Menu

उच्चतम न्यायालय ने लिचिंग मामले में अवमानना याचिका पर राजस्थान सरकार से जवाब मांगा

नई दिल्ली, 20 अगस्त (भाषा) उच्चतम न्यायालय ने राजस्थान के अलवर जिले में 20 जुलाई को हुई पीट-पीटकर हत्या के मामले का संज्ञान लेते हुए राज्य सरकार से मामले में की गई कार्वाई पर जवाब दाखिल करने को कहा है।
इससे पहले शीर्ष न्यायालय ने कथित गौरक्षा के नाम पर हिंसा से निबटने के लिए कई दिशा-निर्देश जारी किए थे।
प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पीठ ने राज्य सरकार के गृह विभाग के प्रधान सचिव से कहा कि वह लिंचिंग के मामले में की गई कार्वाई का विस्तृत ब्यौरा देते हुए हलफनामा दायर करें।
अलवर जिले के रामगढ़ इलाके में 20 जुलाई को गौरक्षकों ने रकबर खान (28) की कथित तौर पर पिटाई कर दी थी। घटना के वक्त रकबर दो गायों को लाढ़पुरा गांव से हरियाणा स्थित अपने घर ला रहा था।
पीठ तुषार गांधी और कांग्रेस नेता तहसीन पूनावाला की ओर से दायर अवमानना याचिका की सुनवाई कर रही थी।
याचिका में अलवर में भीड़ द्वारा पीट-पीटकर हत्या मामले में राजस्थान सरकार के खिलाफ अवमानना की कार्वाई करने की मांग की गई थी।
शीर्ष अदालत ने आज सभी अन्य राज्य सरकारों से कहा है कि वे उठाए गए कदमों की जानकारी देते हुए सात सितंबर तक अनुपालन रिपोर्ट पेश करें।
अदालत अब इस मामले पर सुनवाई 30 अगस्त को करेगी।

Read more...

अशोक गहलोत का बीकानेर दौरा रद्द...

 बीकानेर। पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी २२ अगस्त को बीकानेर शहर और ग्रामीण क्षेत्र के कई कार्यक्रमों में शिरकत करना था।
 
मालूम हो कि जिले में किसान पंचायत, विश्नोई धर्मशाला में डीलक्स रूम का उद्घाटन तथा शहर में एक मंदिर का लोकार्पण होना था। लेकिन इन सभी कार्यक्रमों को रद्द कर दिया गया है।
दरअसल 23 अगस्त को भारत के पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की मृत्यु के बाद प्रदेश सरकार ने सात दिन की राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है। इसी के तहत बीकानेर में होने वाले सभी कार्यक्रमों को रद्द कर दिया गया है।
Read more...

मुख्यमंत्री राजे गौरव यात्रा छोड़ वाजपेई की कुशलक्षेम जानने दिल्ली रवाना

जयपुर, 16 अगस्त (भाषा) पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की कुशल क्षेम जानने के लिए राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे आज अपनी गौरव यात्रा बीच में ही छोड़कर दिल्ली रवाना हो गई हैं। मुख्यमंत्री राजे की राजस्थान गौरव यात्रा का दूसरा चरण आज सवाई माधोपुर से शुरू होना था। आधिकारिक बयान के अनुसार वे इसे छोड़कर दिल्ली रवाना हो गईं। यात्रा को फिलहाल स्थगित कर दिया गया है। इस बीच पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेई के शीघ्र स्वास्थ्य को लेकर प्रदेशभर में जगह जगह प्रार्थनाएं व हवन यज्ञ किए जा रहे हैं। अजमेर की प्रसिद्व ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह में उनकी तंदुरूस्ती के लिए दुआएं मांगी गईं।

Read more...

राजस्थान में फर्जी मतदाताओं पर चुनाव आयोग पहुंची कांग्रेस, नाम हटाने की मांग की

नई दिल्ली, 14 अगस्त (भाषा) कांग्रेस ने राजस्थान में 45 लाख फर्जी मतदाता होने का दावा करते हुए आज चुनाव आयोग का रुख किया और आग्रह किया कि आगामी विधानसभा चुनाव से पहले जांच कर फर्जी नामों को मतदाता सूची से हटाया जाए।
मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत से कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल की मुलाकात के बाद पार्टी के संगठन महासचिव अशोक गहलोत ने संवाददाताओं से कहा, अगर मतदाता सूची ही सही नहीं होगी तो लोकतंत्र का क्या होगा। इस देश में वो लोग सत्ता में आ गए हैं जो किसी भी हद तक जा सकते हैं। इसलिए इस मुद्दे को गंभीरता से लेने की जरूरत है।
उन्होंने कहा, यह बड़ा मुद्दा है। मध्य प्रदेश और राजस्थान तथा कई दूसरे राज्यों में फर्जी मतदाताओं की बात सामने आ रही हैं। ऐसा लगता है कि राज्य में बैठी सरकारें संगठित रूप से ऐसा करने की कोशिश कर कर रही हैं।
पार्टी के वरिष्ठ नेता विवेक तन्खा ने कहा हमने राजस्थान के सभी 200 विधानसभा क्षेत्रों का विश्लेषण किया है। मतदाता सूची में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है, जबकि एक-दो फीसदी की बढ़ोतरी सामान्य हो सकती है, लेकिन यहां तो इससे कहीं ज्यादा की बढ़ोतरी हुई है।
उन्होंने कहा, राजस्थान में 4 करोड़ 75 लाख मतदाता हैं। अध्ययन से पता चला है कि फर्जी मतदाताओं की संख्या 45 लाख से अधिक है।
राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा, पिछले कुछ साल में मतदाताओं की संख्या में 70 लाख इजाफा हुआ है। हमारा मानना है कि 45 लाख मतदाताओं की जांच होनी चाहिए। यह काम चुनाव आयोग को करना है।
उन्होंने कहा, फर्जी नामों को हटाया जाए। जगह-जगह सैकड़ों मतदाता ऐसे हैं जिनके पते एक हैं। मुख्य चुनाव आयुक्त ने कार्वाई का का अश्वासन दिया है। लेकिन हमारी मांग है कि यह सुनिश्चित समय के भीतर होना चाहिए।
पायलट ने यह भी कहा कि फर्जी मतदाता सूची के मामले को विवेक तन्खा उच्चतम न्यायालय भी लेकर जा रहे हैं।

Read more...

वाल्मिकी समाज ने सलमान के खिलाफ कराया मामला दर्ज, सुनवाई आज

जोधपुर। एक ओर हिरण शिकार में फंसे सलमान खान को एक और चुनौति मिल गई है। जोधपुर कोर्ट में जातिसूचक टिप्पणी करने के मामले में सलमान खान की याचिकाओं पर मंगलवार को सुनवाई होगी। जोधपुर में इस मामले को लेकर दो एफआईआर दर्ज हुई थीं। इन मामलों को लेकर सलमान की ओर से इन्हें निरस्त करने की याचिका लगाई गई थी। जिसकी सुनवाई जस्टिस विजय विश्नोई की अदालत में मंगलवार को सूचीबद्ध हुई है। फिलहाल इस मामले में सलमान को अंतरिम राहत देते हुए कोर्ट ने उनके विरुद्ध कार्रवाई पर रोक लगा रखी है। आपको बता दें कि 1998 में हिरण शिकार के मामलों के सुनवाई अभी चल रही है, इस दौरान दिसम्बर 2017 में एक टीवी शो में सलमान की ओर से वाल्मिकी जाति को लेकर टिप्पणी की थी। शो में शिल्पा शेट्टी के साथ सलमान के टिप्पणी करने पर देश में कई जगह वाल्मिकी समाज ने शिकायतें दर्ज करवाई थी।

Read more...

रामेश्वर डूडी ने बेनिवाल को सुनाई खरी-खरी...

जयपुर। खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल की ओर से नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी की उपेक्षा करने का आरोप कांग्रेस पर लगाने के बाद इस मामले में अब डूडी ने जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के कार्यक्रम के दौरान वे दिनभर उनके साथ ही थे तो उपेक्षा का प्रश्न ही पैदा नहीं होता है। उन्होंने कहा कि रामलीला मैदान में धन्यवाद ज्ञापित किया था। ऐसे में उपेक्षा जैसी कोई बात नहीं है। डूड़ी ने कहा कि खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल ने जो उपेक्षा की बात कही है वो उचित नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस किसानों की पार्टी है। कांग्रेस ने उन्हें प्रधान से लेकर नेता प्रतिपक्ष के पद पर पहुंचाया है। डूडी ने बेनीवाल के आरोपों पर कहा कि कांग्रेस मेरा परिवार है, ऐसे में परिवार के भीतर उपेक्षा का तो सवाल ही नहीं उठता। इस दौरान उन्होंने कहा कि सचिन पायलट भी किसान के बेटे हैं। ऐसे में उन्हें सामंती सोच का बताना गलत है। डूडी ने कहा कि विधायक बेनीवाल उनके पास केवल कुशलक्षेम पूछने के लिए आए थे। गौरतलब है कि बेनीवाल ने एक बयान जारी कर कहा था कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के दौरे के दिन पार्टी की तरफ से नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी की उपेक्षा की गई थी। साथ ही यह भी कहा था कि केवल डूडी ही नहीं, कई अन्य जनप्रतिनिधियों की भी उपेक्षा की गई थी।

Read more...

गुलाब चंद कटारिया ने अशोक गहलोत को दी चुनौती

 
जयपुर। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की चुनावी यात्रा की तैयारियां पूरी हो गई है, लेकिन इस यात्रा को लेकर कांग्रेस ने निशाना साधा है। पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 'राजस्थान गौरव यात्रा' को 'कुराज यात्रा' बताते हुए विवादित टिप्पणी की है। इस पर गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने गहलोत को खुली बहस की चुनौती दी है।
 
कटारिया ने कहा कि वे गहलोत को खुली बहस और उनके हर सवाल का जवाब देने को तैयार है। उनके अनुसार गहलोत कांग्रेस राज के ५० साल में कराए विकास कार्यों और योजनाओं में खर्चे का ब्यौरा ले आए। वे अपनी प्रदेश सरकार के साढ़े चार साल में हुए विकास कार्य और योजनाओं का ब्यौरा लेकर बैठते हैं। फिर चाहे जितनी बहस कर लें गहलोत को पता चल जाएगा कि असल में प्रदेश का विकास किस सरकार के कार्यकाल में हुआ।
Read more...

प्रधानमंत्री मोदी पर गरज पड़े अशोक गहलोत...कह दी यह बात....

नई दिल्ली, 30 जुलाई (भाषा) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर आज पलटवार करते हुए कांग्रेस ने आज आरोप लगाया कि मोदी सरकार कुछ पूंजीपतियों के हितों के लिए काम कर रही है। गौरतलब है कि उद्योग जगत के लोगों की कथित आलोचना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की आलोचना की थी। कांग्रेस के संगठन महासचिव अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा, मोदी सरकार जनता के कल्याण के लिए काम नहीं कर रही है, बल्कि कुछ पूंजीपतियों के हित में काम कर रही है। पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने भी प्रधानमंत्री पर निशाना साधा और कहा, उद्योगपतियों के साथ खड़ा होना अच्छी बात है लेकिन साथ खड़े होकर केवल दो लोगों के हितों और पार्टी की आमदनी बढ़ाने का ख्याल करना नहीं, बल्कि देश और युवा के भविष्य के बारे में भी सोचना ज़रूरी है।
दरअसल, प्रधानमंत्री मोदी ने कल राहुल गांधी और कांग्रेस पर इशारों-इशारों में निशाना साधते हुए कहा था, ैहम वो लोग नहीं हैं जो उद्योगपतियों के बगल में खड़े रहने से डरते हैं। कुछ लोगों को आपने देखा होगा उनकी एक फ़ोटो नहीं निकाल सकते उद्योगपति के साथ। लेकिन देश का एक उद्योगपति ऐसा नहीं होगा, जिनके घरों में जाकर साष्टांग दंडवत न किए हों।ै
उन्होंने कहा, ैजब नीयत साफ़ हो और इरादे नेक हों तो किसी के भी साथ खड़े होने से दाग़ नहीं लगते। महात्मा गांधी जी का जीवन इतना पवित्र था कि उन्हें बिड़ला जी के परिवार के साथ जाकर रहने, बिड़ला जी के साथ खड़े होने में कभी संकोच नहीं हुआ।ै

Read more...

हिंदू धर्म छोड़ दें ममता बनर्जी, उनकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं: बीजेपी नेता जसवंत सिंह

जयपुर, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मॉब लिंचिंग के मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और उससे जुड़े संगठनों को जमकर कोसा था और कहा था कि ऐसे कट्टरपंथी लोग देश में हिंदू तालिबान बना रहे हैं। ममता के इस बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए राजस्थान सरकार में मंत्री डॉ. जसवंत सिंह ने कहा है कि उनकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है और उन्हें इतनी दिक्कत है तो हिंदू धर्म छोड़ देना चाहिए।
बीजेपी ने,हिन्दू हिन्दू करके सभी को इर्रिटेड किया है ! अब बंद करो यार,आप तो विकास करने वाले हो न,विकास के बलबूते पर वोट लो न ! लोगो को क्यो उल्लू बना रहे हो ?

अलवर लिंचिंग के मामले पर आरोपों का सामना कर रही बीजेपी पर विपक्ष के तमाम नेताओं ने जमकर हमला बोला, ऐसे में ममता बनर्जी भला क्यों पीछे रहतीं। ममता के बयान का जवाब देते हुए राजस्थान सरकार के मंत्री ने कहा, 'जिसको खुद को ज्ञान नहीं, देश से प्रेम नहीं, इससे ज्यादा बेशर्म बयान ममता जी का क्या होगा कि जितने हिंदू संगठन हैं, वे सारे उग्रवादी हैं। तो छोड़ दें हिंदू धर्म। ममता जी की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है।'

ममता का बयान
इससे पहले ममता बनर्जी ने कहा था, 'वे गाय को गोमाता बुलाते हैं लेकिन इसी नाम के साथ लिंचिंग की घटनाएं कर रहे हैं और हिंदू तालिबान बना रहे हैं, ऐसा कुछ कट्टरपंथी धार्मिक संगठनों और उनकी नफरत फैलाने वाली कैंपेनिंग के चलते हुआ है।' उन्होंने कहा, 'उन्होंने कानून अपने हाथ में ले लिया है और लोगों की हत्याएं कर रहे हैं।'

Read more...

पालनपुर-आबूरोड रेलखंड पर मालगाडी के चार डिब्बे पटरी से उतरे, रेल यातायात प्रभावित

जयपुर, 25 जुलाई (भाषा) अजमेर मण्डल के पालनपुर-आबूरोड रेलखण्ड पर कल रात अहमदाबाद जा रही एक मालगाड़ी के चार डिब्बे पटरी से उतर गए जिससे कुछ सवारी गाडियों के मार्ग को बदला गया है।
उत्तर-पश्चिम रेलवे के वरिष्ठ जनसम्पर्क अधिकारी ने बताया कि कल रात सवा नौ बजे अजमेर मण्डल के पालनपुर-आबूरोड रेलखंड पर मावल के पास मालगाडी के चार डिब्बे पटरी से उतर गए। हालांकि इसमें कोई हताहत नहीं हुआ है।
उन्होंने बताया कि मालगाडी के डिब्बों को पुन: रेलपथ पर चढा दिया गया है। रेलपथ की मरम्मत का कार्य पूरा किया जा चुका है। संरक्षा को ध्यान में रखते हुए ट्रेक का ट्रॉयल जारी है और शीघ्र ही उसे रेल यातायात के लिए खोल दिया जाएगा।
उन्होंने बताया कि गाड़ी संख्या 19055, वलसाड-जोधपुर रेलसेवा को आज परिवर्तित मार्ग वाया पालनपुर-भीलड़ी-समदड़ी-लूणी संचालित की जा रही है। गाड़ी संख्या 54805, अहमदाबाद-जयपुर सवारी गाड़ी को पालनपुर तक ही संचालित की गई है एवं इसे पालनपुर से मारवाड़ तक आंशिक रूप से रद्द किया गया है।
उन्होंने बताया कि गाड़ी संख्या 54806, जयपुर-अहमदाबाद सवारी गाड़ी को मारवाड़ तक ही संचालित की जाएगी और यह गाड़ी मारवाड़ से अहमदाबाद के मध्य आंशिक रूप से रद्द रहेगी।

Read more...
Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News