Menu

top banner

बेंगलुरू ने जीता टॉस, पंजाब करेगा पहले बल्लेबाजी Featured

इंदौर: रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू ने टॉस जीतकर किंग्स इलेवन पंजाब को पहले बल्लेबाजी करने का न्यौता दिया। बेंगलुरू की नजरें जीत हासिल करके अगले दौर में पहुंचने की कुछ संभावना बरकरार रखने पर लगी होंगी। आरसीबी को दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ पांच विकेट की जीत से कुछ राहत मिली जबकि शुरूआती चरण में शानदार प्रदर्शन करने वाली किंग्स इलेवन पंजाब लगातार हार के बाद जूझती नजर आ रही है। राजस्थान रॉयल्स और कोलकाता नाइटराइडर्स से मिली हार के बावजूद किंग्स इलेवन पंजाब 12 अंक लेकर तीसरे स्थान पर है जबकि रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर अब भी तालिका में नीचे से दूसरे स्थान पर जूझ रही है।

बेंगलुरु की टीम पंजाब पर बनाना चाहेगी दबाव
आईपीएल में हालांकि टूर्नामेंट के अंत में अजीबोगरीब उलटफेर हुए हैं और विराट कोहली की अगुवाई में बेंगलूर की टीम पंजाब पर दबाव बनाना चाहेगी। कोहली और एबी डिविलियर्स के शानदार अर्धशतकों से बेंगलूर ने दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ आसानी से लक्ष्य हासिल कर लिया। वहीं केकेआर के सुनील नारायण और दिनेश कार्तिक ने पंजाब के गेंदबाजों की धज्जियां उड़ाते हुए 245 रन का विशाल स्केार खड़ा किया। दोनों टीमें अपनी बल्लेबाजी पर काफी निर्भर हैं जिसमें बेंगलूर की जिम्मेदारी कोहली और डिविलियर्स के कंधों पर है तो वहीं प्रीति जिंटा की टीम लोकेश राहुल (537 रन ) और क्रिस गेल (332 रन ) पर निर्भर है। कप्तान कोहली 11 मैचों में 466 रन से टीम के शीर्ष स्कोरर हैं तो वहीं डिविलियर्स उनसे 108 रन पीछे (358 रन ) हैं , हालांकि उन्होंने दो मैच कम खेले हैं। मंदीप सिंह (11 मैचों में 245 रन ) सूची में तीसरे स्थान पर हैं।

राहुल कर रहे हैं शानदार प्रदर्शन
पंजाब के लिए राहुल का प्रदर्शन लाजवाब रहा है, जिन्होंने 162 से ज्यादा के स्ट्राइक रेट से पांच अर्धशतक लगाए हैं और उनका औसत 60 के करीब है। राहुल उम्मीद करेंगे कि गेल दूसरे छोर पर उनका पूरा साथ निभायें जिनका बल्ला शुरू में धमाल करने के बाद थोड़ा शांत हैं। गेल के तेजी से बनाए गए 50 रन पूरे खेल का रूख बदल सकते हैं। हालांकि दोनों टीमों को कई मौकों पर अपनी गेंदबाजी ने निराश किया है। पंजाब के लिए सबसे बेहतरीन गेंदबाज एंड्रयू टाई रहे हैं जिन्होंने 20 विकेट ( आठ के इकोनोमी रेट से ) झटके हैं जबकि युवा रहस्यमयी स्पिनर मुजीबुर रहमान ने 14 विकेट प्राप्त किए हैं जिसमें उनका इकोनोमी रेट 6.99 प्रति ओवर रहा है। उनके लिए समस्या कप्तान आर अश्विन का विकेट हासिल नहीं कर पाना है , जिन्होंने 11 मैचों में 8.13 रन प्रति ओवर से केवल छह विकेट झटके हैं।

पंजाब के गेंदबाजों को लगाना होगा पूरा जोर
वहीं फ्रेंचाइजी ने जिस एकमात्र खिलाड़ी अक्षर पटेल को रिटेन किया था, उसका प्रदर्शन काफी खराब रहा है। उसे पांच मैचों में मौका मिला जिसमें से उसने केवल तीन विकेट प्राप्त किए। टाई के सहायक तेज गेंदबाज बरिंदर सरन ( चार विकेट ) और मोहित शर्मा ( छह विकेट ) का प्रदर्शन निराशाजनक रहा है। बेंगलूर के लिए कोहली का लगभग प्रत्येक मैच में गेंदबाजी संयोजन में बदलाव करने का असर उनके प्रदर्शन पर पड़ा है। केवल युजवेंद्र चहल और उमेश यादव ने ही सभी मैच खेले हैं। चहल ने 11 मैचों में 10 जबकि यादव ने इतने मैचों में 14 विकेट प्राप्त किए हैं। मोहम्मद सिराज ने आठ मैच खेलकर आठ विकेट प्राप्त किए। चहल को छोड़कर स्पिनर फ्लाप रहे हैं। वाशिंगटन सुंदर और पवन नेगी के प्रदर्शन से कोहली एंड कंपनी की उम्मीदों पर बुरा असर पड़ा। क्रिस वोक्स को पांच मैचों में 10.36 के इकोनोमी रेट से आठ विकेट मिले जिससे कप्तान को टिम साउदी ( पांच मैच में पांच विकेट ) को इस्तेमाल करना पड़ा।

DNR Reporter

DNR desk

Leave a comment

Make sure you enter the (*) required information where indicated. HTML code is not allowed.

back to top

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News