Menu

राष्ट्रमंडल खेलों से कैमरून के खिलाड़ी लापता

गोल्ड कोस्ट , संकटग्रस्त देश कैमरून के पांच खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया में चल रहे राष्ट्रमंडल खेलों से लापता हो गए हैं।
तीन भारोत्तोलक और दो मुक्केबाज मंगलवार से देखे नहीं गए हैं जिससे उनके वतन वापस ना लौटने के इरादे के साथ भागने का संदेह बढ़ गया है। ऑस्ट्रेलियाई पुलिस को मामले की जानकारी दे दी गई है।
कैमरून के मीडिया अधिकारी साइमन मोलोम्बे ने कहा कि वह यह जानकार हैरान हैं कि भारोत्तोलक ओलिवर माटम माटम , आर्केंजेलिन फौदजी एवं पेटिट मिन्कौंबा और मुक्केबाज क्रिस्टियन एन त्सोए एवं सिंप्लिस फोत्सला भाग गए।
उन्होंने कहा , हम काफी हैरान हैं। हमें बिल्कुल नहीं पता कि वे कहां गए। हमें इस तरह की घटना होने की आशंका नहीं थी।

स्वर्ण पदकों के प्रबल दावेदार में शुरूआत करेंगे भारतीय पहलवान
गोल्ड कोस्ट , 11 अप्रैल ( भाषा ) कई स्टार खिलाडय़िों से सजी भारतीय कुश्ती टीम राष्ट्रमंडल खेलों में अपने अभियान की कल से यहां शुरूआत करेगी जिसमें शुरू में ही दो बार के ओलंपिक चैंपियन सुशील कुमार (74 किग्रा ) अपना दमखम दिखाएंगे।
पहलवानों के लिए उसी स्थल को अखाड़ा बनाया गया है जहां भारोत्तोलकों ने नौ अप्रैल को अपना शानदार अभियान समाप्त किया था।
भारतीय भारोतोलकों ने पांच स्वर्ण , दो रजत और दो कांस्य पदक जीतकर यह स्थल छोड़ा था और पहलवानों को उम्मीद होगी कि वे इसकी बराबरी के बजाय इससे बेहतर प्रदर्शन करें।
भारतीय कोच कुलदीप सिंह ने यहां अभ्यास सत्र के बाद पीटीआई से कहा , हर किसी ने अपेक्षा लगा रखी है कि हम यहां स्वर्ण पदक जीतें और मैं आपको आश्वासन देता हूं कि ऐसा होने जा रहा है।
उन्होंने कहा , कल हमारा शीर्ष पहलवान सुशील मुकाबले में उतरेगा। उनकी फिटनेस बहुत अच्छी है।
खेलों के लिए सुशील की तैयारी बहुत अच्छी नहीं रही और उन्हें चयन विवाद में भी घसीटा गया था जब उनके समर्थक और उनके प्रतिद्वंद्वी प्रवीण राणा के प्रशंसक ट्रायल के दौरान आपस में भिड़ गए थे। यह देखना दिलचस्प होगा कि सुशील प्रतियोगिता से पहले के इस दबाव से कैसे पार पाते हैं।
सुशील के अलावा पुरूष वर्ग में राहुल अवारे भी पहले दिन ही अखाड़े में उतरेंगे। यह 57 किग्रा फ्रीस्टाइल का पहलवान राष्ट्रमंडल चैंपियनशिप का पूर्व स्वर्ण पदक विजेता है।
भारत ने 2014 ग्लास्गो खेलों में कुश्ती में पांच स्वर्ण , छह रजत और दो कांस्य पदक सहित 13 पदक जीते थे। शीर्ष पर रहे कनाडा से उसे एक पदक कम मिला था।
कुलदीप सिंह ने कहा , निश्चित तौर हम ग्लास्गो से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद कर रहे हैं। हमारा लक्ष्य खेलों का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना है। महिला ड्रा में नाईजीरिया के पास कुछ दमदार पहलवान हैं। कनाडा भी चुनौती पेश करेगा लेकिन कोई भी इतना मजबूत नहीं है जो हमें अधिक से अधिक स्वर्ण पदक बटोरने से रोक सके।

DNR Reporter

DNR desk

Leave a comment

Make sure you enter the (*) required information where indicated. HTML code is not allowed.

back to top

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News