Menu

वसुंधरा सरकार ने प्रधानमंत्री से संवाद के लिए लाभार्थियों को चयानात्मक तरीके से चुना है : पायलट

जयपुर, 27 जून (भाषा) राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे नीत राज्य की भाजपा सरकार पर आज आरोप लगाया कि उसने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अगले माह की प्रस्तावित यात्रा के दौरान संवाद कराने के लिए सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों को चयनात्मक तरीके से चुना है। वहीं, भाजपा ने इन आरोपों पर पलटवार किया है। पायलट ने एक बयान में कहा कि सरकार ने आम जनता की अनदेखी कर केवल चयनात्मक दृष्टिकोण से सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों का चयन कर प्रधानमंत्री के साथ संवाद के लिए आमंत्रित किया है। उन्होंने कहा कि इससे पूर्व भी प्रधानमंत्री ने प्रदेश के सिर्फ लाभार्थी किसानों के साथ वीडियो कान्फ्रेसिंग के द्वारा संवाद स्थापित किया था, जबकि सच्चाई यह है कि सैंकड़ों किसान बदहाली के कारण आत्महत्या कर चुके हैं और लाखों किसान सरकारी सहायता से अब तक वंचित है। प्रधानमंत्री जब भी प्रदेश में आए हैं, उन्होंने प्रदेश की जनता के हित में कोई घोषणा नहीं की है। वहीं, पायलट के बयान पर पलटवार करते हुए भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी ने कहा कि पायलट का बयान उन लाभार्थियों का अपमान है, जिन्हें सरकार ने लाभान्वित किया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सात जुलाई को जयपुर की यात्रा प्रस्तावित है।

Read more...

मोदी अब कभी दोबारा चुनाव नहीं जीत सकते : गहलोत

RK for website02

जयपुर, 27 जून (भाषा) कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अशोक गहलोत ने आज कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को गर्व करना चाहिए की वो जिस कुर्सी बैठे हैं उस पर कभी पंडित जवाहरलाल नेहरू बैठा करते थे। गहलोत ने कहा कि मोदी अब कभी दोबारा चुनाव नहीं जीत सकते।
गहलोत ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में आपातकाल को लेकर भाजपा पर पलटवार करते हुए कहा कि अच्छा है मोदी जी आपातकाल को लेकर हमारी पब्लिसिटी कर रहे हैं, अच्छा होता प्रधानमंत्री उन बेहतरीन योजनाओं का भी जिक्र करते जिनकी शुरुआत इंदिरा ने की थी।
उन्होंने गौ संरक्षण एवं संवर्धन के लिए शराब पर 20 प्रतिशत उपकर लगाने के राज्य सरकार के निर्णय पर कहा कि शराब के शौकीन को शराब ही दिखती है।
उन्होंने कहा कि शराब से वसूले गए कर का इस्तेमाल गौ संरक्षण और संवर्धन के लिए करना अनुचित है और कर किसी अन्य क्षेत्र से वसूला जाना चाहिए था।
गहलोत ने आगामी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की ओर से मुख्यमंत्री प्रोजेक्ट किए जाने के मुद्दे पर कहा कि यह आलाकमान तय करता है।
उन्होंने कहा कि देश के सामने झूठ आ गया है, अब चाहे कुछ भी कर लें मोदी दुबारा चुनाव नहीं जीत सकते। गहलोत ने कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को बार-बार राजस्थान बुलाकर बेइज्जत कर रही हैं। यह राजे की फितरत रही है।
गहलोत ने केन्द्रीय मानव संसाधन एवं विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर द्वारा गांधी परिवार पर लगाए गए आरोपों पर पलटवार करते हुए कहा कि भाजपा गांधी परिवार को लेकर बेबुनियाद आरोप लगा रही है। उनको मालूम होना चाहिए गांधी परिवार तीस साल से किसी संवैधानिक पद पर नहीं है।
गहलोत ने कहा कि भाजपा झूठे वादे करके भारी बहुमत से सत्ता में आई लेकिन जनता से किए वादों को पूरा नहीं करने से जनता आने वाले चुनाव में हिसाब चुकाएगी। प्रदेश की जनता भाजपा सरकार को माफ नहीं करेगी चाहे कोई भी आकर जयपुर में बैठ जाए।
राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री गहलोत ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को सलाह दी कि वे पुरस्कार लेने में मुख्यमंत्री की कुर्सी की गरिमा का ध्यान रखें।
उन्होंने प्रदेश में किसानों द्वारा की गई आत्महत्याओं, बिगड़ी कानून व्यवस्था, रिफाइनरी, किसानों के कर्ज माफी को लेकर राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि मौजूदा सरकार के शासन में किसानों ने आत्महत्या की है। यह कलंक राजस्थान पर पहली बार लगा है। बजरी मुद्दे पर सरकार उच्चतम न्यायालय में अपना पक्ष ठीक ढंग से रख पाने में विफल रही जिसके कारण पचास लाख मजदूर परिवारों पर संकट खड़ा हो गया है। सरकार और खनन माफिया की मिलीभगत के कारण यह हालात पैदा हुए हैं।

Read more...

बिजली के खंभे में करंट दौडऩे से आठ साल की बच्ची की मौत, बचाने गया भाई भी झुलसा

roopam 01new

धौलपुर। जिले के सदर थाना क्षेत्र में खेलते समय एक बच्ची करंट की चपेट में आ गई। जहां पर बच्ची खेल रही थी। वहीं पास में एक विद्युत पोल था। पोल में करंट दौड़ रहा था। पोल के चारो ओर पानी था। खेलते-खेलते अनजाने में बालिका इस पोल के संपर्क में आ गई। बच्ची के चिल्लाने पर जब उसका भाई बचाने आया तो वह भी करंट की जद में आ गया। इस दर्दनाक हादसे में बच्ची की मौत हो गई। जानकारी के अनुसार सुंदरपुर गांव में आठ वर्षीय पूनम अपने घर के बाहर खेल रही थी । इस दौरान वो पानी में बह रहे करंट की चपेट में आ गई। चीख पुकार को सुनकर बालिका का चचेरा भाई श्रीराम उसे बचाने के लिए दौड़ा और लेकिन वो खुद भी करंट की चपेट में आ गया। हादसे में झुलसे भाई-बहन को ग्रामीणों ने विद्युत पोल से छुड़ाया और भागते हुए जिला चिकित्सालय लेकर पहुंचे लेकिन चिकित्सकों बच्ची पूनम को मृत घोषित कर दिया। साथ ही शव को मोर्चरी में रखवाया । उसके भाई श्रीराम का उपचार अस्पताल में चल रहा है। परिजनों और ग्रामीणों ने विद्युत डिस्कॉम पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज करने के लिए पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई।

यह भी पढ़ें - जो बेकदरी भाजपा ने तिवाड़ी की कि है वो बाबोसा की भी की थी - गहलोत, मैं गवाह था.....

Read more...

मैं राजस्थान छोड़कर कहीं नहीं जाऊंगा - गहलोत

RK for website02

अजमेर। 'कोई मुझे गुजरात पहुंचा देता है तो कोई बिहार, लेकिन मैं राजस्थान का हूं और यहीं रहूंगा।' तीन महीनों में गहलोत ने यह दूसरी बार कहा है। उन्होंने यह क्यों कहा। यह राजस्थान की राजनीति से साबका रखने वाले सभी जानते हैं। यहां सचिन पायलट का नाम लेना जरूरी नहीं है। हालांकि सचिन, गहलोत को लेकर इस बारे में बयान दे चुके हैं। लेकिन गहलोत का तीन महीने के भीतर इस बात को दोहराना। और बार-बार दोहरना। उनकी राजनीतिक समझ को तो कम नहीं करता लेकिन इतना जरूर बताता है कि वे यह सब उनके समर्थकों और कार्यकर्ताओं के लिए कह रहे हैं।

राजस्थान न्यूज. - तिवाड़ी की चाल चल, कहीं यह बिसात वसुंधरा के लिए तो नहीं बिछाई गई

मैं राजस्थान का हूं, जोधपुर का रहने वाला हूं और यहीं का रहूंगा, यही मेरी कर्मस्थली है। अपने शब्दों पर जोर देते हुए अशोक गहलोत ने ये बातें दोहराई भी। अपने राजस्थानी होने का एहसास भी कराया। इन बातों से वे सभी को अपने राजस्थान के लगाव और जुड़ाव के बारे में बता देना चाहते थे। मौका था मेरा बूथ मेरा गौरव कार्यक्रम का। हिंडौली जाते समय गहलोत अजमेर रुके। जहां सर्किट हाऊस में पत्रकारों ने रूबरू हुए। इस दौरान गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को भी निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि राजस्थान की भूमि पर चाहे अमितशाह आ जाए या फिर पीएम मोदी। जनता वसुंधरा सरकार को उखाड़ फेंकेगी। राजस्थान में बीजेपी को 163सीटें मिली। भले ही वसुंधरा सरकार दावे करे कि उसने बीते पांच सालों में जनता के विकास के काम किए हैं। लेकिन सत्ता परिवर्तन होकर रहेगा। उन्होंने कहा कि सरकार जाने वाली है इसलिए भाजपा को कांग्रेस के विकास के काम याद आ रहे है। अशोक गहलोत यहीं नहीं रुके। बात भाजपा की है तो घनश्याम तिवाड़ी का नाम तो आएगा ही। जिसे कांग्रेस ने मुद्दा बनाया हुआ है। अशोक गहलोत ने घनश्याम तिवाड़ी की बात की। वसुंधरा सरकार को जमकर घेरा। उन्होंने कहा कि वसुंधरा राजे ने नेताओं का अपमान किया है। आम-जनता की तो बात क्या बात की जाए जब घनश्याम तिवाड़ी को ही पार्टी छोडऩी पड़ गई।

राजस्थान न्यूज. - जो बेकदरी भाजपा ने तिवाड़ी की कि है वो बाबोसा की भी की थी - गहलोत, मैं गवाह था.....

maharshi add for website national rajasthan

Read more...

लोग देखते रहे और पीट-पीटकर अहमदाबाद में मार डाला राजस्थानी महिला को

RK for website02

बच्चा चोरी के शक में राजस्थानी महिला की अहमदाबाद में पीट-पीटकर हत्या

अहमदाबाद। अहमदाबाद में बच्चा चोरी के शक में राजस्थान की चार महिलाओं को बुरी तरह पीटा। इनमें से एक की मौत हो गई। महिलाओं को पीटे जाने का वीडियो वायरल हो चुका है। बताया जा रहा है कि यह महिलाएं राजस्थान के पाली जिले के सुमेरपुर कस्बे से थी। वे अहमदाबाद में रोजगार के सिलसिले में गई हुई थी। बीते एक महीने में देश के मध्य-दक्षिणी राज्यों में राजस्थान के लोगों को बच्चा चोरी के आरोप में पीटे जाने की यह दूसरी घटना है। पुलिस के अनुसार गुजरात में एक ऑडियो वायरल हो रहा है जिसमें कहा जा रहा है कि जामनगर और द्वारका में बच्चा चोर गैंग सक्रिय है। ये महिलाएं भी इसी अफ़वाह का शिकार हुईं। अहमदाबाद की वडाज पुलिस के अनुसार यह घटना 26 जून को दोपहर जूना वडाज सर्कल में हुई। जहां 30 लोगों की एक भीड़ ने ऑटो में जा रही चार महिलाओं पर हमला कर दिया। भीड़ को शक था कि ये चारों महिलाएं बच्चा चोर गिरोह की सदस्य हैं। भीड़ ने इन महिलाओं पर हमला कर इनकी पिटाई शुरू कर दी। महिलाएं चिल्लाती रहीं। पुलिस बुलाने की गुहार लगाती रहीं। लेकिन भीड़ पर इसका कोई असर नहीं पड़ रहा था। वो बस उन्हें पीटे जा रहे थी। बाद में जब पुलिस मौके पर पहुंची तो सभी आरोपी वहां से भाग छूटे। पुलिस ने गंभीर रूप से घायल चारों महिलाओं को अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां पर 40 वर्षीय शांति मारवाड़ी ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। पुलिस ने 30 अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस इलाके के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है। आपको बता दें कि गुजरात में यह इस तरह की यह पहली घटना नहीं है। बीते हफ्ते ही गुजरात के द्वारका में बच्चा चोरी के शक में भीड़ ने दो लोगों की जमकर पिटाई कर दी थी। उग्र भीड़ का शिकार हुए दो लोग बच्चा चोर नहीं बल्कि भीख मांगनेवाले थे। पिछले कुछ दिनों से बच्चा चोरी के गिरोह को लेकर वायरल हो रहे ऑडियो पर पुलिस ने लोगों से अपील की है कि वो ऐसी अफवाहों पर ध्यान नहीं दें। पुलिस के मुताबिक ऐसा कोई गिरोह सक्रिय नहीं हैं।

बेंगलुरू में भी राजस्थानी की पीट-पीटकर हत्या
बेंगलुरू के चामराजपेट के आनंदपुर में भी बीती 25 मई को राजस्थान के एक युवक को बच्चा चोर समझकर भीड़ ने पीट-पीट कर हत्या कर दी थी। बाद में पता चला कि मृतक राजस्थान के पाली का रहने वाला था और वो नौकरी की तलाश में दो महीने पहले ही बेंगलुरू आया था।

Read more...

राजस्थान में मानसून की गति धीमी, जानिए कब तक आएगा मानसून

Gravity

जयपुर। सूरज की तपिश, गर्मी और झुलसाती धूप से राहत पाने के लिए प्रदेशवासियों को थोड़ा और इंतजार करना पड़ेगा। इस बार मानसून की रफ्तार धीमी है। यही कारण है कि मानसून अभी गुजरात के अहमदाबाद में ही अटका हुआ है। इससे आप समझ सकते हैं कि राजस्थान में मानसून के प्रवेश में अभी समय लग सकता है। मौसम विभाग के अनुसार मानसून अभी गुजरात में पहुंचा है और अपनी धीमी चाल से चल रहा है। प्रदेश में आने के लिए मानसून के अभी 1 सप्ताह का समय लग जाएगा। आपको बता दें कि मानसून पहले 15-20 तारीख तक आने वाला था। वहीं अब प्रदेशवासियों को थोड़ा और इंतजार करना पड़ेगा। हालांकि प्रदेश के कई जिलों में प्री मानसून ने राहत पहुंचाई है। झालावाड़, बांसवाड़ा और कोटा में हुई झमाझम बारिश ने लोगों को राहत दी है। मानसून 28 जून तक राजस्थान में प्रवेश कर सकता है, लेकिन राजधानी वासियों को इंतजार करना पड़ेगा यहां मानसून जुलाई तक पहुंचने की आशंका है। वहीं प्री मानसून की बारिश ने लोगों को राहत तो दी लेकिन गर्मी से निजात नहीं मिल पाई है। सूरज की तपिश ने लोगों को परेशान किया है वहीं प्रचंड गर्मी का दौर भी जारी है। चूरू में तापमान 40 के पार पहुंच गया है। हालांकि रविवार को प्रदेश के कई जिलो में जोरदार बारिश हुई। रविवार को बारिश होने से लोगों ने राहत की सांस ली। राजस्थान के ही कई जिलों जैसे सीकर, ब्यावर, जोधपुर,पाली और उदयपुर समेत आसपास के कई इलाकों में अचानक मौसम ने पलटा खाया और बारिश होने लगी।

Read more...

सावधान! पंजाब और हरियाणा के गेहूं में कैंसर अलर्ट...

RK for website02

पाली। पंजाब और हरियाणा में खेती के समय रासायनिक खाद का उपयोग हो रहा है। जिसकी वजह से लोगों में बीमारियों का खतरा बढ़ रहा है। इन दोनों राज्यों के लोगों का कहना है कि वे हर साल मारवाड़ से गेहूं खरीदते हैं। खेती को बढ़ावा देने के लिए यूज में लिए जा रहे रासायनिक खाक से बीमारियों का खतरा बढ़ रहा है। लोगों में कैंसर होने का डर सताने लगा है। इन राज्यों की उपज में पेस्टिसाइड का उपयोग अधिक रहता है जिससे कैंसर का खतरा बढ़ता है। पंजाब और हरियाणा के लोगों को राजस्थान का गेंहू रास आ रहा है। आपको बता दें कि पाली में लगभग 700 किसान ऐसे हैं जो जैविक प्रक्रिया से खेती करते हैं। इस प्रक्रिया में गुणवत्ता के लिए कम्पोस्ट खाद और कीटनाशक के लिए गौमूत्र का प्रयोग किया जाता है। जिससे इसकी गुणवत्ता तो बढ़ती ही है साथ ही खाने के लिए भी फायदेमंद होता है। यहां के लोग मारवाड़ के पाली जिले से गेंहू मंगवा रहे हैं। इतना ही नहीं इन राज्यों के लोगों को सब्जी, घी और दूसरे कृषि उत्पाद भी मारवाड़ के ही पसंद आ रहे हैं। जिसका फायदा किसानों को भी होगा। जबकि मारवाड़ में खेती के समय किसान जैविक खेती का उपयोग करते हैं। यही कारण है कि पंजाब औहर हिरयाणा के के लोग अनााज के लिए राजस्थान का रुख कर रहे हैं। जैविक खेती का फायदा किसानों को हो रहा है। जैविक खेती से उत्पादित गेहूं 3000 रुपए क्विंटल है वहीं पंजाब हरियाणा में इसके 3500 से 4000 रुपए मिल रहे हैं। जिसका किसानों को फायदा हो रहा है। जैविक खेती सेहत के लिए फायदेमंद है। जैविक खेती से उपजे इस गेहूं से लोगों की सेहर में सुधार हो रहा है।

maharshi add for website national rajasthan

Read more...

आनंदपाल की बरसी पर लाडनूं में रक्तदान शिविर का आयोजन, 1726 यूनिट ब्लड एकत्रित

नागौर। प्रदेश के कुख्यात गैंगस्टर आंनदपाल सिंह की पिछले साल पुलिस एनकाउंटर में मौत हो गई थी। रविवार को आनंदपाल की पहली बरसी पर रावणा राजपूत समाज और करणी सैना के नेतृत्व मे एक विशाल रक्तदान शिविर का आयोजन लाडनूं मे रखा गया। जो ऐतिहासिक रहा। नागौर जिले के शहरी और ग्रामीण इलाकों के साथ-साथ दूसरे जिलों से भी युवाओं ने रक्तदान शिविर मे बढ़ चढ़कर भाग लिया। शिविर स्थल पर आंनदपाल की मां निर्मल कंवर, पत्नी राजकंवर सहित परिवार के अन्य सदस्य मोजूद रहे। इस रक्तदान शिविर में कुल 1726 यूनिट रक्त संग्रहण हुआ, जो कि लाडनूं में एतिहासिक है। इससे पहले कभी लाडनूं में एक साथ इतना रक्तदान नहीं हुआ। रावणा राजपूत समाज के प्रदेशाध्यक्ष रणजीत सिंह सोडाला ने बातचीत करते हुए बताया कि रक्त दान शिविर में समाज का आक्रोश साफ छलक रहा है। राजपूत समाज के साथ राज्य सरकार ने बहुत जुल्म ढहाए हैं। राजपूत व रावणा राजपूत समाज इस बात को भुला नही हैं। उन्होने कहा कि आंनदपाल का फर्जी एनकाउंटर किया गया। आज भी आंनदपाल के परिवार को किसी ना किसी तरीके से परेशान किया जा रहा है। सोडाला ने कहा कि जब तक सरकार राजपूत समाज की बात मान नहीं लेती तब तक विरोध ऐसे ही चलता रहेगा। सांवराद मे निर्दोष लोगों के साथ मारपीट और झूठे मुकदमों को समाज अभी भुला नही हैं। आगामी 23 सितम्बर को हम जयपुर मे मेजर दलपत सिंह का बलिदान दिवस मनाने जा रहे हैं। वहां एक बड़ा फेसला लेंगे। शिविर मे उपस्थित हुए जनता दल युनाईटेड के प्रदेशाध्यक्ष दौलतराम पेंसिया ने कहा अगर आंनदपाल अपराधी होता तो यहां उसके पीछे इतनी भीड़ नही उमड़ती, हम तो शुरु से ही मांग कर रहे थे कि आंनदपाल के पहले मुकदमे की भी सीबीआई जांच होनी चाहिए। जहां से उसके अपराध की शुरुआत हुई। सांवराद प्रकरण मे सरकार ने निर्दोषों पर मुकदमे दर्ज किए इसका परिणाम आगामी विधानसभा चुनाव में सरकार को भुगतना पड़ेगा।

Read more...

अलवर में 25 साल से सूखे पड़े कुएं में अचानक आया पानी, लोगों के बीच बना कौतुहल का विषय

Gravity

अलवर। शहर के मुल्तान नगर में कुदरत का करिश्मा देखने को मिला। लगभग 25 साल से सूखे पड़े एक कुएं में अचानक पानी आ गया। इतना ही नहीं पानी का स्तर लगातार बढ़ता ही जा रहा था, जो कि लोगों के बीच कौतुहल का विषय बन गया था। मालूम हो कि जिलों में इन दिनों भू-जल स्तर करीब 190-200 फीट पर आ गया है और यहां पर कई दिनों से बारिश भी नहीं हुई है। ऐसे में लगभग 25 सालों से सूखे पड़े कुएं में अचानक पानी आ जाना लोगों के बीच कौतुहल बन गया। केन्द्रीय राज्य मंत्री सीआर चौधरी ने नागौर में की जनसुनवाई, लोगों की... स्थानीय निवासियों ने बताया कि यह कुआं लगभग 40 फीट गहरा है। इस कुएं को 25 साल से सूखे होने के कारण कुएं में मिट्टी जमा हो गई थी। इसके बाद भी कुएं से अचानक पानी आना लोगों के बीच चर्चा का विषय बन गया। वहीं जलदाय विभाग के सहायक अभियंता रवि मेठी ने बताया कि मात्रा 30-40 फीट गहरे कुए में पानी आना किसी चमत्कार से कम नही है। इस कुए को जल्द दिखवाएंगे और पता लगाने की कोशिश करेंगे, कि कुएं में पानी किस वजह से आया है।

well

Read more...

राजस्थान में अब 20 कमरों के होटल को भी मिलेगा बार लाइसेंस

roopam 01new

जयपुर। राजस्थान में सरकार अब शराब के कारोबार को बढ़ावा देगी। इसके लिए सरकार ने छोटे होटलो मालिकों को भी प्रोत्साहन देना शुरू कर दिया है। अब 20 कमरे वाले होटलों को भी बार का लाइसेंस मिल सकेगा। राज्य वित्त विभाग की ओर से इस संबंध में आदेश जारी किए गए हैं। राज्य सरकार ने राजस्थान एक्साइज एक्ट के नियम 41 के तहत राजस्थान एक्साइज होटल एण्ड क्लब बार लाइसेंस के नियमों में संसोधन किया है। जिसके तहत 20 कमरे वाले होटल में भी बार चल सकेगा। इस नियम को द्वितीय संशोधन नियम के रूप में शामिल किया गया है। वित्तविभाग की ओर से ये आदेश जारी किए गए हैं। आपको बता दें कि राज्य सरकार ने पूर्व में प्रथम संशोधन के तहत 50 कमरों या इससे अधिक कमरों के होटल और क्लब को ही बार के लिए आवेदन करने की पात्रता दी थी। लेकिन अब इसमें संशोधन कर दिया गया है। आपको बता दें कि आबकारी विभाग के जरिए हर साल राज्य सरकार को हजारों करोड़ रुपए की आय होती है। बीते साल सरकार को इससे 7800 करोड़ रुपए से अधिक की आय हुई थी। वहीं इस बार सरकार के मद में 9300 करोड़ रुपए की आय प्रस्तावित है। साल 2014-15 में प्रदेश का आबकारी राजस्व 5585 करोड़ रुपए से अधिक था। जिसके बाद 7800 करोड़ रुपए रहा हालांकि ये आय प्रस्तावित आय से कम थी। वहीं इससे राज्य सरकार के आबकारी राजस्व नें हर साल करीब 12 फीसदी से अधिकी की बढ़ोतरी हो रही है।

maharshi add for website national rajasthan

Read more...
Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News