Menu

54 हजार पदों पर भर्तियां शीघ्र होंगी, प्रदेश में रिक्त नहीं रहेगा शिक्षक का एक भी पद : देवनानी Featured

अजमेर. शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने राज्य के आकांक्षापूर्ण जिलों के लिए केंद्र सरकार स्तर पर विशेष ग्रांट दिए जाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में विद्यालय क्रमोन्नति, गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के विकास आदि के लिए केंद्र और सहयोग करे। देवनानी ने कहा कि राज्य में शीघ्र ही तृतीय श्रेणी के 54 हजार पदों पर नियुक्ति हो जाएगी। इसके बाद प्रदेश में शिक्षकों का कोई पद रिक्त नहीं रहेगा।

- देवनानी सोमवार को शासन सचिवालय में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से एनआईसी के जरिए वीडियो कॉन्फ्रेंस में संवाद कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य के बारां, धौलपुर, सिरोही, करौली एवं जैसलमेर जिले को आकांक्षापूर्ण जिलों के लिए चयनित किया गया है। इनमें शिक्षा गुणवत्ता के लिए सतत प्रयासों की पहल की गई है।
- शिक्षा राज्य मंत्री ने कहा कि राज्य में आरटीई के तहत सभी स्थानों पर पाठ्य पुस्तकें उपलब्ध करा दी गई है। आदिवासी बाहुल्य और डेजर्ट क्षेत्र के जिलों में सभी को गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा मिले, इसके लिए प्रयास किए गए हैं। उन्होंने कहा कि राज्य के 12 वीं तक के सभी स्कूलों में आईसीटी लेब स्थापित कर दिए गए हैं। लर्निंग आउटकम के लिए भी विशेष प्रयास किए गए हैं।
- देवनानी ने कहा कि राज्य सरकार ने 10 हजार 673 पंचायत एजुकेशन अधिकारियों को इसके लिए लेपटॉप प्रदान किए हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में लड़के-लड़कियों के लिए शतप्रतिशत टॉयलेट की व्यवस्था की गई है। प्रदेश में 12 वीं तक के सभी विद्यालयों में बिजली की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है।

देशभर में 117 आकांक्षी जिले चयनित

- केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री जावड़ेकर ने देश के सभी राज्यों के शिक्षा मंत्रियों से वीडियो कान्फ्रेंस के जरिये संवाद किया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने देशभर में 117 जिलों को विकास आकांक्षी जिलों के रूप में चयनित किया है। उच्च शिक्षा के लिए केंद्र सरकार ने 1668 करोड़ और स्कूल शिक्षा के लिए भी अधिकतम राशि स्वीकृत की है। उन्होंने कहा कि स्कूलों में विद्युतीकरण के लिए राज्य सरकारें घरेलू कनेक्शन जारी करें। वहां पावर रेगुलेटर लगे। सभी राज्यों में जुलाई माह तक पाठ्य पुस्तकें मिल जाए। यह सुनिश्चित हो कि देश के रिमोट क्षेत्रों में भी राज्य सरकारें 30 छात्रों पर एक अध्यापक नियुक्त करें। राज्य लर्निंग आउटकम प्लान बनाए।

- लर्निंग आउटकम कैसे पूरा हो, इसके लिए केंद्र सरकार के स्तर पर मदद दी जाएगी। राज्य कक्षा 5 तक के स्कूलों को 8 वीं तक, 8 वीं तक को 10 वीं तक और 10 वीं को 11 वीं और 12वीं तक क्रमोन्नत करें। उन्होंने देश में 17 नए मॉडल डिग्री कॉलेज खोले जाने और प्रत्येक के लिए 12 करोड़ स्वीकृत किए जाने की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि देश के 29 जिलों में मॉडल डिग्री कॉलेज अपग्रेड होंगे। हरेक कॉलेज को 4 करोड़ केंद्रीय स्तर पर मिलेगा। इसके अलावा 6 जिलों में प्रोफेशनल कॉलेज होंगे। प्रत्येक के लिये 26 करोड़ का प्रावधान होगा। वीडियो कॉन्फ्रेंस में सर्व शिक्षा आयुक्त डॉ. जोगाराम कॉलेज शिक्षा आयुक्त आशुतोष सहित अन्य अधिकारियों ने भाग लिया

DNR Reporter

DNR desk

Leave a comment

Make sure you enter the (*) required information where indicated. HTML code is not allowed.

back to top

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News