Menu
DNR Reporter

DNR Reporter

DNR desk

Website URL:

ईवीएम खराब, केंद्रीय राज्य मंत्री को करना पड़ा एक घंटे इंतजार

नेशनल राजस्थान.बीकानेर। केंद्रीय राज्य मंत्री अर्जुनराम मेघवाल को ईवीएम मशीन खराब होने के कारण एक घंटे से अधिक समय तक मतदान के लिए इंतजार करना पड़ा। समाचार लिखे जाने तक भी मतदान नहीं कर पाए थे। इस दौरान मौके पर एकबारगी हंगामे की स्थिति बन गई।
किसमीदेसर गांव में अपने बूथ पर वोट देने गए केंद्रीय राज्य मंत्री ने वीआईपी ट्रीटमेंट लेने के बजाय सामान्य आदमी की तरह पंक्ति में खड़ा होना पसन्द किया। इस दौरान वो जैसे ही अपनी बारी के वक्त बूथ के अंदर पहुंचे, समाचार आया कि ईवीएम खराब हो गई। समाचार लिखे जाने तक एक घंटा बीत चुका था और बूथ पर मतदान फिर से शुरू नहीं हो सका। इस दौरान मौके पर खड़ी महिलाओं ने मेघवाल के सामने इस बात को लेकर आक्रोश भी दर्ज कराया। वहीं मेघवाल सभी को समझाते नजर आए। काफी शांत और संयत मेघवाल स्थानीय लोगों से स्थानीय मुद्दों पर ही बात करते नजर आए।

जग्गासर में तकरार, शेष शांतिपूर्ण मतदान

नेशनल राजस्थान.बीकानेर। सुबह आठ बजे शुरू हुए मतदान के बाद जिले में वैसे तो शांति का माहौल है लेकिन बज्जू से सत्तर किलोमीटर दूर जग्गासर में दो पक्षों में आपसी तकरार होने की खबर आ रही है। हालांकि पुलिस की मौजूदगी ने मामले को शांत कर दिया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बज्जू के पास दो पक्ष मतदान को लेकर एक दूसरे के आमने सामने हो गए थे। दो गाडिय़ां आमने सामने टकराने से एक पक्ष ने दूसरे की गाड़ी को जलाने का प्रयास किया। हालांकि क्षेत्र में अब तनाव जैसे हालात नहीं है। बज्जू सहित समूचे क्षेत्र में शांति पूर्ण तरीके से मतदान हो रहा है।
बीकानेर शहर में उत्साह
बीकानेर शहर में सुबह आठ बजे से ही मतदान की प्रक्रिया शुरू हो गई। बड़ी संख्या में लोगों ने आठ बजने से पहले ही मतदान शुरू कर दिया था। स्थिति यह थी कि मतदान प्रक्रिया शुरू होने से पहले कई बूथों पर लंबी कतार लग गई। खुशी की बात यह थी कि भारी संख्या में महिलाएं भी सुबह सवेरे बूथ पर पहुंच गई।

बीकानेर में वसुंधरा के सामने लगा नारा, 'हमारा सीएम कैसा हो, अशोक गहलोत जैसा हो'

डीएनआर रिपोर्टर.बीकानेर
यहां मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के सामने सोमवार को 'हमारा मुख्यमंत्री कैसा हो, अशोक गहलोत जैसा होÓ के नारे लगे। इतना ही नहीं 'अशोक गहलोत जिंदाबादÓ के नारे तब तक लगते रहे, जब तक कि वसुंधरा ने रास्ता पार नहीं कर लिया। हालांकि वो छत्तरगढ़ व नापासर मार्ग पर एक कार में थी।
वो यहां लूणकरनसर से भाजपा प्रत्याशी सुमित गोदारा के समर्थन में एक सभा को संबोधित करने के लिए आई थी। पुलिस की मौजूदगी में कांग्रेस समर्थकों के एक झुंड ने मुख्यमंत्री की कार आने से पहले ही 'हमारा सीएम कैसा हो, अशोक गहलोत जैसा होÓ के नारे लगाने शुरू कर दिए। इस दौरान कुछ पुलिस कर्मी मौके पर पहुंच गए लेकिन नारेबाजी करने वाले चुप नहीं हुए बल्कि और उग्र हो गए। इसके बाद जमकर 'अशोक गहलोत जिंदाबादÓ के नारे लगाए गए।
उल्लेखनीय है कि सोमवार को बीकानेर में भाजपा के दो दो मुख्यमंत्री अपनी पार्टी को वोट दिलाने के लिए मशक्कत करते नजर आए। वसुंधरा राजे ने जहां नापासर में सभा को संबोधित किया, वहीं योगी आदित्यनाथ श्रीडूंगरगढ़ में जनसभा को संबोधित करने पहुंचे। दोनों विधानसभा क्षेत्रों में भाजपा प्रत्याशियों को कड़ी टक्कर मिल रही है।

ना तो भाजपा में जा रहा हूं और ना ही नामवापस ले रहा हूं....चुनाव जीतने के लिए खड़ा हुआ हूं....गोपाल गहलोत

बीकानेर। कांग्रेस से बागी होकर बीकानेर की दोनों विधानसभा सीटों पर ताल ठोकने वाले गोपाल गहलोत ने कहा कि मैं बैठने के लिए नहीं जीतने के लिए खड़ा हुआ हूं। भाजपा के राष्ट्रीय अमित शाह बुधवार को बीकानेर के दौरे के दौरान भाजपा में घरवापसी को लेकर चल रही चर्चाओं के बीच गोपाल गहलोत ने सोशल मीडिया पर अपना एक वीडियो अपलोड किया है जिसमें उन्होंने साफ कहा कि वे किसी भी हाल में भाजपा में नहीं जा रहे हैं और ये सब अफवाहें फैलाई जा रही है। उन्होंने कहा कि जो मुझे जानता है उसे पता है कि मैं राजनीतिक लाभ-हानि को देखकर निर्णय नहीं करता हूं। मेरा विरोध नैतिक है और इस पर आज भी कायम हूं। गहलोत ने कहा कि कांग्रेस ने जिस तरह से पश्चिम पूर्व किया और पैराशूटी को लेकर आए वो मेरा विरोध टिकट मिलने से पहले से ही था। वहीं अब शहर में साल-बहनोई राज को खत्म करने के लिए जनता मेरे साथ है। गहलोत ने कहा कि मैं दोनों सीटों पर चुनाव जीतूंगा। संभवत राजस्थान में मैं अकेला ऐसा निर्दलीय हूं जो दोनों सीटों पर चुनाव लड़ रहा है तो यह जनता की ताकत के भरोसे हुआ है। गहलोत ने कहा कि चुनाव चिन्ह मिलने के साथ ही प्रचार अभियान में तेजी आएगी और मैं मेरा काम कर रहा हूं और लोग भी अपना समर्थन दे रहे हैं।

हिंसा का लोकतंत्र में स्थान नहीं
इस दौरान गोपाल गहलोत ने उनके सामने चुनाव लड़ रहे चारों प्रत्याशियों को लेकर कहा कि वे सभी उनके सम्मानीय हैं लेकिन वोट की लड़ाई अलग है और वो शांतिपूर्ण तरीके से मत देकर पूरी करनी है लेकिन हिंसा का कोई भी स्थान नहीं होना चाहिए और मैं इसके खिलाफ हूं।

Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News