Menu

नहीं देखा होगा गुदगुदी वाला पेड़, सहलाने पर हंसने लगते हैं टहनियां और पत्ते Featured

Gravity

गुदगुदी सिर्फ इंसानों को ही नहीं बल्कि पेड़ों को भी होती है। जी हां, आज आपको एक ऐसे अनोखे पेड़ के बारे में बताएंगे जिसे सहलाने पर इंसानों की तरह गुदगुदी होती है। अगर इसके तने को गुदगुदाया जाए तो पेड़ की टहनियां खिलखिला कर हंसने लगती हैं। ऐसा नहीं है कि आपको पेड़ के हंसने की आवाज आए। दरअसल, यह पेड़ छूते ही यह मचलने लगता है जैसे कि कोई इंसान... पेड़ की इस हरकत को आप अपनी आंखों से साफ देख सकते हैं। दरअसल, सोशल मीडिया पर गुदगुदी वाला पेड़ होने का दावा किया गया है। लेकिन जब इसकी हकीकत जानेंगे तो हैरान रह जाएंगे। उत्तराखंड के कालाढूंगी के जंगल में ऐसे दरख्त का आप दीदार कर सकते हैं, जिसके तने में अंगुलियां रगड़ें तो उसकी शाखाएं कांपना शुरू कर देती हैं। यह जानकर भले ही आपको हैरानी हो, लेकिन यह सच है। कालाढूंगी के जंगल में दो और रामनगर के क्यारी जंगल में कांपने वाला वृक्ष मौजूद है। पिछले चार साल से कालाढूंगी के दो वृक्षों को कार्बेट ग्राम विकास समिति ने पर्यटन से जोड़ा है। पर्यटकों को घने जंगल में कंपन वाले यह पेड़ दिखाने के लिए बकायदा समिति के गाइड जाते हैं। इसका नाम च्रेंडिया डूमिटोरमज् है। रूबीएसी कुल का यह सदस्य करीब 300 से 1300 मीटर की ऊंचाई पर पाया जाता है। दिसंबर से जनवरी तक का समय पेड़ों में फल आने का रहता है। इसे मेनफल, मिंदा, राधा और मदनफल का भी नाम दिया गया है।

roopam 01new

Last modified onTuesday, 22 May 2018 12:17
DNR Reporter

DNR desk

Leave a comment

Make sure you enter the (*) required information where indicated. HTML code is not allowed.

back to top

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News