Menu

'धरती के भगवान' को तलाश रहे भगवान Featured

जोधपुर। सेवारत डॉक्टरों और रेजिडेंट डॉक्टरों की हड़ताल मंगलवार को दूसरे दिन भी जारी रही। इस हड़ताल के कारण पूरे जिले में चिकित्सा व्यवस्था बेपटरी हो गई है। डॉक्टरों के कार्य बहिष्कार के चलते सरकारी अस्पतालों में चिकित्सा व्यवस्था ठप हो गई है। अस्पतालों के आउटडोर से इमरजेन्सी तक अफरा-तफरी मची हुई है। मरीज 'धरती के भगवानÓ को तलाशते रहे। दूरदराज से आउटडोर में आने वाले मरीज डॉक्टर को दिखाने के लिए घंटों इंतजार करते नजर आए। बाद में इन मरीजों को निजी अस्पतालों की तरफ रूख करना पड़ा।
अस्पतालों में आने वाले मरीज जांच के लिए भटक रहे है। इमरजेन्सी में आने वाले घायल व आईसीयू में भर्ती गंभीर मरीज भगवान भरोसे है। बता दे कि मेडिकल कॉलेज से जुड़े अस्पतालों की आईसीयू, इमरजेन्सी व भर्ती मरीजों के साथ 24 घंटे रेजिडेंट ही रहते है। दवा, जांच लिखने जैसे काम रेजिडेंट डॉक्टर ही करते है और मरीजों की हालत गंभीर होने पर संबंधित यूनिट के डॉक्टर से फोन पर बातचीत करके इलाज करते है। इधर रेस्मा के तहत सेवारत चिकित्सकों को गिरफ्तारी से मेडिकल कॉलेज के रेजिडेंट गिरफ्तारी के डर से भूमिगत हो गए है।
सरकार पर वादा खिलाफी का आरोप लगाते हुए सेवारत डॉक्टर्स सोमवार से हड़ताल पर है। उनके समर्थन में डॉ. एसएन मेडिकल कॉलेज के रेजिडेंट डॉक्टर भी हड़ताल पर चले गए थे। हड़ताल का आज दूसरा दिन है। इन डॉक्टरों की हड़ताल से सभी सरकारी अस्पतालों में मरीजो को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। सेवारत डॉक्टर्स व रेजिडेंट के बिना मेडिकल कॉलेज, प्राथमिक और सामुदायिक स्वस्थ केंद्रों सहित जिला अस्पतालों पर मरीज परेशान होते रहे। तीनों बड़े अस्पतालों महात्मा गांधी, उम्मेद और मथुरादास माथुर अस्पताल में रेजिडेंट्स के हड़ताल पर जाने के बाद सीनियर्स ने व्यवस्थाएं संभाल रखी है। मेडिकल कॉलेज प्राचार्य डॉ. अमीलाल भाट ने बताया कि मेडिकल कॉलेज के तीनों अस्पतालों के करीब चार सौ रेजिडेंट हड़ताल पर गए है। इससे इन हॉस्पिटलों की व्यवस्था बुरी तरह लडखड़़ा गई है। हालांकि मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने व्यवस्थाओं को सुधारने के प्रयास किए है लेकिन इतनी बड़ी संख्या में डॉक्टर्स के हड़ताल पर होने की से स्थिति काबू आती नहीं दिख रही।

DNR Reporter

DNR desk

Leave a comment

Make sure you enter the (*) required information where indicated. HTML code is not allowed.

back to top

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News