Menu

टेक्नालजी (484)

कमजोर वैश्विक रुख से कच्चा तेल वायदा भाव में गिरावट

नई दिल्ली , 23 जुलाई (भाषा) एशियाई बाजारों में कमजोर रुख के बीच सटोरियों के सौदे कम करने से वायदा कारोबार में आज कच्चे तेल की कीमत 15 रुपए गिरकर 4,692 रुपए प्रति बैरल रह गई।
एमसीएक्स में अगस्त कच्चा तेल 15 रुपए यानी 0.32 प्रतिशत की गिरावट के साथ 4,692 रुपए प्रति बैरल पर रहा। इसमें।,509 लॉट का कारोबार हुआ।
इसी प्रकार , सितंबर कच्चा तेल 2 रुपए यानी 0.04 प्रतिशत गिरकर 4,610 रुपए प्रति बैरल रह गया। इसमें 67 लॉट का कारोबार हुआ।
बाजार विश्लेषकों ने कहा कि सटोरियों की मुनाफावसूली के अलावा कमजोर एशियाई रुख से वायदा कारोबार में कच्चे तेल की कीमतें में दबाव रही।
वैश्विक स्तर पर , न्यूयार्क मर्केन्टाइल एक्सचेंज में कच्चा तेल के वेस्ट टैक्सास इंटरमीडिएट (डल्यूटीआई) की कीमत 9 सेंट यानी 0.13 प्रतिशत गिरकर 68.17 डॉलर प्रति बैरल रही जबकि ब्रेंट क्रूड की कीमत 7 सेंट यानी 0.10 प्रतिशत गिरकर 73 डॉलर प्रति बैरल रह गई।

Read more...

मुनाफावसूली से मेंथा तेल वायदा भाव गिरा

नई दिल्ली , 23 जुलाई (भाषा) हाजिर बाजार में मांग में गिरावट के बीच मौजूदा स्तर पर सटोरियों की मुनाफावसूली से वायदा कारोबार में आज मेंथा तेल 1.73 प्रतिशत गिरकर।,552.20 रुपए प्रति किलोग्राम रहा।
इसके अलावा , पर्याप्त स्टॉक के बीच चंदौसी से उच्च आपूर्ति ने भी मेंथा तेल पर दबाव डाला।
मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में , मेंथा तेल जुलाई 27.40 रुपए यानी 1.73 प्रतिशत गिरकर।,552.20 रुपए प्रति किलोग्राम रहा। इसमें 214 लॉट का कारोबार हुआ।
इसी प्रकार , मेंथा तेल अगस्त 23.20 रुपए यानी 1.46 प्रतिशत की गिरावट के साथ।,578 रुपए प्रति किलोग्राम पर रहा। इसमें 352 लॉट का कारोबार हुआ।
विश्लेषकों ने कहा कि प्रतिभागियों की मुनाफावसूली , उपभोक्ता उद्योग से मांग में गिरावट और पर्याप्त स्टॉक से वायदा कारोबार में मेंथा तेल पर दबाव रहा।

Read more...

वैश्विक रुख से सोना वायदा भाव मामूली चढ़ा

नई दिल्ली , 23 जुलाई (भाषा) मजबूत वैश्विक रुख के बीच कारोबारियों के सौदे बढ़ाने से आज वायदा कारोबार में सोना मामूली चढ़कर 30,188 रुपए प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया।
मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में , सोना अक्तूबर 11 रुपए यानी 0.04 प्रतिशत की बढ़त के साथ 30,188 रुपए प्रति दस ग्राम हो गया। इसमें 22 लॉट का कारोबार हुआ।
इसी प्रकार , सोना अगस्त 7 रुपए यानी 0.02 प्रतिशत बढ़कर 29,927 रुपए प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया। इसमें 277 लॉट का कारोबार हुआ।
विश्लेषकों ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्ंरप के फेडरल रिजर्व की ब्याज दर बढ़ाने की नीति की आलोचना करने के बाद डॉलर में कमजोरी आई , जिससे वैश्विक स्तर पर सोने में मजबूत रुख रहा। इसका असर वायदा कारोबार में सोने की कीमतों पर भी दिखा।
इस बीच , सिंगापुर में सोना 0.20 प्रतिशत बढ़कर।,234.24 डॉलर प्रति औंस रहा।

Read more...

जेएमसी प्रोजेक्ट्स को 556 करोड़ रुपए के ठेके मिले

नई दिल्ली , 23 जुलाई (भाषा) इंजीनियरिंग और ईपीसी फर्म जेएमसी प्रोजेक्ट्स इंडिया को घरेलू बाजार में 556 करोड़ रुपए के ठेके मिले हैं। कंपनी ने आज यह जानकारी दी।
जेएमसी प्रोजेक्ट्स ने शेयर बाजार को बताया कि कंपनी को ओडिशा में पानी की पाइपलाइन बिछाने के लिए 283 करोड़ रुपए का ठेका मिला है।
इसके अलावा , उसे बिहार की नालंदा विश्वविद्यालय में आवासीय इमारत के निर्माण और उससे जुड़े बुनियादी ढांचे के विकास कार्यों के लिए 273 करोड़ रुपए का ठेका मिला है।
जेएमसी प्रोजेक्ट्स इंडिया कल्पतरु पावर ट्रांसमिशन की शाखा है।

Read more...

जीएसटी परिषद के दरें घटाने के बाद सेंसेक्स 100 अंक उछला

मुंबई , 23 जुलाई (भाषा) जीएसटी परिषद द्वारा कई घरेलू सामानों पर जीएसटी की दर कम करने के बाद एफएमसीजी कंपनियों के शेयरों में तेजी से बंबई शेयर बाजार का प्रमुख सेंसेक्स आज शुरुआती कारोबार में 100 अंक से ज्यादा चढ़ा। इसके अलावा , विदेशी निवेशकों के पूंजी निवेश और शरुआती कारोबार में डॉलर में मजबूती से भी बाजार को समर्थन मिला।
बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक आज शुरुआती कारोबार में 114.10 अंक यानी 0.31 प्रतिशत बढ़कर 36,610.47 अंक पर पहुंच गया। पिछले कारोबारी सत्र में सेंसेक्स 145.14 अंक चढ़कर बंद हुआ थ।
वहीं , नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी शुरुआती दौर में 42.60 अंक यानी 0.39 प्रतिशत की बढ़त के साथ 11,052.80 अंक पर पहुंच गया।
ब्रोकरों ने कहा कि जीएसटी परिषद द्वारा शनिवार को जूते - चप्पल , रेफ्रिजरेटर , वॉशिंग मशीन और छोटी स्क्रीन के टीवी समेत अन्य वस्तुओं पर कर की दरें कम करने से निवेशकों की धारणा को बल मिला। सैनेटरी नैपकिन को जीएसटी से छूट दी गई है।
संशोधित कर की दरें 27 जुलाई से प्रभावी होंगी।
इस बीच , रुपया आज शुरुआती कारोबार में डॉलर के मुकाबले 19 पैसे मजबूत होकर 68.65 रुपए प्रति डॉलर पर पहुंच गया।
हालांकि , अन्य एशियाई बाजारों में मिला - जुला रुख रहा। जापान का निक्केई सूचकांक 1.27 प्रतिशत नीचे रहा और हांगकांग का हेंग सेंग सूचकांक शुरुआती कारोबार में 0.09 प्रतिशत गिरा। शंघाई कंपोजिट सूचकांक 0.37 प्रतिशत ऊपर रहा।

Read more...

डॉलर के मुकाबले रुपया शुरुआती कारोबार में 19 पैसे मजबूत

मुंबई , 23 जुलाई (भाषा) विदेशी पूंजी निवेश के बीच वैश्विक स्तर पर अमेरिकी मुद्रा के कमजोर होने से अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में रुपया आज शुरुआती कारोबार में डॉलर के मुकाबले 19 पैसे मजबूत होकर 68.65 रुपए प्रति डॉलर पर पहुंच गया।
मुद्रा डीलरों ने कहा कि निर्यातकों और बैंकों की ओर से अमेरिकी मुद्रा की बिकवाली और घरेलू शेयर बाजार की शुरुआती बढ़त से रुपए में तेजी आई।
इसके अलावा , अन्य प्रमुख विदेशी मुद्राओं के मुकाबले डॉलर में गिरावट से भी तेजी को समर्थन मिला।
शुक्रवार के कारोबारी दिन में रुपया डॉलर के मुकाबले 21 पैसे सुधरकर 68.84 रुपए प्रति डॉलर पर बंद हुआ था।
इस बीच , बंबई शेयर बाजार का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स आज शुरुआती कारोबार में 79.40 अंक यानी 0.21 प्रतिशत की बढ़त के साथ 36,575.77 अंक पर पहुंच गया।
अस्थाई आंकड़ों के मुताबिक , शुक्रवार को विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने 310.27 करोड़ रुपए के शेयरों की खरीदी की।

Read more...

बढ़ता व्यापार और भूराजनीतिक तनाव आर्थिक वृद्धि के लिए जोखिम: जी-20

ब्यूनस आयर्स(अर्जेंटिना) , 23 जुलाई (एएफपी) व्यापार मोर्चे पर बढ़ते तनाव और भू - राजनीतिक तनाव को लेकर आज जी 20 समूह के वित्त मंत्रियों ने चेतावनी दी कि इससे वैश्विक आर्थिक वृद्धि संकट में पड़ जाएगी।
उन्होंने जोखिम टालने के लिए परस्पर बातचीत तेज कर के विश्वास स्थापित करने पर बल दिया है। यहां जी -20 शिखर सम्मेलन के समापन पर जारी बयान में यह बात कही गई है। बैठक में वैश्वि स्तर पर व्यापारिक तनाव बढऩे की आशंका छाई रही लेकिन बयान में अमेरिका का उल्लेख नहीं जिक्र नहीं किया गया है जो इस समय उत्तरी अमेरिका और यूरोपीय देशों तथा चीन के साथ व्यापारिक विवाद में उलझा हुआ है।
अमेरिका का उल्लेख नहीं होने के बावजूद यह बयान जी20 के मार्च के बयान की तुलना में मजबूत है। उस बयान में इस मुद्दे के उल्लेख से बचा गया था।
बयान में कहा गया है कि जी -20 देशों के मंत्रियों ने वर्तमान में वैश्विक वृद्धि को ै मजबूत ै बताया लेकिन ै अल्पकालिक और मध्यकालिक ै अवधि में जोखिम बढऩे की चेतावनी दी।
अमेरिका द्वारा यूरोपीय संघ और चीन के अलावा अन्य देशों पर शुल्क लगाने से उत्पन्न तनाव के बीच जी -20 देशों के मंत्रियों और केंद्रीय बैंक के प्रमुखों की यह बैठक हुई है।
ट्रंप की संरक्षणवादी नीतियों की आलोचना ने उस समय जोर पकड़ा जब यूरोपीय संघ के वित्तीय मामलों के आयुक्त पियरे मोस्कोविकी ने अमेरिका से ै शत्रु नहीं बल्कि सहयोगी ै की तरह कार्य करने की अपील की। फ्रांस के वित्त मंत्री ब्रूनो ले माइरे ने अमेरिका की व्यापार कार्वाइयों की निंदा की है और अमेरिका को पहले इसे कम करने को कहा है।
वहीं , अंतरराष्ट्रीय मुद्रा की कोष की प्रमुख क्रिस्टीन लगार्ड ने जवाबी शुल्क लगाने की आलोचना की और व्यापार मोर्चे से जुड़े विवादों को अंतरराष्ट्रीय सहयोग से सुलझाने का आग्रह किया है।
घोषणा पत्र में जी20 ने मार्च के इस प्रतिबद्धता को दोहराया है कि सदस्य देश बाजार प्रतिस्पर्धा में आगे निकलने केलिए अपनी मुद्राओं के अवमूल्यन की होड़ से बचेंगे।

Read more...

शिमला की पहाडय़िों में घर बनाने के लिए 700 करोड़ रुपए का निवेश करेगी अमिला ग्रुप

नई दिल्ली , 23 जुलाई (भाषा) जमीन जायदाद के विकास से जुड़ी कंपनी अमीला ग्रुप शिमला में आलीशान आवासीय परियोजना विकसित करने के लिए अगले आठ वर्ष में करीब 700 करोड़ रुपए का निवेश करेगी।
पहाड़ी क्षेत्रों में आवासों की बढ़ती मांग को देखते हुए अमीला ग्रुप ने शिमला की उत्तरी भाग (रिज) में 54 एकड़ भूमि का अधिग्रहण किया। जिस पर उसकी योजना 250 विला और 150 स्टूडियो अपार्टमेंट बनाने की है। इसके अलावा वह एक पांच सितारा होटल भी यहां बनाएगी।
कंपनी के प्रबंध निदेशक यश पाल अग्निहोत्री ने कहा , ै पिछले महीने हमने अमीला हिल्स परियोजना पेश की। इस पर निर्माण कार्य भी शुरू हो चुका है। ै
परियोजना में आवास की कीमत एक करोड़ रुपए से आठ करोड़ रुपए के बीच होगी।
निवेश के बारे में पूछने पर अग्निहोत्री ने कहा कि इस परियोजना की अनुमानित लागत करीब 700 करोड़ रुपए है। इसके लिए पूंजी का इंतजाम आंतरिक संसाधनों , बैंक से कर्ज और ग्राहकों से अग्रिम रकम के माध्यम से की जाएगी।

Read more...

एयरसेल-मैक्सिस मामले में अग्रिम जमानत के लिए अदालत पहुंचे चिदंबरम

नई दिल्ली , 23 जुलाई (भाषा) एयरसेल - मैक्सिस मामले में अग्रिम जमानत के लिए पूर्व वित्त मंत्री पी . चिदंबरम ने दिल्ली की एक अदालत में आज अर्जी दी। विशेष सीबीआई न्यायाधीश ओ . पी . सैनी अर्जी पर अपराह्न दो बजे सुनवाई करेंगे। सीबीआई ने एयरसेल - मैक्सिस मामले में 19 जुलाई को दायर आरोपपत्र में चिदंबरम और उनके पुत्र कार्ति चिदंबरम को नामित किया है। एजेंसी ने विशेष न्यायाधीश के समक्ष पूरक आरोपपत्र दायर किया है , जिसपर 31 जुलाई को सुनवाई होनी है। सीबीआई इस बात की जांच कर रही है कि तत्कालीन वित्त मंत्री चिदंबरम ने कैसे 2006 में एक विदेश कंपनी को विदेशी निवेश प्रोमोशन बोर्ड (एफआईपीबी) की अनुमति दे दी जबकि ऐसा करने का अधिकार सिर्फ मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति के पास है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता 3,500 करोड़ रुपए के एयरसेल - मैक्सिस सौदे और 305 करोड़ रुपए के आईएनएक्स सौदा मामले में एजेंसियों की जांच के दायरे में हैं। एयरसेल - मैक्सिस से जुड़े धन शोधन के एक अलग मामले की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय ने भी चिदंबरम और कार्ति से पूछताछ की है। चिदंबरम और कार्ति दोनों ने ही सीबीआई तथा प्रवर्तन निदेशालय के आ रोपों से इनकार किया है।

Read more...

रास में उठी धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य और बढ़ाने की मांग

नई दिल्ली, 23 जुलाई (भाषा) धान के न्यूनतम समर्थन मूल्य में हाल ही में की गई वृद्धि को अपर्याप्त बताते हुए अन्नाद्रमुक की एक सदस्य ने आज सरकार से इसे 50 फीसदी तक बढ़ाने और किसानों की उपज की 100 फीसदी खरीद सुनिश्चित करने का अनुरोध किया। शून्यकाल में अन्नाद्रमुक की विजिला सत्यनाथन ने यह मुद्दा उठाते हुए कहा कि भाजपा ने अपने चुनावी घोषणापत्र में किसानों की आय दोगुना करने, उन्हें उनकी उपज का उचित मूल्य दिलाने और न्यूनतम समर्थन मूल्य में 50 फीसदी की वृद्धि करने का वादा किया था। उन्होंने कहा कि चार जुलाई को खरीफ की फसल के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य में 13 फीसदी की वृद्धि की घोषणा की गई जबकि सरकार ने वादा 50 फीसदी का किया था। 13 फीसदी की वृद्धि किसानों की समस्याओं को देखते हुए पर्याप्त नहीं है। न्यूनतम समर्थन मूल्य में केवल 200 रूपए ही बढ़ाए गए और अब यह।,750 रूपए प्रति क्विंटल हो गया है। तमिलनाडु में प्रति एकड़ उत्पादन लागत की 20,000 रूपए आती है। इसके अलावा, कृषि संबंधी उपकरण भी महंगे हैं। ऐसे में किसान कैसे अन्न उत्पादन कर पाएगा। विजिला ने स्वामीनाथन समिति की सिफारिशों को तत्काल लागू किए जाने की मांग करते हुए कहा कि धान का न्यूनतम मूल्य 50 फीसदी तत्काल बढ़ाना चाहिए। साथ ही सरकार को यह भी सुनिश्चित करना चाहिए कि वह किसानों का 25 फीसदी धान खरीदने के बजाय 100 फीसदी धान खुद खरीदे। विभिन्न दलों के सदस्यों ने इस मुद्दे से स्वयं को संबद्ध किया।

Read more...
Subscribe to this RSS feed

Bikaner Trusted News Portal

  • Bikaner Local News
  • National News
  • Sports News
  • Bikaner Events
  • Rajasthan News