Menu

खेल (1088)

सालेह को मिस्र की विश्व कप फुटबाल टीम में मिली जगह

काहिरा, चार जून (एएफपी) ली वरपूल के चोटिल स्ट्राइकर मोहम्मद सालेह को मिस्र की 23 सदस्ईय विश्व कप फुटबाल टीम में शामिल किया गया है।
मिस्र फुटबाल संघ ने टीम की घोषणा करते हुए कहा कि चैम्पियंस लीग के फाइनल में सालेह का कंघा चोटिल हो गया था जिसका इलाज अभी जारी है।
सालेह ने पिछले सत्र में लीवरपूल के लिए 44 गोल किए थे लेकिन चैम्पियंस लीग के फाइनल में चोट लगने के कारण उन्हें मैच बीच में छोडऩा पड़ा था।
सालेह का इलाज स्पेन के वेलेंसिया में हुआ था और उम्मीद है कि 1990 के बाद पहली बार विश्व कप के लिए क्वालीफाई करने वाली मिस्र की टीम के लिए वह मैदान पर उतर पाएंगे।
इससे पहले बुधवार को महासंघ ने कहा था कि सालेह तीन सप्ताह से कम समय के लिए टीम से बाहर रहेंगे, जिसका मतलब यह हुआ कि वह उरूग्वे के खिलाफ 15 जून को होने वाले मैच में नहीं खेलेंगे। ग्रुप ए में शामिल मिस्र का सामना 19 जून को रूस और 25 जून को सऊदी अरब से होगा।
टीम :
गोलकीपर : एस्साम अल एल हादरी, मोहम्मद अल शेनवी, शेरिफ इकराम
डिफेंडर : अहमद फाथी, साद समीर, अयमान अशरफ, अहमद हेगाजी, अली गब्र, अहमद एल्मोहमदी, मोहम्मद अब्देल - शफी, उमर गाबेर, महमूद हमदी
मिडफील्डर : मोहम्मद एलनेनी, तारेक हमीद, सैम मोर्से, महमूद अब्देल रजेक, अब्दल्लाह अल सैद, महमूद हसन, रमदान सोभी, अम्र वरदा, महमूद अब्देल - मोनीम
फारवर्ड : मोहम्मद सालेह, मारवान मोहसेन

Read more...

एशियाई खेलों के लिए भारतीय टीम में पेस की वापसी, युकी को आराम

नई दिल्ली, चार जून (भाषा) अनुभवी लिएंडर पेस ने एशियाई खेलों के लिए भारतीय टेनिस टीम में वापसी की है जबकि देश के शीर्ष एकल खिलाड़ी युकी भांबरी को 12 सदस्ईय टीम से बाहर रखा गया है चूंकि उनका अमेरिकी ओपन खेलना लगभग तय है।
भारतीय टीम में छह महिला और छह पुरूष खिलाड़ी है जो इंडोनेशिया में 18 अगस्त से शुरू हो रहे एशियाई खेलों में भाग लेंगे।
युकी विश्व रैंकिंग में 94वें स्थान पर हैं जिनका अमेरिकी ओपन में खेलना लगभग तय है लिहाजा एआईटीए की चयन समिति ने उन्हें बाहर रहने की छूट दी है।
पालेंबांग में टेनिस स्पर्धाएं 19 से 25 अगस्त तक होंगी जबकि अमेरिकी ओपन 27 अगस्त से शुरू हो रहा है। समय के अभाव में यात्रा और रिकवरी करना कठिन हो जाता।
छह सदस्ईय टीम में तीन एकल विशेषज्ञ रामकुमार रामनाथन, प्रजनेश गुणेश्वरन और सुमित नागल है जबकि युगल विशेषज्ञ पेस, रोहन बोपन्ना और दिविज शरण भी टीम में हैं।
महिला टीम में एकल खिलाड़ी अंकिता रैना, करमन कौर थांडी, रूतुजा भोसले, प्रांजला यादलापल्ली, रिया भाटिया और प्रार्थना थोंबरे हैं।
जीशान अली टीम के कोच और पुरूष टीम के कप्तान होंगे। महिला टीम की कोच अंकिता भांबरी होंगी।

Read more...

न्यूजीलैंड और चीनी ताइपै की नजरें पहली जीत पर

मुंबई, चार जून (भाषा) अपने पहले मैच हार चुकी न्यूजीलैंड और चीनी ताइपै की टीमें कल यहां इंटरकांटिनेंटल फुटबाल कप के मैच में अपनी जीत दर्ज करने के इरादे से उतरेंगी।
चीनी ताइपै की युवा टीम को भारत ने पहले मैच में 5-0 से हराया था। वहीं न्यूजीलैंड को कीनिया ने 2-1 से मात दी।
न्यूजीलैंड की टीम कीनिया के खिलाफ आसान मौके नहीं भुना सकी और उसे कल अपनी गलतियों से सबक लेकर उतरना होगा। इसके अलावा फारवर्ड पंक्ति में बेहतर तालमेल की जरूरत है।
सभी की नजरें सरप्रीत सिंह पर लगी होगी जिसने कीनिया के खिलाफ गोल किया था। न्यूजीलैंड के कोच फ्रिट्ज शमिड ने स्वीकार किया कि उनकी टीम को शारीरिक रूप से मजबूत कीनियाई खिलाडय़िों के सामने परेशानी आई और उन्हें इसमें सुधार करना होगा।
दूसरी ओर भारत से शर्मनाक हार के बाद चीनी ताइपै की टीम प्रतिष्ठा बचाने के इरादे से उतरेगी।

Read more...

लाहिड़ी टी 37वें स्थान पर रहे, वुड्स 23वें स्थान पर

डबलिन, चार जून (भाषा) भारतीय गोल्फर अनिर्बान लाहिड़ी एक ओवर 73 के स्कोर के साथ मेमोरियल टूर्नामेंट में संयुक्त 37वें स्थान पर रहे।
वह पिछले दौर के बाद संयुक्त 21वें स्थान पर थे और कुल छठे स्थान पर रहे।
ब्रायसन डिचैम्ब्यू ने बायोंग हुन अन और काइल स्टानले को प्लेआफ में हराकर खिताब जीता। तीनों का स्कोर 15 अंडर था जिसके बाद प्लेआफ से विजेता का निर्धारण किया गया।
टाइगर वुड्स आखिरी दौर में अपना शानदार फार्म बरकरार नहीं रख सके और नौ अंडर 279 के कुल स्कोर के साथ संयुक्त 23वें स्थान पर रहे।

Read more...

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की लगातार दूसरी जीत

कुआलालम्पुर, चार जून (भाषा) कप्तान हरमनप्रीत कौर के हरफनमौला प्रदर्शन के दम पर भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने एशिया कप टी20 टूर्नामेंट के दूसरे मैच में थाईलैंड को 66 रन से हरा दिया।
पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने चार विकेट पर 132 रन बनाए। जवाब में थाईलैंड की टीम आठ विकेट पर 66 रन ही बना सकी।
भारत छह देशों के टूर्नामेंट में लगातार दो जीत के बाद शीर्ष पर है। भारत ने पहले मैच में मेजबान मलेशिया को 142 रन से हराया था।
भारत के लिए मोना मेशराम ने 45 गेंद में 32 रन बनाए थे। हरमनप्रीत ने 17 गेंद में नाबाद 27 रन जोड़े जिसमें तीन चौके शामिल थे। स्मृति मंधाना ने 22 गेंद में 29 रन बनाए।
हरमनप्रीत ने अपनी आफ स्पिन गेंदबाजी से तीन ओवर में 11 रन देकर तीन विकेट भी लिए। इस प्रदर्शन के दम पर उन्हें प्लेयर आफ द मैच चुना गया।
दीप्ति शर्मा ने भी दो विकेट चटकाए।
थाईलैंड के लिए नटाया बूचाथम ने 40 गेंद में 21 रन बनाए। भारतीय गेंदबाजों के सामने थाई बल्लेबाज टिक ही नहीं सके।
भारत को कल विश्राम के बाद अगले मैच में बांग्लादेश से खेलना है।

Read more...

विश्व कप से पहले नेमार की वापसी से खुश ब्राजीली फुटबालप्रेमी

लीवरपूल, चार जून (एपी) विश्व कप से दस दिन पहले क्रोएशिया के खिलाफ अभ्यास मैच के जरिए वापसी करके 2-0 से जीत दिलाने वाले नेमार ने ब्राजील के फुटबालप्रेमियों की आशंकाओं को दूर कर दिया है।
दाहिने पैर के आपरेशन के तीन महीने बाद नेमार ने टीम में वापसी की और क्रोएशिया पर जीत में अहम भूमिका निभाई।
डिफेंडर थियागो सिल्वा ने कल खेले गए इस मैच के बाद कहा कि इस तरह के खिलाड़ी की वापसी से कोई भी टीम राहत की सांस लेगी।
नेमार के फर्नांडिन्हो की जगह मैदान पर उतरने के बाद से ब्राजील ने आक्रामक खेल दिखाया। नेमार ने विलियन और गैब्रियल जीसस के साथ आक्रमण का मोर्चा संभाला और विश्व कप में भी यही तिकड़ी फारवर्ड लाइन में होगी।
नेमार ने कहा कि मैं फिर फुटबाल के मैदान पर लौटकर बहुत खुश हूं। मैने इसके लिए काफी इंतजार किया।

Read more...

पाकिस्तान पर मिली जीत से समस्याएं खत्म नहीं हो जाती : रूट

लीड्स, चार जून (एएफपी) इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने कहा है कि टेस्ट क्रिकेट में इंग्लैंड के फार्म की जहां तक बात है तो पाकिस्तान पर दूसरे टेस्ट में मिली जीत से तमाम समस्याओं पर पर्दा नहीं डाला जा सकता।
लाडर्स पर पहला टेस्ट नौ विकेट से हारने के बाद इंग्लैंड ने दूसरा टेस्ट तीन दिन के भीतर एक पारी और 55 रन से जीतकर श्रृंखला में। .। से बराबरी की।
इसके साथ ही इंग्लैंड ने आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड से हारने के बाद लगातार तीसरी हार टाल दी। अब उसे अगस्त में भारत से पांच मैचों की टेस्ट श्रृंखला खेलनी है।
रूट ने कहा कि हमें समस्याओं पर पर्दा नहीं डालना है और यह सोचकर नहीं बैठना है कि ए हमेशा के लिए खत्म हो गई। हमें यह सुनिश्चित करना है कि फिर लाडर्स टेस्ट जैसी स्थिति नहीं बनने पाए।
श्रृंखला नहीं जीत पाने की गाज कोच ट्रेवर बेलिस पर गिर सकती है लेकिन रूट ने कहा कि कोच को निशाना बनाना हमेशा आसान होता है।
वहीं बेलिस ने बीबीसी रेडियो के एक कार्यक्रम में कहा कि मैं वह कुछ भी सुनना नहीं चाहता जो मीडिया कह रहा है। सभी को अपनी राय रखने का अधिकार है लेकिन मैं परवाह नहीं करता।

Read more...

पाकिस्तानी कप्तान सरफराज को श्रृंखला ड्रा कराने पर फख्र

लीड्स, चार जून (एएफपी) पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने कहा है कि हेडिंग्ले में पारी के अंतर से मिली हार के बावजूद उन्हें अपनी युवा टीम पर गर्व है हालांकि वह इंग्लैंड में टेस्ट श्रृंखला जीतने का मौका चूक गए।
दो मैचों की यह श्रृंखला 1-1 से ड्रा रही। पहला टेस्ट पाकिस्तान ने नौ विकेट से जीता था।
पाकिस्तान ने 1996 के बाद से इंग्लैंड में टेस्ट श्रृंखला नहीं जीती है।
सरफराज ने पत्रकारों से कहा कि जब हम यहां आए थे तब किसी ने सोचा नहीं था कि हम एक मैच भी जीतेंगे। हमने लाडर्स पर शानदार खेल दिखाया। गेंदबाजी, बल्लेबाजी और फील्डिंग सभी कुछ परफेक्ट था।
उन्होंने कहा कि हमारे पास श्रृंखला जीतने का मौका था लेकिन हम यहां अच्छा नहीं खेल सके। इसके बावजूद मुझे अपनी युवा टीम पर फख्र है। अब्बास, शादाब, फहीम अशरफ सभी ने अच्छा प्रदर्शन किया। मुझे श्रृंखला। .। से ड्रा रहने का कोई दुख नहीं है।

Read more...

पेस की वापसी, युकी को एशियाई खेलों से बाहर रहने की छूट

नई दिल्ली, चार जून (भाषा) अनुभवी लिएंडर पेस ने एशियाई खेलों के लिए भारतीय टेनिस टीम में वापसी की है जबकि देश के शीर्ष एकल खिलाड़ी युकी भांबरी को 12 सदस्ईय टीम से बाहर रखा गया है चूंकि उनका अमेरिकी ओपन खेलना लगभग तय है।
एशियाई खेलों में आठ पदक जीतने वाले पेस ने दोहा में 2006 एशियाई खेलों के बाद से इन खेलों में भाग नहीं लिया है। उन्होंने 2006 में महेश भूपति के साथ पुरूष युगल स्वर्ण और सानिया मिर्जा के साथ मिश्रित युगल स्वर्ण जीता था।
भारतीय टीम में छह महिला और छह पुरूष खिलाड़ी है जो इंडोनेशिया में 18 अगस्त से शुरू हो रहे एशियाई खेलों में भाग लेंगे।
युकी विश्व रैंकिंग में 94वें स्थान पर हैं जिनका अमेरिकी ओपन में खेलना लगभग तय है लिहाजा एआईटीए की चयन समिति ने उन्हें बाहर रहने की छूट दी है।
पालेंबांग में टेनिस स्पर्धाएं 19 से 25 अगस्त तक होंगी जबकि अमेरिकी ओपन 27 अगस्त से शुरू हो रहा है। समय के अभाव में यात्रा और रिकवरी करना कठिन हो जाता।
छह सदस्ईय टीम में तीन एकल विशेषज्ञ रामकुमार रामनाथन, प्रजनेश गुणेश्वरन और सुमित नागल है जबकि युगल विशेषज्ञ पेस, रोहन बोपन्ना और दिविज शरण भी टीम में हैं।
महिला टीम में एकल खिलाड़ी अंकिता रैना, करमन कौर थांडी, रूतुजा भोसले, प्रांजला यादलापल्ली, रिया भाटिया और प्रार्थना थोंबरे हैं।
जीशान अली टीम के कोच और पुरूष टीम के कप्तान होंगे। महिला टीम की कोच अंकिता भांबरी होंगी।
भारत के डेविस कप कोच महेश भूपति ने एशियाई खेलों के लिए जिम्मेदारी से फारिग करने का अनुरोध किया था जिसे एआईटीए ने मान लिया।
जीशान ने कहा कि खेलों के करीब आने पर ही वह खिलाडय़िों के फार्म और फिटनेस के आधार पर टीम संयोजन तय करेंगे।
तीन एकल खिलाड़ी रखने के बारे में जीशान ने कहा कि यदि किसी खिलाड़ी को चोट लग जाए तो सुमित एकल खेल सकता है और युगल भी। हमने चार युगल खिलाडय़िों के जरिए दो टीमें उतारने के विकल्प पर भी बात की लेकिन ए युगल खिलाड़ी एकल मुकाबले नहीं खेल सकते।
युकी के बारे में एआईटीए सचिव हिरण्यमय चटर्जी ने कहा कि आखिरी बार ग्रैंडस्लैम एकल खेलने वाला भारतीय खिलाड़ी सोमदेव देववर्मन था। अब युकी को मौका मिला है तो उसका साथ देना चाहिए।
पिछली बार आनंद अमृतराज और जीशान दोनों सहयोगी स्टाफ के रूप में गए थे लेकिन इस बार जीशान को ही यह जिम्मेदारी सौंपी गई है। इस बारे में पूछने पर चटर्जी ने कहा कि टीम की कुल संख्या का 20 प्रतिशत ही सहयोगी स्टाफ के रूप में जा सकता है। हमारे 12 खिलाड़ी जाएंगे जिसका 20 प्रतिशत तीन होता है। हमने उनसे दो कप्तानों और दो फिजियो को भी भेजने का अनुरोध किया।
पेस ने हिरोशिमा में 1994 में एकल कांस्य और पुरूष टीम स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता था। उन्होंने पुरूष युगल में तीन स्वर्ण (1994 में गौरव नाटेकर के साथ, 2002 और 2006 में भूपति के साथ) जीते। इसके अलावा मिश्रित युगल में सानिया मिर्जा के साथ 2002 में कांस्य और 2006 में स्वर्ण पदक भी जीता।

Read more...

जब हेडबट के साथ महानायक जिदान के कैरियर का हुआ दुखद अंत

पेरिस, चार जून ( एपी) फुटबाल से किसी महानायक की वैसी विदाई नहीं हुई होगी और ना ही कोई चाहेगा जैसी फ्रांस के महान फुटबालर जिनेदीन जिदान की रही।
अंतरराष्ट्रीय फुटबाल से संन्यास के फैसले को बदलकर कोच रेमंड डोमेनेक के कहने पर जर्मनी में 2006 में वह विश्व कप खेलने उतरे। इसके बाद सब कुछ सपने सरीखा रहा और टीम को वह फाइनल तक ले गए।
अंतिम 16 में स्पेन को हराने के बाद फ्रांस का सामना ब्राजील से था जिसे वह 1998 फाइनल में हरा चुकी थी। ब्राजील के पास रोनाल्डो, रोनाल्डिन्हो और काका जैसे खिलाड़ी थे और उसे हराना नामुमकिन सा लग रहा था।
जिदान की फ्रीकिक पर थियरे हेनरी ने फ्रांस के लिए गोल किया और टीम प्रबल दावेदार ब्राजील को हराकर सेमीफाइनल में पहुंच गई। जिजोउ की पेनल्टी ने टीम को अंतिम चार में भी जीत दिलाई।
दोनों मैचों में वह फ्रांस की जीत के सूत्रधार रहे और चिर परिचित करिश्माई फार्म में नजर आए। उस समय 34 बरस के जिदान का विश्व कप के साथ फुटबाल को अलविदा कहना तय लगने लगा था लेकिन नियति को कुछ और मंजूर था।
इटली के खिलाफ फाइनल में जिदान ने टीम को शुरूआती बढत दिलाई। इटली के लिए मार्काे मातेराज्जी ने 19 वें मिनट में बराबरी का गोल दागा। मैच पेनल्टी शूटआउट की तरफ बढता दिख रहा था। अतिरिक्त समय में कुछ ही पल बाकी थे और उसके बाद इन दोनों खिलाडय़िों के बीच जो हुआ, वह विश्व कप के इतिहास का काला अध्याय है।
टीवी कैमरे पहले उस घटना को कैद नहीं कर सके लेकिन अचानक मातेराज्जी मैदान पर गिरा हुआ दिखा। इसके बाद रिप्ले में पता चला कि उसने जिदान को कुछ कहा और फिर जिदान ने सिर से उसकी छाती पर प्रहार किया जो एक पेशेवर खिलाड़ी के तौर पर उसका आखिरी हेडर था।
जिदान को लालकार्ड देखना पड़ा और फ्रांस हार गया।
वह विश्व कप इटली की जीत से ज्यादा जिदान के उस हेडबट के लिए जाना जाता है।

Read more...
Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News