Menu

top banner

जयपुर में दो दिवसीय रक्षा पेंशन अदालत कल से

जयपुर,18 सितंबर (भाषा) दक्षिण पश्चिमी कमान राजस्थान राज्य और आस-पास के रक्षा पेंशनर्स की पेंशन संबंधी शिकायतों के निवारण के लिए कल से जयपुर में दो दिवसीय पेंशन अदालत आयोजित होगी। रक्षा प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल मनीष ओझा ने आज बताया कि ‘सप्त शक्ति ऑडिटोरियम’ जयपुर में लगने वाली पेंशन अदालत में पेंशनर्स संबंधित समस्याओं के निवारण के लिए समर्थित दस्तावेज साथ लेकर आये।

Read more...

भागवत ने भी गौरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा पर नाखुशी जाहिर की

जयपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बाद अब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संघचालक डॉ. मोहन भागवत ने भी गौरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा पर नाखुशी जाहिर की है। जयपुर प्रवास पर आए भागवत ने रविवार शाम यहां चल रहे अभ्यास वर्ग में कहा है कि जो लोग गाय के प्रति आस्था रखते हैं, वे गाय का पालन करते हैं। उनकी बहुत गहरी आस्था को चोट लगने के बावजूद वे हिंसा का मार्ग नहीं अपनाते हैं। जयपुर के केशव विद्यापीठ में चल रहे संघ के खण्ड कार्यवाह अभ्यास वर्ग में एक स्वयंसेवक ने इस बारे में सवाल पूछा था।

Read more...

नाबालिग ने पड़ौसन पर चाकू से किया हमला, ब्लू व्हेल गेम का संदेह

जयपुर। राजस्थान के जोधपुर में एक नाबालिग ने पड़ौस में रहने वाली एक महिला पर चाकू से हमला कर दिया और उसे गंभीर रूप से हमला कर दिया। यह मामला ब्लू व्हेल गेम से जुड़ा बताया जा रहा है।

मिली जानकारी के अनुसार, जोधपुर के प्रतापनगर थाना इलाके में एक महिला पर पड़ोस में रहने वाले एक नाबालिग ने हमला कर दिया। नाबालिग ने महिला की पीठ और गर्दन पर करीब आधा दर्जन वार कर किए। हमले के दौरान यह महिला चिल्लाई तो नाबालिग वहां से भाग गया।

यह मामला प्रथम दृष्टया ब्लू व्हेल गेम से जुड़ा हुआ बताया जा रहा है। महिला के पति रामेश्वर का कहना है कि आरोपी लड़का ब्लू व्हेल गेम खेल रहा था। लड़के को उसकी पत्नी सीता की हत्या का टास्क मिला था। लड़का भी उसके पड़ोस में रहता है। इस टास्क को पूरा करने के लिए इस लड़के ने इस महिला पर हमला किया। हालांकि पुलिस ने अभी इस मामले में पुष्टि नहीं की। पुलिस का कहना है कि इस मामले में लड़के से पूछताछ की जा रही है।

गौरतलब है कि जोधपुर में ब्लू व्हेल गेम खेलते हुए इससे पहले एक किशोरी जान देने की दो बार कोशिश कर चुकी है।

Read more...

डेढ़ माह की बेटी को घर में बंद कर पीहर चली गई मां, भूख-प्यास से मौत

जयपुर। राजस्थान के बांसवाड़ा में एक पति-पत्नी के आपसी झगड़े में उनकी ही डेढ़ माह की मासूम बच्ची की जान चली गई। झगड़े से नाराज मां बेटी को घर में बंद कर पीहर चली गई तो पिता ने भी उसकी सुध नहीं ली। बंद कमरे में मासूम ने भूख-प्यास से दम तोड़ दिया। शव भी करीब आठ दिन पुराना हो गया और उसमे कीड़े पड़ गए।

पुलिस के अनुसार लालपुरा निवासी विमला ने 29 जुलाई को अपने पीहर सामरिया गांव में इस बच्ची को जन्म दिया था। कुछ समय बाद वह अपने पति कैलाश के घर आ गई। कुछ दिनों पहले पति-पत्नी में झगड़ा हुआ तो दोनों नवजात को घर में ही छोड़कर चले गए। पड़ौसियों के अनुसार पिछले तीन-चार दिनों से बंद घर से दुर्गंध आ रही थी, लेकिन चूहे के मरने की दुर्गध समझकर ध्यान नहीं दिया।

बताया गया कि नवजात की मां विमला करीब आठ दिन पहले अपने पीहर चली गई थी। इसी बीच रविवार को प्रस्तावित चिकित्सा शिविर और टीकाकरण की जानकारी देने शुक्रवार को वार्ड 17 की आशा सहयोगिनी नवप्रसूता विमला के घर पहुंची। घर बंद था। पड़ौस में पूछने पर बताया कि पिछले कई दिनों से घर बंद है, लेकिन उसमें से दुर्गंध आ रही है। इस पर आशा सहयोगिनी व मौके पर मौजूद एक व्यक्ति ने घर खोला तो बिस्तर के बीच में नवजात कन्या का शव पड़ा था।

पुलिस ने कन्या के परिजनों को बुलवाया और पोस्टमार्टम के बाद शव उन्हें सौंपा। मामले की जांच की जा रही है।

Read more...

राजस्थान में 22 राज्यों के 732 युवाओं ने बनाया विश्व रिकॉर्ड

जयपुर। राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान में आयुर्वेद से जुड़े 22 राज्यों के 732 छात्रों ने आठ मिनट तक नाक से अनोखी क्रिया कर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज करा लिया है।

केंद्रीय आयुष मंत्रालय एवं नेशनल आयुर्वेद स्टूडेंट एंड यूथ एसोसिएशन की ओर से आयोजित तीन दिवसीय युवा महोत्सव के दूसरे दिन शुक्रवार को 800 छात्र-छात्राओं ने आठ मिनट तक एक साथ नस्यकर्म क्रिया की। पंचकर्म से इलाज की इस विधि से नाक में दो बूंद तेल या घी डालकर सर्दी, जुकाम, अस्थमा जैसी बीमारियों का इलाज किया जाता है।

तीन दिवसीय कार्यक्रम में 22 राज्यों के 26 हजार छात्र-छात्राएं भाग ले रहे हैं। राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान के निदेशक डॉ. संजीव शर्मा ने बताया कि गिनीज बुक की टीम के सदस्यों ने ड्रोन से रिकॉडिग की। नस्यकर्म क्रिया को देखा गया।

शुक्रवार को एनएबीएच की निदेशक डॉ.गायत्री राठौड़ ने राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान को एनएबीएच प्रमाणपत्र भी जारी किया। यह देश का पहला संस्थान है जिसे एनएबीएच प्रमाणपत्र मिला है।

Read more...

प्रदेश के 16 लाख वाहन होंगे बंद

डीएनआर ब्यूरो. जयपुर, अगर आपका वाहन 15 साल से ज्यादा पुराना है। अगर आपने अपने वाहन का पंजीयन रिन्यू नहीं कराया है तो तुरंत आरटीओ कार्यालय जाईए, क्योंकि यदि आप अब चूक गए तो अपना वाहन सड़क पर नहीं चला पाएंगे। परिवहन विभाग इतिहास में पहली बार राजस्थान में 16 लाख से ज्यादा वाहनों का पंजीयन निरस्त करने जा रहा है। यह निर्णय अपने आप में बहुत बड़ा माना जा रहा है। हालांकि परिवहन विभाग ने इसकी कवायद पिछले साल ही शुरू कर दी थी, लेकिन अभी तक प्रदेश के ज्यादातर लोगों को इसकी जानकारी ही नहीं हैं। 31 मार्च 2001 तक पंजीकृत वाहन यानी ऐसे वाहन जो 31 मार्च 2001 से पहले खरीदे गए हैं, उन्हें दौड़ से बाहर किया जा रहा है। परिवहन विभाग यह कवायद प्रदेश में प्रदूषण का स्तर कम करने के लिए कर रहा है। 

कुछ इस प्रकार है नियम
परिवहन विभाग का नियम है कि 15 साल पुराना होने पर वाहन का पंजीयन दुबारा रिन्यू कराना होता है। कार या मोटरसाइकिल जैसे नॉन ट्रांसपोर्ट वाहनों के लिए यह पंजीयन 5 साल के लिए रिन्यू होता है, जबकि बस या ट्रक जैसे भारी वाहनों के लिए 15 साल तक के लिए पंजीयन रिन्यू कराया जाता है। परिवहन विभाग उन्हीं वाहनों का पंजीयन निरस्त करेगा, जिन वाहन चालकों ने अपने वाहन का पंजीयन रिन्यू नहीं करवाया है।

पंजीयन के लिए समय
बड़ी बात यह है कि इस घटनाक्रम के बारे में आम प्रदेशवासियों को खबर ही नहीं है। क्योंकि परिवहन विभाग का कहना है कि घर-घर नोटिस जारी करना उनके लिए संभव नहीं है, ऐसे में एक आम सूचना अखबारों में प्रसारित की जा रही है। जिसमें उन सीरीज के बारे में प्रकाशित किया गया है, जिनके वाहन 15 साल से ज्यादा पुराने हो चुके हैं। अब जिन 16 लाख वाहनों के पंजीयन निलंबित किए जा रहे हैं, उन्हें 6 माह का समय दिया गया है। यदि ये वाहन चालक निलंबन के बाद 6 माह में अपने वाहन का पंजीयन रिन्यू नहीं करवाते हैं तो उनके वाहनों को डि-रजिस्टर कर दिया जाएगा। यानी उनके वाहनों की आरसी निरस्त कर दी जाएगी।

Read more...

युवक का हुआ पोस्टमार्टम

डेस्क नेशननल राजस्थान, जयपुर में तीन दिन पहले हुए उपद्रव में मारे गए युवक के शव का पोस्टमार्टम आखिर सोमवार सुबह छह बजे हो गया। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है और पुलिस ने परिजनों ने अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए 200 लोगों को ले जाने की छूट दी है। जयपुर में शुक्रवार रात हुए उपद्रव में एक युवक आदिल की मौत हो गई थी। दो दिन से इसका पोसटमार्टम अटका हुआ था, क्योंकि परिजनों ने कुछ मांगे सरकार के समक्ष रख दी थी। बीती रात ढ़ाई बजे दोनों पक्षों के बीच सहमति बनी और सरकार की ओर से इन्हें आश्वासन दिया गया कि उनकी मांगों को सरकर पूरा करेगी और अधिक से अधिक मुआवजा दिलाया जाएगा। इसके बाद जाकर परिजन पोस्टमार्टम के लिए राजी हुए। सोमवार सुबह छह बजे सवाई मानसिंह अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम किया गया और शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया। गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया का कहना है कि एक बार अंतिम सस्कार हो जाए, उसके बाद स्थिति देख कर कर्फ्यू हटाने के बारे में विचार किया जाएगा। इंटरनेट सेवा पर रोक को जयपुर के 64 में से 14 थाना क्षेत्रों तक सीमित कर दिया गया है। अन्य जगह इंटरनेट सेवा बहाल कर दी गई है।

Read more...

किसानों के समर्थन में बंद रहे सीकर जिले के बाजार


सीकर (राजस्थान), सात सितंबर (भाषा) स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू करवाने और किसानों के कर्जे मार्2398ी करवाने की मांग को लेकर चल रहे आन्दोलन के समर्थन में सीकर समेत कई कस्बों के बाजार आज बंद रहे। बंद का आह्वान अखिल भारतीय किसान सभा ने किया है।

Half page 01


अखिल भारतीय किसान सभा के आह्वान पर चल रहे आंदोलन के समर्थन में सीकर के अलावा लक्ष्मणगढ़, रानोली, पलसाना, रींगस, नीमकाथाना, खंडेला सहित सभी प्रमुख कस्बो में व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे। इस दौरान आवश्यक सेवाओं को बंद से अलग रखा गया। व्यापार महासंघ, जिला बार एसोसिएशन, सहित दर्जन भर से ज्यादा संगठनों ने बंद को समर्थन दिया है।
अखिल भारतीय किसान सभा के नेता पूर्व विधायक अमरा राम ने जिला प्रशासन को बातचीत के लिए शाम तक का समय दिया है इसके उपरान्त सभा पदाधिकारी बैठक कर आन्दोलन के अगले चरण पर विचार विमर्श कर ऐलान करेंगे।
इधर जिला प्रशासन ने बंद को देखते हुए सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए हैं। एहतियात के तौर पर सीकर और बंद प्रभावित कस्बों में अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात किया गया है।

Read more...

नरेन्द्र मोदी और वसुंधरा राजे के बीच नजर आई दूरियां


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के आपसी रिश्तों की दूरियां इस दौरे में भी दिखी। वसुंधरा राजे ने तो अपनी तरफ से मोदी की जम कर तारीफ की और पूरा स्वागत भी किया, लेकिन पीएम मोदी की तरफ से ज्यादा जुड़ाव नजर नहीं आया। एयरपोर्ट पर स्वागत के दौरान पीएम ने राज्यपाल कल्याण सिंह से तो कुछ देर बात की, लेकिन वसुंधरा राजे के अभिवादन का ढंग से जवाब दिए बगैर आगे बढ़ गए। मंच पर हालांकि राजे मोदी के साथ वाली कुर्सी पर ही थी, लेकिन दोनों के बीच बहुत ज्यादा बातचीत नहीं हुई। भाषण में भी उन्होंने एक बार भी राजस्थान सरकार के कामकाज का उल्लेख या तारीफ नहीं की। इतना ही नहीं इस कार्यक्रम में पहले केंद्र सरकार की सड़क परियोजनाओं के साथ ही राजस्थान सरकार की सड़क परियोजनाओं के लोकर्पाण व शिलान्यास को भी शामिल किया जाना था, लेकिन अंतिम समय पर इसे हटवा दिया गया। इस कार्यक्रम को सिर्फ केन्द्र सरकार की सड़क परियोजनाओं तक ही सीमित कर दिया गया। राज्य सरकार की परियेाजनाएं करीब 12 हजार करोड की रूपए की थी।

Read more...

13-14 जनवरी को होगा कैमल फेस्टिवल

अंर्तराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त ऊंट उत्सव इस बार मकर सक्रांति को होगा। पर्यटन विभाग की ओर से जारी कैलेंडर के मुताबिक 13 और 14 जनवरी को आयोजित होने वाले कैमल फैस्टिवल को लेकर तैयारियां हालांकि शुरू नहीं हुई है। लेकिन इसकी तिथि निर्धारित कर दी गई है। कैमल फेस्टिवल को लेकर हालांकि तैयारियों को लेकर पर्यटन विभाग लाख दावे करता है लेकिन ऐनवक्त पर आयोजन में दिखती अव्यवस्थाएं विभाग की छीछलेदार करवाने में कोई अक्सर नहीं छोड़ती। 
Read more...
Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News