि जम्मू-कश्मीर की जनता के साथ वैसा तल्र्2393ी (कड़वा) सरकारी व्यवहार कतई नहीं होना चाहिए जैसा कि पाकिस्तान की सरकार उसके अनधिकृत कब्जे वाले कश्मीर के लोगों के साथ लगातार करती चली आ रही है। यह सही है कि कश्मीरी जनमत भारत के साथ रहा है और आज भी है, इसमें किसी को कोई संदेह नहीं होना चाहिए।
मायावती ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अकबर नहीं, बल्कि महाराणा प्रताप महान थे के बयान पर नसीहत देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री को सर्वज्ञानी बनकर इतिहास को चुनौती देने के बजाय कम से कम उन मेधावी छात्रों की सुध लेनी चाहिए जो उनके हाथ से लिए गए इनामी रकम के चेक बाउन्स हो जाने से आहत हैं।
बसपा अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि भाजपा शासित राज्यों में सर्वसमाज के र्2394ीरीबों, मजदूरों, उपेक्षितों, शोषितों, दलितों, पिछड़ों और धार्मिक अल्पसंख्यकों के प्रति भेदभाव चरम पर है।
उन्होंने महाराष्ट्र के जलगांव जिले के जामनेर में कुएं से नहाने पर पिछड़े समुदाय के दो नाबालिगों को कथित रूप से पीटने और निर्वस्त्र करके गांव में घुमाने की घटना की तीव्र निन्दा करते हुए कहा कि भाजपा सरकारें अगर ऐसे मामलों में सर्2393ी्त कार्वाई करतीं तो इस प्रकार की जातिवादी घटनाओं पर काफी अंकुश लगाया जा सकता था।

Read more...

केजरीवाल ने प्रधानमंत्री से फिर की अपील, आलोचकों पर बरसे

नई दिल्ली , 15 जून (भाषा) दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री को आज फिर पत्र लिखकर प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों की हड़ताल खत्म करने में उनकी दखल की मांग की। इसके साथ ही आलोचकों पर बरसते हुए उन्होंने कहा कि यह धरना किसी निजी लाभ के लिए नहीं बल्कि दिल्ली की जनता की बेहतरी के लिए है।
केजरीवाल ने आज धरने के पांचवे दिन एक वीडियो संदेश में भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने आरोप लगाया कि नौकरशाहों की हड़ताल आप सरकार के कामकाज में बाधक बन रही है। केजरीवाल और उनके मंत्री यहां उपराज्यपाल कार्यालय में धरने पर बैठे हैं।
उन्होंने कहा , मैंने उपराज्यपाल अनिल बैजल से कहा और (उपमुख्यमंत्री) मनीष सिसौदिया ने उन्हें (उपराज्यपाल को) कल पत्र लिखा। हमने उन्हें वाट्सऐप पर मैसेज भी भेजे हैं। लेकिन उनकी ओर से कोई जवाब नहीं आया। हमने प्रधानमंत्री को जो चिट्ठी लिखी , उसका भी जवाब नहीं आया। इसलिए आज फिर से प्रधानमंत्री को चिट्ठी लिखी।
केजरीवाल ने नया पत्र रविवार को नीति आयोग की बैठक में शामिल होने के लिए मिले निमंत्रण के जवाब में लिखा है।
केजरीवाल ने कहा , मैंने प्रधानमंत्री से पूछा है कि अगर उनकी बैठकों में अधिकारी नहीं आएं तो क्या वे एक दिन भी सरकार चला पाएंगे ? तो फिर आपने दिल्ली में अधिकारियों के हड़ताल की इजाजत क्यों दी। दिल्ली के लोगों को परेशान करना अच्छा नहीं है।
केजरीवाल ने कल मोदी को पत्र लिखकर इस हड़ताल को खत्म करने में उनकी दखल की मांग की थी। उन्होंने दावा किया कि उपराज्यपाल अनिल बैजल इस गतिरोध को दूर करने के लिए कुछ नहीं कर रहे हैं।
डॉक्टरों की एक टीम कल उपमुख्यमंत्री सिसौदिया एवं स्वास्थ्य मंत्री सत्एंद्र जैन के स्वास्थ्य की जांच के लिए उपराज्यपाल कार्यालय पहुंची थी। अपनी मांगों को लेकर दबाव डालने के लिए ए दोनों अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर हैं।
केजरीवाल ने कहा कि उन्होंने मोदी को नया पत्र लिखा है और अपनी मांगें दोहराई हैं। आप सरकार की मांग है कि उपराज्यपाल आईएएस अधिकारियों को अपनी हड़ताल खत्म करने का निर्देश दें और काम में रुकावट डालने वालों के खिलाफ कड़ी कार्वाई की जाए। वे यह भी चाहते हैं कि उपराज्यपाल घर - घर राशन पहुंचाने के प्रस्ताव को मंजूरी दें।
उन्होंने कहा , मैंने उनसे (प्रधानमंत्री से) फिर अनुरोध किया है कि वह इस संबंध में कुछ करें। इस हड़ताल के लिए इजाजत देना ठीक नहीं है। इसलिए रविवार को मैं प्रधानमंत्री आवास जाऊंगा। दिल्ली के कई लोग भी उनके आवास जाएंगे और इस हड़ताल को खत्म करने की उनसे अपील करेंगे।
केजरीवाल ने उम्मीद जताई कि प्रधानमंत्री यह सुनिश्चित करेंगे कि हड़ताल खत्म हो।
उन्होंने कहा , अगर ऐसा नहीं हुआ तो हम घर - घर जाएंगे। हमारे कार्यकर्ता शहर के 10 लाख घरों में जाएंगे और एक पत्र पर दिल्ली सरकार के कामकाज में रुकावट डालने तथा दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा मुद्दे पर उनका हस्ताक्षर जुटाएंगे। ए 10 लाख परिवार फिर पूर्ण राज्य के दर्जे और आईएएस अधिकारियों की हड़ताल के खिलाफ आंदोलन करेंगे।

Read more...

भारत में छोटी उम्र की लड़कियां स्कूलों में प्रौद्योगिकी का अध्ययन करना चाहती हैं : सर्वेक्षण

नई दिल्ली , 15 जून (भाषा) भारत में सात से 14 साल के बीच की उम्र वाली 200 लड़कियों पर किए गए एक सर्वेक्षण में करीब 96 प्रतिशत लड़कियों ने स्कूलों में प्रौद्योगिकी के बारे में अधिक से अधिक सीखने की अपनी इच्छा जाहिर की है। वैश्विक डिजिटल भुगतान मंच पेपल ने भारत में अपने सभी प्रौद्योगिकी केंद्रों में अपनी वार्षिक द्वि-साप्ताहिक पहल के तहत करीब 200 प्रतिभागियों पर यह सर्वेक्षण किया। सर्वेक्षण में कम से कम 61 प्रतिशत लड़कियों ने कहा कि वे प्रौद्योगिकी सीखने की अपनी रुचि को स्कूल के बाहर सक्रिय रूप से अध्ययन करके और कार्यशालाओं से पूरा करना करती हैं क्योंकि स्कूल के मौजूदा पाठ्यक्रम से इसे पर्याप्त रूप से कवर नहीं किया जा सकता। करीब 51 प्रतिशत प्रतिभागियों ने कहा कि उनकी माताएं उन्हें प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में कॅरियर बनाने के लिए प्रेरित करती हैं। 34 प्रतिशत प्रतिभागियों ने इसके लिए अपने पिता को श्रेय दिया जबकि शेष 15 प्रतिशत ने कहा कि उनके शिक्षक इसके लिए उन्हें प्रेरित करते हैं।

Read more...

महाराष्ट्र को 2025 तक 1,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाना चाहते हैं फडणवीस

वाशिंगटन , 15 जून (भाषा) महाराष्ट्र सरकार राज्य को 2025 तक।,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाना चाहती है। यह तय समय से करीब पांच साल पहले होगा। राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि सरकार बुनियादी ढांचे , कृषि और सेवाओं में निवेश और विदेशी निवेश आकर्षित कर यह लक्ष्य पाना चाहती है। फिलहाल महाराष्ट्र की अर्थव्यवस्था 400 अरब डॉलर की है। मौजूदा वृद्धि दर के हिसाब से यह 2030 तक।,000 अरब डॉलर पर पहुंचेगी। मुख्यमंत्री ने जोर देकर कहा कि हम यह उपलब्धि पांच साल पहले हासिल करना चाहते हैं। फडणवीस ने यहां इंडियन इनिशिएटिव आफ द जॉर्जटाउन यूनिवर्सिटी तथा सेंटर फॉर स्ट्रैटेजिक एंड इंटरनेशनल स्टडीज (सीएसआईएस) द्वारा आयोजित कार्यक्रम में कहा , हम महाराष्ट्र को 2025 तक।,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाना चाहते हैं। इस मौके पर फडणवीस ने राज्य सरकार की पिछले साल की उपलब्धियों पर प्रस्तुतीकरण दिया। इसमें राज्य को सूखा मुक्त बनाने के प्रयासों , बुनियादी ढांचा क्षेत्र में भारी निवेश और आर्टिफिशल इंटेलिजेंस जैसी नई प्रौद्योगिकियों को अपनाने के बारे में बताया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम अवसरों का लाभ उठाने का प्रयास कर रहे हैं।

Read more...

महाराणा प्रताप महान थे, अकबर नहीं: योगी

RK for website02

लखनऊ, 15 जून (भाषा) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुगल बादशाह अकबर के बजाय राजपूत शासक महाराणा प्रताप को महान करार देते हुए कहा है कि महाराणा ने उस वक्त की सबसे बड़ी सैन्य ताकत के सामने जिस शौर्य और पराक्रम का परिचय दिया था, उसका उदाहरण बिरले ही मिलता है।
मुख्यमंत्री ने महाराणा प्रताप की जयन्ती पर कल आयोजित एक कार्यक्रम में कहा हल्दीघाटी के युद्ध में कौन जीता, कौन हारा यह महत्वपूर्ण नहीं है। महत्वपूर्ण यह है कि अपनी सेना के साथ उस समय की सबसे बड़ी ताकत के सामने जूझते हुए महाराणा प्रताप ने जिस शौर्य और पराक्रम का परिचय दिया था, इतिहास में इस प्रकार के उदाहरण बिरले ही मिलते हैं।
उन्होंने कहा, यही नहीं, वह लड़ाई एक दिन की नहीं थी। वह युद्ध कई वर्षों तक अरावली की पहाडय़िों में लड़ा गया और अंतत: अपने सभी दुर्ग और किलों को वापस जीत करके महाराणा प्रताप ने यह बात साबित की थी कि महान अकबर नहीं, बल्कि महान राणा प्रताप ही हैं, जिन्होंने अपने शौर्य और पराक्रम के बल पर उस कालखण्ड में भी भारत के सम्मान और स्वाभिमान की रक्षा की थी।
योगी ने कहा, जरा सोचिए अगर महाराणा प्रताप ने अकबर की अधीनता स्वीकार कर ली होती तो क्या आज हम मेवाड़ के उस राजवंश को राष्ट्रीय स्वाभिमान के प्रतीक के रूप में इस तरह का सम्मान देते। वही बात आज के aपरिप्रेक्ष्य में हम सब पर भी लागू होती है। जब हम अपने उस तनिक से स्वार्थ के लिए अपने समाज, अपने धर्म, अपनी संस्कृति और अपने राष्ट्र के साथ कभी-कभी इस प्रकार की छेड़छाड़ करने लगते हैं, जिससे अपूरणीय क्षति की सम्भावना बनी रहती है।
मुख्यमंत्री ने इस मौके पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की पत्रिका अवध प्रहरी के विशेषांक का विमोचन भी किया।

Read more...

नकाबपोश लुटेरे 70 हजार रुपए लूटकर फरार

जयपुर, 15 जून (भाषा) जयपुर ग्रामीण के दूदू थाना क्षेत्र में कल देर रात चार नकाबपोशों ने पेट्रोलपंप कर्मियों को हवा में गोली चलाकर डराया और उनसे 70 हजार रूपए लूटकर फरार हो गए। पुलिस जांच अधिकारी हरि सिंह ने बताया कि जयपुर-अजमेर राष्ट्रीय राजमार्ग पर मोखमपुरा गांव के पास इंडियन ऑयल के पेट्रोल पंप पर दो वाहनों में सवार चार नकाबपोशों ने तीन कर्मियों को हवा में गोली चलाकर डराया धमकाया और उनसे 70 हजार रूपए लूटकर फरार हो गए।
उन्होंने बताया कि घटना स्थल से 7.65 एमएम का खाली कारतूस बरामद किया गया है। सीसीटीवी फुटेज और पेट्रोल पंप कर्मियों से पूछताछ के आधार पर लुटेरों की तलाश की जा रही है। चारों लुटेरे जीप और कैंपर में सवार होकर आए थे।

Read more...

राहुल को पौधों की समझ नहीं, किसानों का दर्द क्या समझेंगे: भाजपा सांसद

बलिया (उ.प्र.), 15 जून (भाषा) भाजपा किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और भदोही से पार्टी सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा है कि पौधों को पहचानने तक की समझ नहीं रखने वाले राहुल किसानों का दर्द कभी नहीं समझ सकते।
सिंह ने कल यहां संवाददाताओं से बातचीत में कांग्रेस अध्यक्ष पर किसान आंदोलन के नाम पर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा कि किताबों को पढ़कर देश की कृषि व्यवस्था को नहीं समझा जा सकता। राहुल पौधों को पहचान नहीं सकते, तो वह किसानों का दर्द भी कभी नहीं समझ सकते। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी ने जब लंगोटी पहनी थी तब वह देश की पीड़ा को समझ सके।
सिंह ने केन्द्र की भाजपा सरकार द्वारा किसानों के हितों में किए गए कार्याे का जिक्र करते हुए दावा किया कि नरेन्द्र मोदी सरकार के कार्यकाल में पहली बार कृषि के लिए 52 फीसदी बजट आवंटित हुआ तथा मनरेगा में कृषि कार्यों को भी शामिल कर खेती को बेहतर बनाने की पहल हुई है। उन्होंने दावा किया कि अपने विकास कार्यक्रमों के बलबूते भाजपा लोकसभा चुनाव 2019 में पूर्ण बहुमत से सत्ता में आएगी और नरेन्द्र मोदी फिर से देश के प्रधानमंत्री होंगे।

Read more...

एम्स में रीजीजू ने कराई साइनस के लिए सर्जरी

नई दिल्ली , 15 जून (भाषा) केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरेन रीजीजू की यहां अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में साइनस के लिए मामूली सर्जरी की गई। सूत्रों ने आज बताया कि 46 वर्षीय केंद्रीय मंत्री को कल अस्पताल के निजी वार्ड में भर्ती कराया गया था। एक सूत्र ने बताया कि रीजीजू को आज शाम या कल अस्पताल से छुट्टी मिल जाएगी।

Read more...

काले रंग की पृष्ठभूमि में शुजात की तस्वीर के साथ राइजिंग कश्मीर का अंक बाजार में आया

roopam 01new

श्रीनगर , 15 जून (भाषा) अपने प्रधान संपादक की हत्या के बाद अंग्रेजी अखबार राइजिंग कश्मीर ने आज अपना दैनिक संस्करण प्रकाशित किया। शुजात बुखारी की कल गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। उसमें उनके दो अंगरक्षक (पीएसओ या निजी सुरक्षा अधिकारी) भी मारे गए थे।
बुखारी और उनके दो अंगरक्षकों की कल शाम इफ्तार से थोड़ा पहले श्रीनगर के लाल चौक के निकट प्रेस एनक्लेव में राइजिंग कश्मीर के कार्यालय के बाहर अज्ञात बंदूकधारियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।
बुखारी के परिवार में पत्नी , एक बेटा और एक बेटी हैं।
राइजिंग कश्मीर का दैनिक संस्करण आज बाजार में आया जिसमें पहले पूरे पन्ने पर काले रंग की पृष्ठभूमि में दिवंगत प्रधान संपादक की तस्वीर है।
इस पन्ने पर एक संदेश लिखा है : अखबार की आवाज को दबाया नहीं जा सकता।
इसमें लिखा है , आप अचानक चले गए लेकिन अपने पेशेवर दृढ़ निश्चय और अनुकरणीय साहस के साथ आप हमारे लिए मार्गदर्शक बने रहेंगे। आपको हमसे छीनने वाले कायर हमारी आवाज को दबा नहीं सकते। सच चाहे कितना भी कड़वा क्यों न हो लेकिन सच को बया करने के आपके सिद्धांत का हम पालन करते रहेंगे। आपकी आत्मा को शांति मिले।
जम्मू - कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा कि बुखारी की हत्या के बावजूद दैनिक को प्रकाशित करना उनके प्रति सबसे उचित श्रद्धांजलि है क्योंकि दिवंगत पत्रकार भी यही चाहते।
उमर ने अखबार के पहले पन्ने की तस्वीर को साझा करते हुए ट्विटर पर लिखा , काम जारी रहना चाहिए , शुजात भी यही चाहते होते। यह आज का राइजिंग कश्मीर का अंक है। इस बेहद दुख की घड़ी में भी शुजात के सहयोगियों ने अखबार निकाला जो उनके पेशवराना अंदाज का साक्षी है और दिवंगत अधिकारी को श्रद्धांजलि देने का सबसे सही तरीका है।
बुखारी की हत्या की जम्मू - कश्मीर समेत पूरे भारत में निंदा हो रही है। जम्मू - कश्मीर के राज्यपाल एनएन वोहरा ने घटना के प्रति हैरानी और दुख जताया। उन्होंने कहा कि वरिष्ठ पत्रकार बुखारी की हत्या मीडिया जगत के लिए एक बहुत बड़ी क्षति है।

Read more...
Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News