Menu

top banner

राजनीति (123)

भगवा आतंकवाद पर बोली भाजपा- राहुल गांधी के मन में हिंदुओं के प्रति घृणा

नई दिल्ली। मक्का मस्जिद ब्लास्ट केस में सभी आरोपियों के बरी होने के बाद अब भाजपा ने कांग्रेस को निशाने पर लिया है। देश में 'भगवा आतंकवाद' को लेकर एक बार फिर राजनीति गर्मा गई है। मंगलवार को भाजपा नेता संबित पात्रा ने एक बार फिर से कांग्रेस पर हमला बोला और कांग्रेस नेताओं से मांग की कि वो देश से माफी मांगे। इस दौराने उन्होंने राहुल गांधी को भी हिंदू विरोधी करार दिया साथ ही एक 2009 में लिखा एक टेलीग्राम भी पेश किया।

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि राहुल गांधी के मन में हिंदुओं के प्रति घृणा है। भाजपा ने मांग की है कि भगवा आतंकवाद को लेकर राहुल गांधी माफी मांगे। वहीं, उन्होंने कांग्रेस नेता पी.चिदंबरम और सुशील कुमार शिंदे को भी आड़े हाथ लिया। संबित पात्रा ने कहा, 'कांग्रेस नेताओं ने भगवा आतंकवाद शब्द का इस्तेमाल किया है।

संबित पात्रा ने आगे कहा कि 2010 में पहली बार चिदंबरम ने हिंदू आतंकवाद शब्द का इस्तेमाल किया। केवल वोट की राजनीति के लिए कांग्रेस ने भगवा आतंकवाद शब्द का प्रयोग किया। राहुल के कैंडल मार्च पर निशाना साधते हुए उन्होंने सवाल किया कि क्या आज रात 12 बजे राहुल गांधी मोमबत्ती लेकर इंडिया गेट पर आएंगे। उन्होंने राहुल को घेरते हुए कहा कि कांग्रेस नेताओं ने राहुल गांधी से ही हिंदू आतंकवादी जैसे शब्द सीखे हैं।

2009 के एक टेलीग्राम का जिक्र करते हुए संबित ने कहा कि राहुल गांधी ने अमेरिकी अंबेसडर से मिलकर कहा था कि भारत को लश्कर-ए-तैयबा से ज्यादा खतरा हिंदू आतंकवाद से है।

संबित पात्रा ने कहा, 'भाजपा राहुल गांधी जी, सुशील कुमार शिंदे जी और पी. चिदंबरम जी से 'भगवा आतंक' शब्द का इस्तेमाल करने के लिए माफी की मांग करती है। हम हिंदुओं को हल्के में नहीं ले सकते हैं। हम सभी के विकास में विश्वास करते हैं। हम तुष्टीकरण नहीं करते।'

माफी मांगें राहुल और चिदंबरम

संबित पात्रा ने कहा कि हमने पुख्ता सबूत दे दिए हैं। राहुल गांधी और चिदंबरम को सामने आना ही होगा, वह बच नहीं सकते। उन्हें माफी मांगनी चाहिए। पात्रा ने कहा कि हम धर्मनिरपेक्ष का सम्मान करते हैं, लेकिन आपको दुनिया भर में हिंदुओं को बदनाम करने के लिए माफी मांगनी चाहिए।

कांग्रेस का घेराव करते हुए केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने कहा, 'किसी धर्म के नाम के साथ आतंक को जोडऩा एक मंत्री के अनुरूप नहीं होता है। हम भगवा आतंकवाद के शब्द को बर्दाश्त नहीं कर सकते। बहुत छोटा व्यक्ति बहुत उच्च स्थान (तत्कालीन गृहमंत्री) पर बैठा था।' वहीं, कांग्रेस को घेरते हुए भाजपा नेता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेताओं द्वारा हिंदुओं को बदनाम करने की साजिश रची गई। हिंदू आतंकवाद केवल एक राजनीतिक परियोजना थी, जिसे वोट बैंक की राजनीति के लिए राहुल गांधी द्वारा गढ़ा गया था।

Read more...

राहुल गांधी पर माला फेंकने वाले के खिलाफ हो सकती है पुलिस जांच

कर्नाटक के तुमकुर जिले में राहुल गांधी की रैली के दौरान उन पर माला फेंकने वाले शख्स के खिलाफ पुलिस जांच हो सकती है. इस व्यक्ति ने भीड़ से कांग्रेस अध्यक्ष पर माला फेंकी थी जो सीधे उनके गले में जाकर गिरी थी.

इस घटना को सुरक्षा में चूक मानते हुए पुलिस माला फेंकने वाले अज्ञात व्यक्ति की तलाश में जुट गई है. हृद्ग2ह्य१८ से बातचीत में सेंट्रल रेंज के आईजी बी दयानंद ने कहा कि उन्होंने तुमकुर के एसपी को उस व्यक्ति की तलाश कर मामले की जांच करने के निर्देश दे दिए हैं.

आईजी दयानंद ने कहा, "इस घटना के बारे में मुझे पता चला है. मैंने तुमकुर एसपी से कहा है कि उस व्यक्ति का पता लगाएं. यदि सुरक्षा में चूक की बात सामने आई तो संबंधित लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी."

Read more...

लोकसभा की 131 आरक्षित सीटों और 17 प्रतिशत दलित मतदाताओं पर राजनीतिक दलों की पैनी नजर

नई दिल्ली, देश में दलित और आदिवासी सामाजिक-आर्थिक रूप से भले ही कमजोर माने जाते हों, लेकिन उनकी सियासी हैसियत इतनी बड़ी है कि देश का कोई भी राजनीतिक दल उनको नजरअंदाज नहीं कर सकता। अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निरोधक कानून पर उच्चतम न्यायालय के हालिया फैसले के बाद खड़े हुए राजनीतिक बवाल से इस बात पर फिर से मुहर लगी है।
शायद यही वजह है कि भारत बंद का असर उन राज्यों में सबसे ज्यादा देखा गया जहां अगले कुछ महीनों के भीतर चुनाव होने हैं जिनमें मध्य प्रदेश, राजस्थान शामिल हैं। लोकसभा में अनुसूचित जाति और जनजातियों के लिए 131 सीटें आरक्षित हैं तथा देश की कुल मतदाताओं की इन वर्गों की 20 फीसदी से अधिक है। इसमें भी दलित मतदाता करीब 17 फीसदी हैं। साल 2019 के लोकसभा एवं उससे पहले मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ एवं कुछ अन्य राज्यों के विधानसभा चुनाव में सामाजिक एवं आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के साथ खड़ा दिखने में कोई कसर नहीं छोडऩा चाहती है। 
लोकसभा की 545 सीटों में से 84 सीटें अनुसूचित जाति और 47 सीटें अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित हैं। इन 131 आरक्षित सीटों में से 67 सीटें भाजपा के पास हैं। कांग्रेस के पास 13 सीटे हैं। इसके अलावा तृणमूल कांग्रेस के पास 12, अन्नाद्रमुक और बीजद के पास सात-सा सीटें हैं।
भाजपा जहां इस वर्ग पर अपनी पकड़ मजबूत बनाने का प्रयास कर रही है तो दूसरी ओर कांग्रेस समेत विपक्षी दलों का प्रयास सामाजिक एवं आर्थिक रूप से इस कमजोर वर्ग को अपने साथ लाने का है। केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने भाषा से कहा कि अंबेडकर के सपनों को पूरा करने की मोदी सरकार की अडिग प्रतिबद्धताएं हैं और उसके सारे प्रयासों का उद्देश्य दलितों के जीवन में बदलाव लाना है। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने लोकसभा चुनावों में दो बार अंबेडकर को हरवाया और इसके पीछे हल्के बहाने पेश किए कि संसद के केंद्रीय कक्ष में उनका चित्र नहीं लग पाए। कांग्रेस ने अंबेडकर को भारत रत्न नहीं मिलने दिया।
मेघवाल ने कहा कि अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार रोकथाम) संशोधन विधेयक, 2015 के माध्यम से राजग सरकार ने वास्तव में कानून के प्रावधानों को मजबूत बनाया था और यह दलित वर्गों के कल्याण की भाजपा की प्रतिबद्धता के अनुरूप था। कांग्रेस सांसद सुनील जाखड़ ने आरोप लगाया कि भाजपा नीत राजग सरकार के शासनकाल में देश में दलितों एवं समाज के कमजोर वर्ग के लोगों पर हमले बढ़े हैं और सरकार उन्हें सुरक्षा देने में विफल साबित हो रही है। उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार निवारण कानून से जुड़े विषय पर सरकार उच्चतम न्यायालय में ठीक से विषय को नहीं रख सकी जिसका परिणाम हमारे सामने है।
चुनावी राजनीति में दलितों और आदिवासियों के सियासी महत्व की वजह से सरकार और भाजपा बार-बार यह संदेश देने की कोशिश कर रहे हैं कि वह इन वर्गों के हितों के साथ खड़ी है।
सरकार पर दलित विरोधी होने के विपक्ष के आरोपों के बीच गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को लोकसभा में कहा कि मोदी सरकार एससी-एसटी के हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है और एससी-एसटी कानून को कमजोर नहीं किया जाएगा।
विपक्ष के आरोपों पर पलटवार करते हुए भाजपा ने यह दलील भी पेश की है कि उसके पास सर्वाधिक एससी-एसटी सांसद हैं।
केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत ने कहा, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के हित के संरक्षण के लिए भाजपा कटिबद्ध है। इन वर्गों के उत्थान के लिए सबसे ज्यादा काम भाजपा ने किए हैं। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में इन वर्गों के अधिकारों को मजबूती मिली है। 
भाजपा की कोशिश है दलितों और आदिवासियों के बीच अपने आधार बचाए रखने के साथ और इसे बढ़ाया जाए। वहीं कभी इस वर्ग पर राजनीतिक रूप से मजबूत पकड़ रखने वाली कांग्रेस अपना आधार फिर वापस पाने को प्रयासरत है।
एससी-एसटी कानून पर न्यायालय के फैसले के बाद राहुल ने कहा, दलितों को भारतीय समाज के सबसे निचले पायदान पर रखना आरएसएस और भाजपा के डीएनए में है। जो इस सोच को चुनौती देता है कि उसे वे हिंसा से दबाते हैं। 
उत्तर प्रदेश में पहले से कमजोर हो चुकी बसपा प्रमुख मायावती भी न्यायालय के फैसले को लेकर केंद्र सरकार पर हमलावर नजर आ रही हैं।

Read more...

'नर्मदा घोटाला रथ यात्रा' रद्द

इंदौर, मध्यप्रदेश में चुनावी साल में जिन पांच लोगों को नर्मदा नदी की रक्षा के लिए राज्यमंत्री के दर्जे से नवाजा गया है, उनमें शामिल एक संत समेत दो लोगों ने सूबे की भाजपा सरकार के खिलाफ प्रस्तावित नर्मदा घोटाला रथ यात्रा रद्द कर दी है।
इन लोगों ने राज्य सरकार पर सीधे सवाल उठाते हुए एक अप्रैल से ैनर्मदा घोटाला रथ यात्रौ निकालने की घोषणा की थी, लेकिन राज्यमंत्री का दर्जा मिलने के बाद दोनों ने यह यात्रा रद्द कर दी है।
राज्य सरकार के तीन अप्रैल को जारी आदेश के अनुसार प्रदेश के विभिन्न चिन्हित क्षेत्रों में विशेषत: नर्मदा किनारे के क्षेत्रों में वृक्षारोपण, जल संरक्षण तथा स्वच्छता के विषयों पर जन जागरूकता का अभियान निरंतर चलाने के लिए 31 मार्च को विशेष समिति गठित की गई है। इस समिति के पांच विशेष सदस्यों-नर्मदानंद महाराज, हरिहरानंद महाराज, भैयू महाराज, कम्प्यूटर बाबा और योगेंद्र महंत को राज्यमंत्री स्तर का दर्जा प्रदान किया गया है.
बहरहाल, समिति में शामिल इंदौर के कम्प्यूटर बाबा की अगुवाई में एक अप्रैल से 15 मई तक प्रदेश के प्रत्एक जिले में ैनर्मदा घोटाला रथ यात्रौ निकालकर इस नदी की बदहाली का मुद्दा उठाने की रूप-रेखा तय की गई थी. इस मुहिम की प्रचार सामग्री सोशल मीडिया पर वायरल है जिससे पता चलता है कि यह यात्रा नर्मदा नदी में जारी ैअवैध रेत खनन पर अंकुश लगवानेै और ैइसके तटों पर किए गए पौधारोपण के घोटालेै की जांच की प्रमुख मांगों के साथ निकाली जानी थी.
राज्यमंत्री का दर्जा हासिल करने के बाद कम्प्यूटर बाबा ने आज ैपीटीआई-भाषौ से कहा, ैहम लोगों ने यह यात्रा निरस्त कर दी है, क्योंकि प्रदेश सरकार ने नर्मदा नदी के संरक्षण के लिए साधु-संतों की समिति बनाने की हमारी मांग पूरी कर दी है। अब भला हम यह यात्रा क्यों निकालेंगे।ै
यह पूछे जाने पर कि क्या एक संन्यासी के रूप में उनका राज्यमंत्री स्तर की सरकारी सुविधाएं स्वीकारना उचित होगा, उन्होंने जवाब दिया, ैअगर हमें पद और दूसरी सरकारी सुविधाएं नहीं मिलेंगी, तो हम नर्मदा नदी के संरक्षण का काम कैसे कर पाएंगे। हमें समिति के सदस्य के रूप में नर्मदा नदी को बचाने के लिए जिलाधिकारियों से बात करनी होगी और दूसरे जरूरी इंतजाम करने होंगे। इसके लिए सरकारी दर्जा जरूरी है.ै
जिन योगेंद्र महंत को कम्प्यूटर बाबा के साथ विशेष समिति में शामिल कर राज्यमंत्री का दर्जा प्रदान किया गया है, वह ैनर्मदा घोटाला रथ यात्रौ के संयोजक थे।
बहरहाल, राज्यमंत्री का दर्जा मिलने के बाद महंत ने भी कहा कि नर्मदा नदी को बचाने के लिए समिति बनाए जाने की मांग प्रदेश सरकार द्वारा पूरी किए जाने के कारण यह यात्रा निरस्त कर दी गई है।
इस बीच, कांग्रेस ने कम्प्यूटर बाबा और महंत की मंशा पर सवाल उठाए हैं. प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने कहा, ैइन दोनों को स्पष्ट करना चाहिए कि उन्होंने प्रदेश की भाजपा सरकार के साथ कौन-सी डील के तहत नर्मदा घोटाला रथ यात्रा रद्द कर दी है. क्या इन्होंने राज्यमंत्री का दर्जा हासिल करने के लिए ही इस यात्रा का ऐलान किया था.ै

Read more...

हर चीज में लीक है, चौकीदार वीक है : राहुल

नई दिल्ली, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सीबीएसई की बोर्ड की परीक्षाओं समेत कई सारे पेपर लीक को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आज एक बार फिर तुकबंदी के जरिए निशाना साधते हुए कहा कि चौकीदार वीक (कमजोर) है।
भाजपा ने आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि कांग्रेस प्रमुख संप्रग शासन की ओर इशारा कर रहे हैं।
केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कैबिनेट बैठक के बारे में संवाददाता सम्मेलन में पत्रकारों के प्रश्न के जवाब में कहा, राहुल गांधी अपने दिनों को याद कर रहे हैं।
राहुल ने ट्विटर पर हैशटैग बस एक और साल के साथ सरकार पर हमला बोला। गौरतलब है कि मोदी सरकार के कार्यकाल का अब एक साल बचा है।
राहुल ने हिंदी और अंग्रेजी शब्दों के साथ किए ट्वीट में कहा, कितने लीक? डेटा लीक, आधार लीक, एसएससी परीक्षा लीक, इलेक्शन डेट लीक, सीबीएसई परीक्षा लीक। हर चीज में लीक है, चौकीदार वीक है।
सीबीएसई ने लीक होने की खबरें आने के बाद कक्षा 10वीं की गणित और 12वीं कक्षा की अर्थशास्त्र की परीक्षा फिर से कराने की कल घोषणा की।
केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि सोमवार से एक नई व्यवस्था शुरू की जाएगी ताकि यह सुनिश्चित हो कि कोई भी लीक ना हो और साथ ही सरकार इस मामले की आतंरिक जांच करा रही है।

Read more...

लीक मामलों पर राहुल गांधी और भाजपा के बीच चले आरोपों के तीर

नई दिल्ली, सीबीएसई पेपर लीक मामले में राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधने पर पलटवार करते हुए भाजपा ने आज कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष अपनी पार्टी के 10 साल के शासन को याद कर रहे थे।
राहुल गांधी ने सीबीएसई की बोर्ड की परीक्षा समेत कुछ कथित लीक को लेकर प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए आज कहा कि चौकीदार वीक (कमजोर) है।
इस विषय पर पूछे जाने पर केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने संवाददाताओं से कहा, राहुल गांधी अपने दिनों की याद कर रहे थे जब 10 साल उनकी पार्टी शासन में थी।
उल्लेखनीय है कि कांग्रेस नीत संप्रग। और संप्रग 2 के दौरान 10 वर्षाे के शासनकाल में मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री थे।
इससे पहले, राहुल ने हिंदी और अंग्रेजी शब्दों के साथ किए ट्वीट में कहा, कितने लीक ? डेटा लीक, आधार लीक, एसएससी परीक्षा लीक, इलेक्शन डेट लीक, सीबीएसई परीक्षा लीक। हर चीज में लीक है, चौकीदार वीक है।
मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सीबीएसई पेपर लीक मामले में गुनाहगारों के खिलाफ कड़ी कार्वाई करने का संकल्प व्यक्त करते हुए कहा कि ऐसी घटना दोबारा नहीं हो, इसके लिए परीक्षा व्यवस्था में बदलाव समेत सभी जरूरी उपाए किए जाएंगे।

Read more...

स्थाई सिंधु आयोग की बैठक दिल्ली में शुरू

नई दिल्ली। स्थाई सिंधु आयोग की दो दिवसीय बैठक आज शुरू हो गई जिसमें भारत और पाकिस्तान सिंधु जल संधि से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर चर्चा कर सकते हैं।
सूत्रों ने बताया कि वार्ता में भारतीय शिष्टमंडल में सिंधु जल आयुक्त पी के सक्सेना, विदेश मंत्रालय का एक प्रतिनिधि और तकनीकी विशेषज्ञ शामिल हैं।
नई दिल्ली में आयोग की 114वीं बैठक में पाकिस्तान के छह सदस्ईय शिष्टमंडल का नेतृत्व सैयद मुहम्मद मेहर अली शाह कर रहे हैं।
यह बैठक राजनयिकों के कथित उत्पीडऩ सहित विभिन्न मुद्दों को लेकर दोनों देशों के बीच जारी तनाव की पृष्ठभूमि में हो रही है।
स्थाई सिंधु आयोग मूलत: सिंधु जल संधि के तहत स्थापित एक व्यवस्था है जिसके तहत जल वितरण समझौते के कार्यान्वयन के लिए सहयोगात्मक व्यवस्था करना और उसे बनाए रखना तथा सिंधु जल प्रणालियों के विकास में दोनों पक्षों के बीच सहयोग को आगे बढ़ाना शामिल है।
पाकिस्तान ने चिनाब के बेसिन में स्थित भारत की रातले (850 मेगावाट), पाकल दुल (1000 मेगावाट) और लोअर कलनाई (48 मेगावाट) परियोजनाओं को लेकर चिंता जाहिर की है। उसका तर्क है कि इन परियोजनाओं से सिंधु जल संधि का उल्लंघन होता है। इस संधि पर 1960 में हस्ताक्षर हुए थे।
दूसरी ओर, भारत कहता आया है कि इन परियोजनाओं का डिजाइन संधि के अनुकूल ही है।
सिंधु जल संधि के तहत छह नदियों ... व्यास, रावी, सतलुज, सिंधु, चिनाब और झेलम के पानी का बंटवारा और बंटवारे संबंधी अधिकार आते हैं।
स्थाई सिंधु आयोग की अंतिम बैठक मार्च 2017 में इस्लामाबाद में हुई थी। संधि के अनुसार, स्थाई सिंधु आयोग की बैठक साल में कम से कम एक बार जरूर होती है। यह बैठक क्रमश: भारत में और फिर पाकिस्तान में, एक के बाद एक होती है।

Read more...

भाजपा में शामिल होंगे कांग्रेस विधायक गुट्टेदार

बेंगलुरू। कर्नाटक में12 मई को होने वाले विधानसभा चुनावों के पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और विधायक मलिकय्या वैंकया गुट्टेदार ने सत्तारूढ़ पार्टी छोडऩे और भाजपा में शामिल होने कीआज घोषणा की।
अफजलपुर से छह बार के विधायक और पूर्व मंत्री गुट्टेदार मंत्री पद के लिए उनके नाम पर विचार नहींकिए जाने को लेकर पार्टी से नाखुश थे।
गुट्टेदार ने आज प्रदेश भाजपा प्रमुख बीएस एदियुरप्पा से मुलाकात की और कहा कि फैसला लेने के पहले उन्होंने मुख्यमंत्री सिद्धरमैया से बात की।
गुट्टेदार ने यहां संवाददाताओं से कहा, कौन सी पार्टी से जुड़ा जाए, इस पर असमंजस में था। मैंने एदियुरप्पा के नेतृत्व में भाजपा में शामिल होने का फैसला किया।
उन्होंने कहा कि वह भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के30 और31 मार्च कोउनके मैसूर दौरे के दौरान पार्टी में शामिल होंगे।
गुट्टेदार ने कहा कि उनके कई समर्थक भी भाजपा में शामिल होंगे।

Read more...

इलाज के लिए दिल्ली पहुंचने वाले हैं लालू

रांची। राष्ट्रीय जनता दल( राजद) के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव एम्स में विशेष इलाज के लिए आज दिल्ली पहुंचने वाले हैं। राजद के एक वरिष्ठ नेता ने इसकी जानकारी दी।
लालू चारा घोटाला मामले में23 दिसंबर से जेल में बंद हैं।
लालू के साथ यात्रा कर रहे राजद नेता भोला प्रसाद ने पीटीआई भाषा से कहा, वह कल शाम रांची- नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस से रवाना हुए और आज दिल्ली पहुंचने वाले हैं।
लालू को स्वास्थ्य संबंधी शिकायत पर17 मार्च को राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस( रिम्स) में भर्ती कराया गया था।

प्रधानमंत्री 10 अप्रैल को मोतिहारी में 20 हजार स्वच्छाग्रहियों को संबोधित करेंगे
मोतिहारी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चंपारण सत्याग्रह शताब्दी वर्ष के अवसर पर10 अप्रैल को पूर्वी चंपारण जिला मुख्यालय मोतिहारी में20 हजार स्वच्छाग्रहियों को संबोधित करेंगे।
पूर्वी चंपारण के जिलाधिकारी रमन कुमार ने बताया कि चंपारण सत्याग्रह शताब्दी वर्ष के अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी गामी10 अप्रैल को मोतिहारी आएंगे। जिला मुख्यालय के गांधी मैदान मेंवह 20 हजार स्वच्छाग्रहियों को संबोधित करेंगे।
उन्होंने बताया कि इन बीस हजार स्वच्छाग्रहियों में से10 हजार बिहार के तथा10 हजारदूसरे प्रदेशों को होंगे। बिहार से दस हजार स्वच्छाग्रहियों में से एक हजार चंपारण के होंगे। जिलाधिकारी ने बताया कि बिहार के बाहर से आने वाले स्वच्छाग्रहियों के ठहरने के लिए टेंट सिटी का निर्माण किया जा रहा है जिसमें सभी आवश्यक सुविधाएं होंगी। उन्होंने कहा कि इस तरह का आयोजन किसी छोटे जिले में पहली बार हो रहा है। पूर्व में दिल्ली, लखनऊ और अहमदाबाद जैसे शहरों मेंऐसे आयोजन होते रहे हैं। जिलाधिकारी ने बताया कि चंपारण सत्याग्रह शताब्दी के मौके पर चंपारण की भूमि से स्वच्छाग्रहियों को प्रधानमंत्री का संदेश बापू के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। उन्होंने बताया कि इस समारोह में भाग लेने के लिए सभी प्रदेश के मुख्यमंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों को आमंत्रित किया गया है।
जिलाधिकारी ने बताया कि अवसर पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह सहित कई अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहेंगे।
उन्होंने बताया कि पूर्वी चंपारण जिला को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए अभियानचलाया जा रहा है। अबतक जिले में55.6 प्रतिशत घर ओडीएफ हो गया है। प्रधानमंत्री के आगमन की तिथि यानि10 अप्रैल तक इसे100 प्रतिशत पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

 

Read more...

गुजरात स्पीकर ने कांग्रेस के 28 विधायकों को निलंबित किया

गांधीनगर,  कांग्रेस के करीब28 विधायकों को आज गुजरात विधानसभा से दिन भर के लिए निलंबित कर दिया गया और उनमें से15 को सदन से निष्कासित कर दिया गया। पार्टी के वरिष्ठ सदस्य वीरजी ठुमर के निलंबन को लेकर हंगामा करने के बाद इनके खिलाफ स्पीकर ने यह कार्वाई की।
विधानसभा अध्यक्ष( स्पीकर) राजेंद्र त्रिवेदी ने भोजनावकाश से पहले विपक्षी विधायकों को निलंबित कर दिया, लेकिन उन्होंने कांग्रेस के मुख्य सचेतक अमित चावदा द्वारा पार्टी सहकर्मियों की ओर से माफी की पेशकश किए जाने पर भोजनावकाश के बाद उनका निलंबन वापस ले लिया। दरअसल, कृषि मंत्री आरसी फालदू के अपने विभाग के लिए बजटीय मांग पर बोलने के दौरान सदन में शोरगुल होने लगा। उनके भाषण से पहले ठुमर ने सदन में दावा किया कि गुजरात में भाजपा सरकार ने22 साल के शासन में एक बांध तक नहीं बनाया है। इस दावे का जवाब देते हुए फालदू ने पिछले दो दशक में राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई विभिन्न सिंचाई योजनाएं गिनाई।
उन्होंने जैसे ही भाषण में ठुमर का नाम लिया, कांग्रेस के विधायक अपनी सीट से खड़े हो गए और मंत्री से बहस करने लगे। स्पीकर ने ठुमर सेबार बार कहा कि वह बैठजाएं लेकिन कांग्रेस विधायकों ने अपना जुबानी हमला जारी रखा। उन्होंने उस वक्त स्पीकर को खुद को निलंबित करने की चुनौती भी दे डाली, जब त्रिवेदी ने उन्हें अनुशासनहीनता को लेकर सख्त कार्वाई की चेतावनी दी।
त्रिवेदी ने ठुमर को दिन के शेष समय के लिए निलंबित कर दिया जिसके बाद कांग्रेस के कई विधायक स्पीकर के आसन के करीब पहुंच गए और भाजपा द्वारा अन्याय किए जाने तथा उसके सख्ती से पेश आने का आरोप लगाया। कांग्रेस के करीब15 विधायक स्पीकर के आसन के पास बैठ गए जिस पर स्पीकर ने उन्हें दिन के शेष समय के लिए उन्हें निलंबित कर दिया और फिर उन्हें निष्कासित करने के लिए मार्शल बुलाया। स्पीकर के आसन के पास खड़े विधायकों को भी निलंबित कर दिया गया। कुल मिलाकर कांग्रेस के28 प्रदर्शनकारी विधायकों को दिन के शेष समय के लिए निलंबित किया गया।
हालांकि, जब दोपहर में सदन की बैठक दोबारा शुरू हुई तब चावदा ने कांग्रेस विधायकों की ओर से माफी मांगी। उन्होंने स्पीकर और सत्तारूढ़ दल के सदस्यों से विशाल हृदय दिखाने की अपील की जिसपर त्रिवेदी ने ठुमर सहित कांग्रेस के सभी विधायकों का निलंबन वापस ले लिया।

 

Read more...
Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News