Menu

पहली बार अपने भाई से मिला नन्हा शावक

जोधपुर। माचिया सफारी पार्क दो भाइयों के मिलन का साक्षी बना। ये भाई है शावक कैलाश और शावक रियाज। डेढ़ साल के कैलाश और आठ माह के रियाज को पहली बार एक-दूसरे के साथ खुला छोड़ा गया। शुरुआत में एहतियात के तौर पर इनके केयर टेकर डॉ। श्रवणसिंह राठौड़ इनके साथ थोड़ी देर पिंजरे में साथ रहे। दोनों के बीच अपनापन देख फिर वे वहां से हट गए।
जोधपुर के माचिया सफारी पार्क में जन्मे डेढ़ साल के कैलाश और आठ माह के रियाज की एक जैसी कहानी है। दोनों को जन्म देने के तुरंत बाद उनकी मां ने त्याग दिया। शेरनी ने एक बार भी दोनों को अपना दूध तक नहीं पिलाया। ऐसे में डॉ। राठौड़ ने रात-दिन एक कर दोनों को अमेरिका से आयातित दूध बोतल से पिला कर अलग-अलग रख बड़ा किया। दोनों के बड़ा होने के बाद कई दिन से डॉ। राठौड़ दोनों को एक साथ एक ही पिंजरे में रखने की योजना बना रहा था। इसके लिए कुछ दिन दोनों को अगल-बगल के दो पिंजरों में रखा गया। इस पिंजरे से दोनों एक-दूसरे को निहारते रहे।
एक सप्ताह तक निहारने के बाद दोनों में दोस्ती हो गई। इसके बाद डॉ। राठौड़ रियाज को लेकर कैलाश के पिंजरे में पहुंचे। थोड़ी देर तक दोनों एक-दूसरे को देखते रहे। फिर आमने-सामने बैठ खेलने लग गए। दोनों ने आपस में जमकर मस्ती की। दोनों को खेलता देख निश्चित होकर डॉ। राठौड़ पिंजरे से बाहर निकल आए। उगेखनीय है कि शावक कैलाश और रियाज डॉ। राठौड़ को ही अपनी मां मानते है। ऐसे में वे उनके साथ बहुत सहज रहते है। दोनों शावकों के पिंजरे को बुधवार से दर्शकों के लिए खोला गया। इन्हें देखने बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे है।

Read more...

वसुंधरा राजे का चुनावी बजट, खोला घोषणाओं का पिटारा

जयपुर। राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने सोमवार को वर्तमान सरकार का पांचवा और अंतिम बजट पेश किया। बजट में करीब 9 माह बाद होने वाले राज्य विधानसभा चुनाव की छाया साफ तौर पर नजर आई। सबसे बड़े वोट बैंक किसानों को साधने का पूरा प्रयास किया गया। बजट के माध्यम से वसुंधरा राजे ने किसान,युवा और सरकारी कर्मचारियों के वोट बैंक पर पूरा फोकस किया इन तीनों वर्गों को लुभाने के लिए वसुंधरा राजे ने कई बड़ी घोषणाएं की। इसके साथ ही हाल ही में सम्पन्न दो लोकसभा और एक विधानसभा उप चुनाव में पार्टी के परम्परागत वोट बैंक सवर्ण जातियों को हाथ से जाते देख,वसुंधरा राजे ने आर्थिक रूप से पिछड़े सामान्य वर्ग को एक बार फिर अपने साथ जोडऩे का प्रयास किया। वसुंधरा राजे ने किसानों का 50 हजार रूपए तक का कर्ज माफ करने की घोषणा की । लघु एवं सीमांत किसानों के लिए की गई इस घोषणा से राज्य सरकार पर 8 हजार करोड़ रूपए का वित्तीय भार पड़ेगा । इसके तहत 30 सितम्बर,2017 के 50 हजार रूपए तक के कर्ज एक बार में माफ होंगे और फिर भविष्य में यह प्रक्रिया निरंतर जारी रहेगी। राजस्थान राज्य कृषक श्रृण राहत आयोग का गठन कर कर्ज माफी की प्रक्रिया को जारी रखने की भी मुख्यमंत्री ने घोषणा की। भविष्य में किसानों को आयोग में कर्ज माफी के लिए आवेदन करना होगा। किसानों को एक बड़ी राहत देते हुए राजफैड के माध्यम से समर्थन मूल्य पर सरसों और चने की फसल को समर्थन मूल्य पर खरीदने की भी घोषणा की गई। इसके लिए 500 करोड़ रूपए का ब्याज मुफ्त कर्ज दिया जाएगा। किसानों को खेत में पानी के छोटे तालाब बनाने के लिए लागत पर 50 प्रतिशत अनुदान के साथ ही नहरी क्षेत्र में डिग्गी निर्माण पर अधिकत 3 लाख रूपए तक का अनुदान देने की भी घोषणा की गई है। इसके लिए 90 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। किसानों को जनवरी,2012 तक के लंबित 2 लाख विधुत कृषि कनेक्शन देने की भी घोषणा की गई है। किसानों के बाद सबसे अधिक राहत युवा वर्ग को देते हुए विभिन्न विभागोंमें 1 लाख,8 हजार पदों पर भर्ती करने की घोषणा की गई है । इसमें शिक्षा विभाग में तृतीय श्रेणी से लेकर लेक्चरार तक के 77 हजार 100 पदों,प्रशासनिक सुधार विभाग में 11,930,चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में 6571,वन विभाग में 500 फोरेस्टर और 2 हजार फोरेस्ट गार्ड के पदों पर भर्ती शामिल होगी । राज्य के दो बड़े वोट बैंक किसान और युवाओं को कर्ज माफी और नौकरियों से साधने की कोशिश के बाद एक बड़े वोट बैंक सरकारी कर्मचारियों को भी लुभाने का प्रयास किया गया है । मुख्यमंत्री ने केन्द्र सरकार की तर्ज पर राजस्थान में भी महिला कर्मचारियों को अधिकतम 2 वर्ष की बच्चों की देखभाल के लिए अवकाश देने की घोषणा की है। इसके साथ ही 1 अप्रेल,2018 से सातवें वेतन आयोग के एरियर की राशि के भुगतान की घोषणा भी की गई। आर्थिक रूप से पिछड़े सवर्णों को लोन- हाल ही में सम्पन्न दो लोकसभा और एक विधानसभा चुनाव में भाजपा के परम्परागत वोट बैंक सवर्ण जातियों को दूर होते देख मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने आर्थिक रूप से पिछड़ी सवर्ण वर्ग के युवाओं के लिए "सुंदर सिंह भंडारी ईबीसी स्वरोजगार योजना" की घोषणा की । इस योजना के तहत 50 हजार परिवारों को 50 हजार रूपए तक का कर्ज 4 प्रतिशत ब्याज दर पर उपलब्ध कराया जाएगा । इसके साथ ही दलित वोट बैंक को आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा के साथ जोडऩे के लिए अजजा,जजा वित्त एवं विकास सहकारी निगम के 2 लाख रूपए तक के बकाया कर्ज एवं ब्याज माफ करने की भी घोषणा बजट में की गई है । इससे राज्य सरकार पर 114 करोड़ का भार पड़ेगा । छोटे कामगारों को 2 लाख रूपए तक का ब्याज मुक्त कर्ज और " पूर्व मुख्यमंत्री भैरोंसिंह शेखावत अंत्योदय स्वरोजगार योजना " के तहत 50 हजार परिवारों को 50 हजार रूपए तक के कर्ज 4 प्रतिशत की ब्याज दर पर उपलब्ध कराए जाने की भी बजट में घोषणा की गई। राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अपने वर्तमान कार्यकाल के अंतिम बजट में रियल स्टेट और शहरी मतदाओं को भी राहत देने की कोशिश की। जीएसटी और नोटबंदी के बाद रियल स्टेट सेक्टर में आई भारी मंदी को संजीवनी देने का प्रयास वसुंधरा राजे ने बजट में किया है। सबसे बड़ी राहत डीएलसी दरों में 10 फीसदीकी कटौती करने की घोषणा है। इससे मकान और जमीन खरीदना सस्ता होगा। इस कटौती के बाद रजिस्ट्री भी सस्ती होगी। दरअसल,रजिस्ट्री का आधार डीएलसी है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री जन आवास योजना में ईडब्लूएस और एलआईजी श्रेणी लोगों के पक्ष में आवंटित आवासीय यूनिटों के दस्तावेजों पर स्टाम्प ड्यूटी 2 और 3:5 प्रतिशत से घटाकर 1 और 2 प्रतिशत की गई है। मुख्यमंत्री ने मिक्स लैंड यूज के पट्टों की भूमि का मूल्यांकन वाणिज्यक भूमि की मूल्यांकन दर से 75 फीसदी के स्थान पर 50 फीसदी की दर से करने और रियल स्टेट मंदी को देखते हुए 3000 वर्ग मीटर से अधिक क्षेत्रफल के आवासीय एवं व्यावसायिक भूखंडों के मूल्यांकन पर 5 प्रतिशत अतिरिक्त रियायत देने की घोषणा की है। आईटी सेक्टर,मनोजरंजन एवं पर्यटन इकाईयों के लिए बहुमंजिला व्यवसायिक भवनों में स्पेस या फ्लोर खरीद पर देय स्टाफ ड्यूटी में 50 प्रतिशत की छूट देने की घोषणा भी बजट में की गई है। मुख्यमंत्री ने कृषि भूमि पर लगने वाले भू-राजस्व को माफ करने की भी घोषणा की है । इसका फायदा प्रदेश के 50 लाख किसानों को होगा। गायों को लेकर समय-समय पर होने वाली राजनीति के बीच मुख्यमंत्री ने बजट में राज्य के प्रत्येक जिले में एक नंदी गौशाला को गौ संरक्षण के लिए 50 लाख रूपए का अनुदान देने की घोषणा की। इसके साथ ही गौशालाओं को चारा पशु आहार के लिए सहायता 3 माह से बढ़ाकर 6 माह करने,पंजीकृत गौशालाओं में आधारभूत संरचना के विकास हेतु संरक्षण निधि से 50 करोड़ और ऊंटनी के दूध का प्रसंस्करण एवं विपणन करने के लिए 5 करोड़ की लागत से जयपुर में मिनी प्लांट लगाने की भी घोषणा की गई।
कमलेश नागरकोटी को 25 लाख का ईनाम
मुख्यमंत्री ने बजट में अंडर-19 विश्वकप में अपनी तेज और धारदार गेंदबाजी की बदौलत देश को वर्ल्ड कप दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले कमलेश नागरकोटी को 25 लाख रूपए का ईनाम देने की घोषणा की। कमलेश नागरकोटी राजस्थान में बाड़मेर जिले के निवासी है।

Read more...

किसानों को फ्री में मिलेगा बीज, लोन माफी, जानें किसको क्या मिला

राजस्थान सरकार का 5वां बजट पेश किया। सीएम ने कई बड़ी घोषणाएं कीं। राजस्थान में किसानों पर 30 सितंबर तक के 50 हजार तक के लोन और ओवर ड्यू पर ब्याज माफ होगा। 400 ्यङ्क के एक सब स्टेशन का लोकार्पण होगा। 7,00,000 नए बिजली कनेक्शन दिए जाएंगे। किसानों के हितों में 2 लाख कृषि कनेक्शन दिए जाएंगे। कई जगह वन उपज मंडियां भी खोली जाएंगी। बता दें कि राजस्थान में इसी साल विधानसभा चुनाव भी होने हैं।

सीएम ने कहा कि राजस्थान में 5 हजार 518 स्वास्थ्य कर्मियों की भर्ती होगी। बीकानेर में मेडिकल कॉलेज में नए कैथ लैब की स्थापना होगी। अजमेर मेडिकल कॉलेज में भी नए कैथ लैब की स्थापना होगी। 27 जिला अस्पतालों में आधुनिक फायर स्टेशन बनाए जाएंगे। शाहपुरा के हॉस्पिटल को अपग्रेड किया जाएगा। 28 नए पीएसची खोले जाएंगी।
– मातृ व शिशु स्वास्थ्य ईकाईयों में 18 करोड़ की लागत से सेंट्रल ऑक्सीजन ईकाई लगाई जाएंगी। 60 करोड़ रुपए की लागत से अस्पतालों में फायर सिस्टम लगाए जाएंगे। जिला चिकित्सालयों में रुफटॉप सोलर सिस्टम लगाएं जाएंगें। अस्पतालों में बैड की संख्या बढ़ाई जाएगी।
– राजस्थान के स्कूलों में स्मार्ट क्लासरुम विकसित किए जाएंगें। वहीं आईटीआई के परीक्षा अब ऑनलाइन होंगी। कौशल प्रशिक्षण के तहत आईटीआई कॉलेजों में 22 हजार से ज्यादा सीट हो जाएंगी। मदरसों के आधुनिकीकरण के लिए 25 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। कॉलेजों में फ्री वाईफाई की सुविधा दी जाएगी।
– राजे ने कहा कि करीब दो लाख करदाताओं ने रजिस्ट्रेशन कराया है। 90 प्रतिशत वस्तुओं पर टैक्स में कमी आई है। एसजीएसटी से राज्य सरकार को फायदा हुआ है। 1911 करोड़ रुपए अक्टूबर तक जीएसएटी कॉम्पनसेशन मिला। 784 करोड़ रुपए जीएसटी कॉम्पनसेशन नवंबर में मिलेगा।
– बहुमंजिला व्यवसायिक भवन की खरीद में 50 प्रतिशत की छूट दी जाएगी। सभी किसान स्थाई लगान से मुक्त होंगे। 3000 वर्ग मीटर से ज्यादा के आवासीय व रिहायशी भूखंडों पर पांच प्रतिशत की छूट दी जाएगी। 1000 करोड़ रुपए से खनिज क्षेत्रों में सड़क व नए काम कराएं जाएंगे।
– इसके अलावा इस बार राजस्थान सरकार ने अपने बजट में एसएमएस में ओलपिंक साइज स्वीमिंग पूल के लिए राशि देने की घोषणा की है। इसके असाला सीएम ने नए स्टेडियम बनाए जाने की भी घोषणा की है। वहीं सीएम ने कहा कि रतनगढ़ (चूरू) में स्टेडियम बनाया जाएगा।
– मुख्यमंत्री ने कहा कि खेल प्रतिभाओं को प्रोत्साहन के लिए 'यूथ आइकन स्कीमÓ लागू की जाएगी। सीएम ने पूर्व उपराष्ट्रपति भैंरोसिंह शेखावत क नाम पर अंत्योदय योजना की घोषणा की। इस योजना के तहत 50 हजार अंत्योदय परिवारों को स्वरोजगार के लिए 50 हजार रुपए तक लोन चार फीसदी ब्याज पर उपलब्ध कराया जाएगा।
– सात लाख नए बिजली कनेक्शन जारी किए जाएंगे। जगतपुरा शूटिंग रेंज के विकास के लिए 5 करोड़ की राशि स्वीकृत की गई है। नीम का थाना में नया स्टेडियम बनाया जाएगा। शिक्षा विभाग में 77000 पदों पर भर्तियां की जाएंगी। क्रक्कस्ष्ट के परीक्षार्थियों को रोडवेज़ में मुफ्त यात्रा का प्रावधान किया गया है। अलवर में नया कृषि विश्वविद्यालय खोला जाएगा। राजकीय ढ्ढञ्जढ्ढ को डिजिटल इंडिया योजना से जोड़ा जाएगा।
– बजट में सस्ते मकानों के लिए डीएलसी दरों में भी कटौती की है। सीएम वसुंधरा राजे ने कहा कि मौजूदा डीएलसी में 10 फीसदी की कमी की जाएगी। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने राजस्थान में व्यापारी कल्याण बोर्ड की स्थापना करने की घोषणा की। इस कोष के लिए 10 करोड़ रुपए का प्रावधान रखा गया है।
– कोटा के पत्थरों से जीएसटी कम किया जाएगा। बजट में 650 करोड़ रुपए का टैक्स लाभ देने की घोषणा की गई है। इस बजट में कोई नया टैक्स नहीं लाया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बजरी खनन के छोटे पट्टे जारी किए जाएंगे। इससे बजरी की कमी की समस्या दूर हो सकेगी।
– मंदिर माफी से जुड़े मामलों के लिए उच्चस्तरीय कमेटी बनाई जाएगी। आमेर फोर्ट को आइकोनिक टूरिज्म में शामिल किया। इसके लिए 20 करोड़ रुपए देने की घोषणा की। 19 स्मारकों के संरक्षण के लिए 35 करोड रुपए खर्च होंगे। पुलिस की गाडिय़ों का बेड़ा अच्छा करने के लिए 210 नई गाडिय़ां खरीदी जाएंगी।
– नगर पालिकाओं को सड़कों के लिए दो हजार करोड़ रुपए की घोषणा की गई है। हर निकाय में अंबेडकर भवन बनाए जाएंगे। 1,061 कांस्टेबल की भर्ती होगी। हर जिला मुख्यालय पर शहीद स्मारक बनाया जाएगा। शहीद सैनिकों के आश्रितों के लिए 25 लाख 80 हजार रुपए दिए जाएंगे। पुलिसकर्मियों का मैस भत्ता बढाया। नई तहसील खोली जाएंगी। दो हजार पटवारियों की भर्ती होगी।
– जयपुर शहर में 40 नई इलेक्ट्रिक बसें चलाई जाएंगी। अन्नपूर्णा रसोई योजना का विस्तार होगा, सभी जिला कलेक्टर कार्यालय में अन्नपूर्णा रसोई योजना शुरू की जाएगी। नालियों-सड़कों की मरम्मत के लिए एक हजार करोड़ रुपए की घोषणा की गई है। सबके लिए आवास योजना की शुरुआत की जाएगी।
– नेशनल हाइवे पर नए टॉयलेट्स बनाए जाएंगे। भामाशाह कार्डधारकों के लिए एक लाख तक का बीमा फ्री दिया जाएगा। 2 लाख बैरल क्रूड ऑयल खनन की तैयारी की जा रही है। इसमें कुल 12,500 करोड़ रुपए का निवेश किया जा रहा है। इससे राजस्थान का राजस्व बढ़ेगा।
– राजस्थान कृषक ऋण राहत आयोग का गठन किया जाएगा। ऊंटनी दूध प्रसंकरण का जयपुर में एक प्लांट लगाया जाएगा। महिला मानदेय कर्मियों का मानदेय बढ़ाया जाएगा। महिलाओ के लिए मेंस्ट्रुअल हाइजीन योजना का शुभारंभ होगा। अन्नपूर्णा भंडार के जरिए सेनेट्री पेड्स बांटे जाएंगे। सेनेट्री पैड्स के लिए 76 करोड़ की योजना का शुभारंभ होगा।
– मिड डे मील में दूध भी दिया जाएगा। लग्जरी टैक्स और एंटरटेनमेंट टैक्स स्त्रस्ञ्ज से दिया जाएगा। अब युवाओं को सस्ता कर्ज मिलेगा। इसके पहले कर्ज पर ब्याज सब्सिडी को 5 फीसदी से बढ़ाकर 6 फीसदी कर दिया गया है। पत्रकारों को 25 लाख रुपए तक का लोन को ब्याज मुक्त दिया जाएगा।
– मुख्यमंत्री सक्षम योजना चलाई जाएगी इससे 5 लाख बालिकाओं का फायदा होगा। 80 साल से ज्यादा उम्र के लोग रोडवेज में फ्री सफर सकेंगे। इसके अलावा उनके साथ चलने वाले को टिकट पर 50 फीसदी की छूट दी जाएगी। 13 लाख से ज्यादा युवाओं को रोजगार, स्वरोजगार का मौका मिलेगा। पांचना, टोडी सरगर नदियों को जोड़ा जाएगा।
– सीएम ने दिव्यांगों के कल्याण के लिए अलग से दिव्यांग कोष की स्थापना करने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि इस कोष के लिए एक करोड़ रुपए का प्रावधान किया जाएगा। जैसलेमर और बाड़मेर को गुजरात के प्रमुख बंदरगाहों से जोडऩे के लिए नई रेल लाइन बिछाई जाएगी।
– सुंदर सिंह भंडारी स्वरोजगार योजना की घोषणा जिसमें 50 हजार रुपए का ऋण दिया जाएगा। राजस्थान में अंबेडकर भवन बनाए जाएंगें। महिला कर्मचारियों को दो साल की चाइल्ड केयर लीव मिलेगी। एरियर की राशि का भुगतान शुरू किया जाएगा।
– पिछड़ा वर्ग के लोगों के लिए स्वरोजगाार के दिए ऋण माफ किए गए। एससी व एसटी के परिवारों के लिए भैंरोसिंह शेखावत के नाम से योजना की शुरुआत की जाएगी। पांच जिलों में जनजातीय, गैर जनजातीय किसानों को मक्का के फ्री बीज दिए जाएंगें। नए मां—बाड़ी केन्द्र खोले जाएंगें जिससे 30 हजार बच्चों को फायदा होगा। दस नए आवासीय स्कूल बनाए जाएंगें।
– पेमाइनस पेंशन के आधार पर रिटायर्ड व्याख्याता रखे जाएंगे। राज्य के हर जिले में एक नंदी गौशाला के लिए 50 लाख का अनुदान दिना जाएगा। ऊटों के संरक्षण के लिए जयपुर में मिनी प्लांट बनाया जाएगा। एक हजार नर्सिंग ट्रेनिंग टीचर की भर्ती की जाएगी।
– सीएम वसुंधरा राजे ने अंडर 19 वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम के सदस्य जयपुर के क्रिकेटर कमलेश नागरकोटी को 25 लाख रुपए देने की घोषणा की है। इसके अलावा सीएम ने कहा कि एक हजार आठ सौ 32 स्कूलों को क्रमोन्नत किया जाएगा। 77,100 खाली पड़े पदों पर भर्ती की जाएगी। राज्य के 18 उपखंडों पर नए राजकीय कॉलेज खोला जाएगा।
– सीएम वसुंधरा राजे ने कहा कि देश में पहली स्किल यूनिवर्सिटी की स्थापना की जाएगी। दिल्ली जाने वालों के लिए जयपुर के रामनिवास बाग में अंडरपास बनेगा। पुराने जयपुर की रौनक लौटेगी। डार्क जोन वाले जिलों को नदी परियोजना से जोड़ा जाएगा, इसमें दौसा, करौली, सवाई माधोपुर जैसे जिले शामिल हैं। अकलेरा में नाली के लिए 10 करोड़ रुपए मिले हैं। द्रव्यवती नदी का कायाकल्प होगा।
– सीएम ने कहा कि सभी विधानसभा क्षेत्रों में सड़कें बनाई जाएंगी। नाबार्ड योजना के तहत काम किए जाएंगे। नई रेल लाइन जोडऩे की योजना शुरू की जा रही है। यह पश्चिमी राजस्थान के विकास के लिए वरदान होगी। जैसलमेर और बाड़मेर को मुंद्रा पोर्ट से जोड़ा जाएगा। ड्राइविंग लाइसेंस और गाड़ी रजिस्टर कराने की प्रक्रिया को पेपरलेस किया जाएगा। 13 लाख से ज्यादा युवाओं को रोजगार, स्वरोजगार के अवसर मिलेंगे।
– बजट भाषण में सीएम वसुंधरा ने कहा है कि हमने सशक्त राजस्थान बनाने का संकल्प लिया था। इसके लिए निवेश, बेरोजगारी, कौशल विकास पर विशेष फोकस रखा है। उन्होंने बाड़मेर रिफाइनरी का जिक्र करते हुए कहा कि यह प्रॉजेक्ट राजस्थान की सूरत बदलेगा। 1 लाख रोजगार के नए अवसर मिलेंगे। नए एमओयू से 40 हजार करोड़ रुपए की बचत हुई।
– फसलों के मूल्य समर्थन खरीद के लिए 500 करोड़ का ब्याज मुक्त लोन दिया जाएगा। 350 करोड़ रुपए की लागत से नए भंडार बनाए जाएंगें। कुंआ व नलकूपों के लिए जल हौज निर्माण के लिए 90 हजार का अनुदान मिलेगा।
– ग्रीन हाउस निर्माण के लिए विशेष दर्जे के किसानों को आगामी वर्ष में दस लाख का अनुदान मिलेगा। कृषि सबंधी कार्यों में गौवंश को बढ़ाने के लिए प्रत्येक जिले में नंदी गोशाला बनेगी। किसानों को चारे की सहायता छह माह मिलेगी। गोशाला में बायो गैस प्लांट के लिए मिलेगा अधिक अनुदान।

Read more...

13000 कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखाएगा रेलवे, जानें क्या है वजह

नई दिल्ली, तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। दरअसल रेलवे में वैसे ही स्टाफ की भारी कमी है, ऊपर से जो कर्मचारी हैं, उनमें भी तमाम ड्यूटी नहीं करते। रेलमंत्री पीयूष गोयल को ऐसी तमाम शिकायतें मिल रहीं थीं। ज्यादातर कर्मचारी बगैर सक्षम स्तर से अनुमति लिए नौकरी से गैरहाजिर चल रहे थे। कुछ कर्मचारी तो अपने रसूख के दम पर ड्यूटी नहीं करते थे, मगर सेलरी भी ले रहे थे। जब पीयूष गोयल ने रेल मंत्री का चार्ज संभाला तो उन्होंने सबसे पहले मानव संसाधऩ को दुरुस्त कर सौ प्रतिशत इसके उपयोग पर जोर दिया। जिसके क्रम में उन्होंने सभी जोन को निर्देश दिया कि वे अभियान चलाकर नकारा कर्मचारियों को चिह्नित कर लिस्ट तैयार करें। फिर उनके खिलाफ चार्जशीट तैयार कर उचित प्रक्रिया का इस्तेमाल कर नौकरी से बाहर करें। ताकि रेलवे ऐसे कर्मचारियों का बोझ उठाने से बचे।

Read more...

जानें वसुंधरा राजे सरकार ने किए क्या बड़े ऐलान

राजस्थान सरकार ने सोमवार को राज्य का बजट पेश किया। इस दौरान कई बड़ी घोषणाएं की गईं। बजट पेश करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने किसानों और बेरोजगारों के लिए बड़े कदम उठाए। राज्य सरकार ने 2 लाख किसानों से सीधा संपर्क किया। बाड़मेर रिफाइनरी की शुरुआत हुई। सीएम के मुताबिक, राज्य में 13 लाख नए रोजगार पैदा हुए और डेढ़ लाख युवाओं को सरकारी नौकरियां दी गईं। सीएम ने अंडर 19 वर्ल्ड कप में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले राज्य के युवा क्रिकेटर कमलेश नागरकोटि को 25 लाख रुपए दिए जाने की घोषणा भी की। पत्रकारों के लिए भी कई बड़ी घोषणाएं की गईं। इसके अलावा, अब शहीद सैनिकों के आश्रितों को 20 लाख की जगह 25 लाख रुपये नगद दिए जाएंगे।
बता दें कि इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव और हाल ही में आए उप चुनावों के नतीजों के मद्देनजर ये बजट राज्य सरकार के लिए बेहद अहम है। लोगों की नाराजगी दूर करने से लेकर राज्य की आर्थिक दुश्वारियों के बीच संतुलन साधना राजस्थान की वसुंधरा राजे सरकार के लिए बड़ी चुनौती है। दरअसल, उप चुनावों में मिली करारी शिकस्त के बाद बीजेपी में ही विरोध के सुर फूटने लगे हैं। पार्टी के ही नेताओं ने अध्यक्ष अमित शाह को चि_ी लिखकर राजे को पद से हटाने की मांग की थी।
-54000 थर्ड ग्रेड शिक्षकों की भर्तियां।
-9000 सेकंड ग्रेड शिक्षकों की भर्तियां।
-2000 पटवारियों की होगी भर्ती।
-खेल प्रतिभाओं के प्रोत्साहन के लिए च्यूथ आइकन स्कीमज्।
-ऊंटनी के दूध के प्रसंस्करण और वितरण के लिए जयपुर में बनेगा मिनी-प्लांट।
-स्वरोजगार योजना के तहत 50000 परिवारों को 50000 रुपये तक का कर्ज।
महिलाओं के लिए
-महिला आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं मानदेयकर्मियों का मानदेय बढ़ाया गया।
-महिला कर्मचारियों को कार्यकाल में 2 वर्ष की च्चाइल्ड केयर लीवज् दी जाएगी।
-24 आईटीआई में महिला विंग खोले जाएंगे।
-आंगनबाड़ी कार्यकर्ता का मानदेय बढ़ाया गया।
– सेनेट्री पैड का वितरण के लिए सरकार 76 करोड़ रुपए देगी।
स्वास्थ्य, किसानों, गरीबों और बुजर्गों के लिए
-राज्य में 28 नए पीएचसी खोले जाएंगे।
-80 साल से अधिक आयु वर्ग के बुर्जुगों को मुफ़्त बस यात्रा।
-कोटड़ा,सलूम्बर और गोगुन्दा में वन उपज मंडी खुलेगी।
-1000 नए अन्नपूर्णा भंडार खोले जाएंगे।
-हर जिला कलेक्टर कार्यालय में होगी अन्नपूर्णा रसोई।
-मार्च 2018 तक सभी 500 अन्नपूर्णा रसोई वैन चलने लगेंगे।
-गरीबों के आवास की रजिस्ट्री पर छूट,2 प्रतिशत के बजाए 1 प्रतिशत ड्यूटी।
-किसानों को कर्ज में सितम्बर 2017 तक ब्याज से मुक्ति, 50000 रुपए तक की कर्जमाफी।
पत्रकारों के लिए
-पत्रकारों के आवास के लिए 25 लाख तक की ब्याज मुक्त ऋण की घोषणा।
-फोटो जर्नलिस्ट एवं वीडियो जर्नलिस्ट के कैमरा बीमा की घोषणा।
-पत्रकार साहित्यकार कल्याण कोष से 1 लाख की सहायता राशि।
विकास
जयपुर में 40 इलेक्ट्रिकल बसें चलेंगी। द्रव्यवती प्रोजेक्ट के तहत स्मार्ट कॉरिडोर बनेगा। 30 किलोमीटर की लंबाई में यह कॉरिडोर बनेगा। इसमे 2द्ब-द्घद्ब और 24 घण्टे ष्ष्ह्ल1 सर्विलांस की सुविधा होगी। कॉरिडोर निर्माण पर 50 करोड़ रुपये खर्च होंगे। प्रोजेक्ट की कुल लम्बाई 47 किमी होगी।

Read more...

अब निकलेगी बंपर सरकारी नौकरियां! : राजस्थान बजट 2018

राजस्थान सरकार ने सोमवार को अपना नया बजट पेश कर दिया है। बजट में कई अहम घोषणाएं की गई हैं। वहीं रोजगार को लेकर भी कई जरूरी घोषणा की गई है। तो चलिए जानते हैं उनके बारे में। बीजेपी की वसुंधरा राजे सरकार ने अपने बजट में शिक्षा विभाग में बड़े पैमाने पर रोजगार देने की घोषणा की है। शिक्षा विभाग में 77000 पदों पर भर्ती करने की घोषणा की गई है। इनमें 54000 तृतीय श्रेणी, 9000 द्वितीय श्रेणी शिक्षक, 1500 संस्कृत शिक्षा अध्यापक समेत कुल 77000 रिक्त पदों पर भर्तियों का ऐलान किया गया है। इसके अलावा गृह विभाग में 5718, प्रशासनिक सुधार विभाग में 11923, स्वास्थ्य विभाग में 6976 पदों, 2000 पटवारी समेत कुल 108000 पदों पर भर्ती की घोषणा की है। बजट भाषण के दौरान सीएम ने बताया कि ये सभी भर्तियां दिसंबर 2018 से पहले की जाएंगी। इसके अलावा बजट में नर्सिंग टीचर्स के 1000 पदों पर भी भर्ती की घोषणा की गई है। सीएम राजे ने कहा कि राजस्थान में 5 हजार 518 स्वास्थ्य कर्मियों की भर्ती होगी। वन विकास के लिए 151 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। 500 फॉरेस्टर्स और 2000 फॉरेस्ट गार्ड्स की भी बहाली की जाएगी।

स्वास्थ्य- बीकानेर में मेडिकल कॉलेज में नई कैथ लैब की स्थापना होगी। अजमेर मेडिकल कॉलेज में भी नए कैथ लैब की स्थापना होगी। 27 जिला अस्पतालों में आधुनिक फायर स्टेशन बनाए जाएंगे। शाहपुरा के हॉस्पिटल को अपग्रेड किया जाएगा। 28 नए पीएसची खोले जाएंगी।
-बजट में सस्ते मकानों के लिए डीएलसी दरों में भी कटौती की है। सीएम वसुंधरा राजे ने कहा कि मौजूदा डीएलसी में 10 फीसदी की कमी की जाएगी।

Read more...

बड़ी बेरहमी से लगी गोली...चारों और हो गया खून ही खून

चूरू। जिला मुख्यालय पर वार्ड नंबर 38 में फायरिंग हुई है जिसमें वार्ड नंबर 2 के असलम की मौत हो गई है फायरिंग करता एक मोटरसाइकिल पर सवार होकर आए थे और उन्होंने वार्ड 38 में फायरिंग की जिसमें वार्ड 2 के असलम की मौत हो गई मोटरसाइकिल पर तीन युवक बताए जा रहे हैं सूचना मिलते ही कोतवाली पुलिस मय पुलिस जाब्ते के मौके पर पहुंची और फायरिंग में घायल हुए युवक को तुरंत राजकीय डीबी अस्पताल पहुंचाया जहां पर चिकित्सकों ने फायरिंग में घायल असलम को मृत घोषित कर दिया सूचना मिलते ही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक केसर सिंह मौके पर पहुंचे और घटनास्थल का मौका मुआयना किया इसके बाद मौके पर सदर थाने का पुलिस जाप्ता महिला थाने का पुलिस जाप्ता वार्ड 38 में तैनात कर दिया गया अस्पताल में भी भारी पुलिस जाप्ता तैनात है पुलिस फायरिंग करने वालों की तलाश के लिए जगह-जगह दबिश दे रही है नाकेबंदी भी करवाई गई है।

Read more...

बटालियन सपोर्ट वैपन प्रतियोगिता का समापन

जोधपुर। सीमा सुरक्षा बल के राजस्थान सीमांत मुख्यालय के उपमहानिरीक्षक एके शर्मा ने कहा कि जवानों के युद्ध कौशल को निखारने में विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताएं महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। वे शनिवार को किशनगढ़ फील्ड फायरिंग रेंज में चल रही बीएसएफ की 48वीं अंतर सीमान्त सपोर्ट वैपन शूटिंग प्रतियोगिता के समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि किसी भी बल में सपोर्ट वैपन की बहुत अहमियत होती है तथा इस तरह की प्रतियोगिता जवानों के युद्ध कौशल एवं निपुणता को निखारने में अहम भूमिका निभाती है। उन्होंने दोनों श्रेणी में सभी विजेता टीमों को को पुरस्कृत कर उनकी हौसला अफ जाई की और इस प्रतियोगिता का बेहतर आयोजन करवाने व सभी वाहिनियों के समादेष्टा, अधिकारियों, अधिनस्थ अधिकारियों व जवानों की भागीदारी की सराहना करते हुए उन्हे बधाई दिया। कमांडेंट पृथ्वीसिंह ने मुख्य अतिथि का स्वागत किया। इस मौके पर डीआईजी जैसलमेर (दक्षिण) नरेश कुमार, समादेष्टा क्षेत्रीय मुख्यालय जैसलमेर (उत्तर) संजय कुमार, कमांडेंट दलबीर सिंह अहलावत , रतनलाल बगडिया व तेजेन्द्रपाल सिंह सहित कई अधिकारी उपस्थित थे। प्रतियोगिता में 11 फ्रं टियरों ने हिस्सा लिया जिन्होंने अपने सपोर्ट वैपन 81 एमएम मोर्टर और मीडियम मशीनगन से टारगेट को अपने अचूक निशाने से भेदकर युद्ध कौशल का परिचय दिया।

81 एमएम मोर्टर प्रतियोगिता में प्रथम स्थान सीमान्त मुख्यालय राजस्थान, द्वितीय स्थान सीमान्त मुख्यालय गोवाहाटी, तृतीय स्थान सीमान्त मुख्यालय गुजरात व मीडियम मशीनगन प्रतियोगिता में प्रथम स्थान सीमान्त मुख्यालय त्रिपुरा, द्वितीय स्थान सीमान्त मुख्यालय गुजरात, तृतीय स्थान सीमान्त मुख्यालय जम्मू ने प्राप्त किया। पुरी प्रतियोगिता में सर्वोच्च स्थान सीमान्त मुख्यालय गुजरात ने प्राप्त किया।

Read more...

शराबी को जब पुलिस ने पकड़ा तो खुला यह चौंकाने वाला राज

बैंगलुरु। शराब पीने वाले अक्सर उसको मौजमस्ती के लिए पीने का हवाला देते हैं और तर्क देते हैं कि शराब खुशी का भी जरिया है और गम को हल्का करने के लिए भी इसका सहारा लिया जाता है, लेकिन एक शख्स के लिए शराब का सहारा लेना महंगा पड़ गया, जब उसको पुलिस ने शराब पीकर झगड़ा करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। पुलिस उसको मामूली व्यक्ति समझ रही थी, लेकिन पुलिस ने जब उससे पूछताछ की तो पता चला कि वह दुष्कर्म के आरोप में फरार चल रहा है और पुलिस पिछले एक महिने से उसकी तलाश कर रही है। पुलिस का कहना है कि आरोपी को उसने मरथहल्ला के एक बार के पास शराब पीकर झगड़ा करते हुए गिरफ्तार किया तब पूछताछ में सारे मामले का खुलासा हुआ। नागार्जुन विवाहित होने के साथ एक बच्चे का बाप भी है। उसने मेट्रमोनीयल साइट पर फर्जी प्रोफाइल बनाई और इसके जरिए अगस्त 2017 में हैदराबाद की एक महिला के संपर्क में आया, जो तलाकशुदा होने के साथ दस साल के बच्चे की मां है।

नागार्जुन ने अपने आपको सिंगल बताया और महिला से शादी का वादा किया। जब महिला अपने दोस्त के घर बैंगलुरु आई तो आरोपी ने उससे संबंध बनाए। समस्या उस वक्त शुरू हुई जब महिला ने उसके ऊपर शादी के लिए दबाव डाला। इस बात पर आरोपी नागार्जुन उसको अवॉइड करने लगा।

पीडि़त महिला को इस बात का भी पता चला की नागार्जुन पहले से ही विवाहित है। महिला ने मराथहल्ली पुलिस स्टेशन में उसके खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई। उसके बाद से ही आरोपी नागार्जुन फरारी काट रहा था और अब पुलिस के हत्थे चढ़ा है। इस मामले में आरोपी का कहना है कि महिला खुद उससे शादी न करने को लेकर 20 लाख रूपये की मांग कर ही थी और इंकार करने पर उसने शिकायत दर्ज करवाई है।

Read more...

हंगामे के बीच महिला कांग्रसी पार्षदों ने महापौर को भेंट की चूडिय़ां

73 हजार 547.17 लाख रुपए का बजट पेश

भाषा. जोधपुर
महापौर घनश्याम ओझा ने शनिवार को अपने कार्यकाल का शहर के विकास के लिए चौथा बजट नगर निगम की साधारण सभा की बैठक में पेश किया। हालांकि गत तीन पेश किए गए बजट की राशि का भी सदुपयोग और उक्त राशि को विकास पर खर्च किया जाता तो विपक्ष को बोलने का मौका नहीं मिलता लेकिन आज पेश किए गए बजट में विपक्ष के पार्षदों ने शहर के विकास की चिंता जताई वहीं आगामी चुनावी वर्ष को देखते हुए सत्ता पक्ष के पार्षदों ने भी विपक्ष की भूमिका निभाते हुए महापौर को शहर में किए जा रहे विकास कार्यों के प्रति सचेत और सजग होकर कार्य करने की सलाह दी। महापौर ने 73 हजार 547.17 लाख रुपए का बजट पेश किया। इसमें आवर्तक आय के रूप में 21015.13, अनावर्तक आय 49997.30, प्रारंभिक शेष 2535.34 लाख रुपए का लक्ष्य रखा जिसकी एवज में व्यय के रूप में 20269.88 लाख और अनावर्तक व्यय के रूप में 50267.30 का लक्ष्य रखते हुए 3010.59 लाख का लक्ष्य अंतिम शेष के रूप में रखा है। नगर निगम की बजट बैठक के शुरुआती दौर में ही कांग्रेस ने महिला पार्षदों को आगे करते हुए शहर की बिगड़ी हालत के चलते और महापौर के अधिकारियों पर नियंत्रण नहीं होने का आरोप लगाते हुए उन्हें डेस्क पर जाकर चूडिय़ां भेंट करवा दी।

महापौर को घेरा...
हंगामे के साथ ही शुरु हुई इस बैठक में मामला आगे बढ़ता और तथ्यात्मक चर्चा होती उससे पूर्व भी कई बार स्थिति हंगामाखेज रही। बैठक के दौरान पार्षदों ने अपने अपने वार्डों में रुके विकास कार्यों को त्वरित करवाने के लिए मुद्दा उठाया और शेष रही राशि और काम को स्वीकृत करवाने की मांग की। बैठक के दौरान राजसिको के अध्यक्ष और पार्षद मेघराज लोहिया, पूर्व मंत्री और पार्षद राजेन्द्र गहलोत, हरिगोपाल राठी, प्रदीप बेनिवाल ने जनहित से जुड़े मुद्दों को लेकर महापौर को विपक्षी पार्षदों की तरह घेरकर जवाब तलब किए जिसके चलते कांग्रेसी पार्षदों को अपने मुद्दे काफी सुलझते नजर आए।

Read more...
Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News